Array Declaration in C++

CPP Programming Language in Hindiये Article इस वेबसाईट पर Selling हेतु उपलब्‍ध EBook C++ Programming Language in Hindi से लिया गया है। इसलिए यदि ये Article आपके लिए उपयोगी रहा, तो निश्चित रूप से ये पुस्तक भी आपके लिए काफी उपयोगी साबित होगी। 

C++ Programming Language in Hindi | Page: 666 | Format: PDF

BUY NOW DOWNLOAD READ ONLINE

Array Declaration in C++ Programming Language: जब हमें एक ही प्रकार के बहुत से Data को Combine करके उन पर प्रक्रिया करनी होती है तब Array को Use किया जाता है। Array Data को Store करने व Process करने का सबसे सरल Data Structure है। Strings वास्तव में एक Characters का Array होता है।

Array की एक सबसे बडी कमी ये है कि हम इसमें केवल एक ही तरह के Data को Store कर सकते हैं। हालांकि दूसरे Data Type के Data को Store करने के लिए हम दूसरे Data Type के Array का प्रयोग कर सकते हैं और विभिन्न प्रकार के Data को एक Group के रूप में Store करने के लिए हम Structures का प्रयोग कर सकते हैं।

Array एक ऐसा तरीका है जिसमें हम एक ही Data Type के कई Data को एक साथ एक Group के रूप में रख सकते हैं और उनके साथ विभिन्न प्रकार की प्रक्रिया कर सकते हैं। Array इसलिए भी महत्वपूर्ण हैं क्योंकि Array में Stored किसी भी Data को हम किसी भी समय अपनी आवश्‍यकतानुसार Array के Index Number का प्रयोग करके Access कर सकते हैं और हम Array में Stored सभी मानों को क्रम से एक Cycle के रूप में भी Access कर सकते हैं।

Defining an Array – Array Declaration in C++

जब हम एक ही प्रकार के बहुत से Data को Memory Allocate करके उन्हें Access करना चाहते हैं तब बहुत से Variables Create करने के बजाय हम उस अमुक Data Type का एक Array Create कर लेते हैं।

उदाहरण के लिए मानलो कि हमें किसी Variable में नाम Store करना है। चूंकि हम जानते हैं कि char प्रकार के Data Type का एक Variable केवल एक ही Character को Hold कर सकता है जबकि एक नाम में एक से अधिक Characters होते हैं। इस स्थिति में हम Character प्रकार का एक Array Create कर लेते हैं। ये काम हम निम्नानुसार कर सकते हैं:

char Name[10];

ये Statement “C++” के Compiler को बताता है कि उसे Memory में दस Characters Store कर सकने लायक Memory Reserve करनी है और उस Allocated या Reserved Memory Location का नाम Name रखना है। चूंकि एक Character, Memory में एक Byte लेता है और एक Byte में एक Character Store कर सकता है, इसलिए दस Characters Store करने के लिए Memory में दस Bytes की Space Reserve हो जाती है।

एक बात ध्‍यान रखने वाली ये है कि यदि हम 10 Characters Store करने के लिए Character प्रकार का Array Declare कर रहे हैं, तो हमें Statement में 10 के बजाय 11 लिखना होता है। ऐसा इसलिए क्योंकि किसी भी Array में हमेंशा एक स्थान किसी String के Termination को बताने के लिए Null Character Store करता है। यानी यहां हमने 10 Character Store करने के लिए char Name[10]; लिखा है।लेकिन हम इस Array में केवल 9 Character ही Store कर सकते हैं। एक Character Null Value के लिए Reserve रहता है। इसी प्रकार से यदि हम Memory में 10 Integer मानों को Store करना चाहते हैं तो हमें निम्नानुसार Statement लिखना होगा:

int RollNumber[10];

इस Array में हम दस Students के Roll Numbers Store कर सकते हैं। यदि हम यहां Array Create ना करें और हमें दस Students के Roll Number Memory में Store करने हों,  तो हमें Integer प्रकार के दस Variable Create करने होंगे जो कि काफी असुविधाजनक काम है। जब हम ये Statement लिखते हैं तब Compiler Memory में 20 Bytes की Space Reserve करता है और उस Space का नाम RollNumber रख देता है।

यहां ये बात ध्‍यान रखने वाली है कि हर Integer प्रकार के मान को प्राप्त करने या Store करने के लिए हम Array के Index Number का प्रयोग करते हैं। Array के पहले Index का Number हमेंशा 0 से शुरू होता है और अन्तिम Element का Number हमेंशा n-1 होता है।

यहां हमने दस Integer मानों को Store करने के लिए जो Array Create किया है उसके पहले Element को Access करने के लिए हमें इस Array के Index Number 0 का प्रयोग करना होगा और अन्तिम Element को Access करने के लिए हमें Index Number 9 का प्रयोग करना होगा।

यानी यदि हम इस Array के पहले Element पर Roll Number 100, दूसरे Element पर Roll Number 101 व इसी क्रम में आगे भी Roll Number Store करना चाहते हैं तो हमें निम्नानुसार ये काम करना होगा:

RollNumber[0] = 100;
RollNumber[1] = 101;
RollNumber[2] = 102;
RollNumber[3] = 103;
RollNumber[4] = 104;
RollNumber[5] = 105;
RollNumber[6] = 106;
RollNumber[7] = 107;
RollNumber[8] = 108;
RollNumber[9] = 109;

इसे हम निम्नानुसार चित्र से भी दर्शा सकते हैं जहां Element 100 Index Number 0 पर व Element 109 Index number 9 पर स्थित है:

Array Declaration in C++ Programming Language

Array Declaration in C++ Programming Language

इस तरह से हम दस Students के Roll Numbers को इस Array में Store कर सकते हैं।

हम देख सकते हैं कि Array वास्तव में समान नाम लेकिन अलग Index Number का एक Variable होता है जो एक ही Statement में एक से अधिक Variables Create करता है। Array हमेंशा एक Continuous Memory Location के रूप में ही Memory में Space Reserve करता है।

हम किसी Data Type यहां तक कि User Defined Data Type का भी Array Create कर सकते हैं। जैसे

Time DispatchTime[4] ;

ये Statement Time प्रकार का एक Array Create करेगा जिसमें हम चार Time मान Store करके रख सकते हैं। हम जानते हैं कि Time एक User Defined Data Type है जिसे हमने पिछले पन्नों में Create किया है। यानी हम किसी भी प्रकार का Array Create कर सकते हैं और उसे Manipulate कर सकते हैं। यदि हमें किसी Array के किसी Element को Output में Print करना हो या दो Elements को आपस में जोडना हो तो हमें दोनों Elements जिस Index Number पर हैं उस Index number से उन मानों को Access करना होगा।

जैसे यदि हम चाहें कि इस Array के मान 100 को 109 से जोड कर उस स्थान पर Store कर दें जहां पर अभी 105 है तो हमें निम्न Statement लिखना होगा:

RollNumber[5] =  RollNumber[0] + RollNumber[9];

RollNumber Array के Index Number 0 पर मान 100 स्थित है और Index Number 9 पर मान 109 है। इसलिए इन दोनों को जोडने के लिए हमें इनके Index Number से इन मानों को Access करना होता है। ये Statement Execute करने के बाद अब हमारे Array में निम्नानुसार मान होंगे-

Array Declaration in C++ Programming Language

Array Declaration in C++ Programming Language

इसी तरह यदि हम इस Array के Index Number 5 के मान को Screen पर Print करना चाहें तो हमें निम्नानुसार Statement लिखना होगा:

cout << “The Value of Index Number 6 is ” << RollNumber[5];

सामान्‍यतया किसी Array में मानों को Input करने के लिए व किसी Array से क्रम से मानों को वापस प्राप्त करने के लिए हम Loop का प्रयोग कर सकते हैं। जैसे Roll Number Array में हम निम्नानुसार for Loop का प्रयोग करके मानों को Insert कर सकते हैं:

for ( int I = 0; I< 10; I++ )
{
	cout << “Enter the value of element “ << I  << “ : “ ;
	cin >> RollNumber[I];
}

ये Statement Execute होने पर निम्नानुसार User से Interact करता है:

Enter the value of element 0: 100   <--User enters 100, 101, etc.
Enter the value of element 1: 101
Enter the value of element 2: 102
Enter the value of element 3: 103
Enter the value of element 3: 104
Enter the value of element 3: 105
Enter the value of element 3: 106
Enter the value of element 3: 107
Enter the value of element 3: 108
Enter the value of element 3: 109

अगले Article में हम Array को Initialize करने के विषय में विस्‍तार से जानेंगे।

Advantages of OOPS Concepts
Array Initialization in C++ Programming Language

CPP Programming Language in Hindiये Article इस वेबसाईट पर Selling हेतु उपलब्‍ध EBook C++ Programming Language in Hindi से लिया गया है। इसलिए यदि ये Article आपके लिए उपयोगी रहा, तो निश्चित रूप से ये पुस्तक भी आपके लिए काफी उपयोगी साबित होगी। 

C++ Programming Language in Hindi | Page: 666 | Format: PDF

BUY NOW DOWNLOAD READ ONLINE

Download All Hindi EBooks

सभी हिन्दी EBooks C, C++, Java, C#, ASP.NET, Oracle, Data Structure, VB6, PHP, HTML5, JavaScript, jQuery, WordPress, etc... के DOWNLOAD LINKS प्राप्‍त करें, अपने EMail पर।

Register करके Login करें। इस Popup से छुटकारा पाएें।