Think 10 times more before buying Cheap Hosting Plans

WordPress in Hindi - BccFalna.comये Article इस वेबसाईट पर Selling हेतु उपलब्‍ध EBook WordPress in Hindi से लिया गया है। इसलिए यदि ये Article आपके लिए उपयोगी रहा, तो निश्चित रूप से ये पुस्तक भी आपके लिए काफी उपयोगी साबित होगी। 

WordPress in Hindi | Page: 420 | Format: PDF

BUY NOW DOWNLOAD READ ONLINE

Cheap Hosting Plans: एक कहावत आपने भी सुनी होगी कि:

महंगा रोवे एक बार, सस्ता रोवे बार-बार।

और ये कहावत बिल्कुल सही है, क्योंकि Free Web Host पर अपनी Website को Host करना उतना ही तकलीफ-देह होता है, जितना सस्ते Host पर अपनी Website को Host करना और मैंने भी ये गलती की थी जिसकी सजा भी पाई। मैंने अपने पिछले Article में Discuss किया था कि किस तरह से Blogger जैसे Free Hosting Platform से Self Hosted Plan पर Switch करते हुए मैंने हजारों रूपयों का Direct व Indirect नुकसान उठाया था। लेकिन वो मेरे Online Business को Establish करते समय की गई आखिरी गलती नहीं थी। क्‍योंकि जब मैं Blogger से अपनी Website को एक एक Paid Hosting Server पर Shift कर रहा था, तब फिर मैंने वही गलती की जो पहले की थी यानी फिर मैंने लालच किया मात्र 1500/- रूपए सालाना का और परिणामस्वरूप फिर नुकसान उठाया और इस बार का नुकसान हजारों का नहीं बल्कि लाख रूपए से ज्‍यादा का था।

जब मैं Paid Hosting Search कर रहा था, तब मेरी Most Priority यही थी कि मैं सस्ते से सस्ते Hosting Provider से Hosting Space खरीदूं और जहां तक हो सके, वह Hosting Provider INDIA का हो तो और भी अच्छा। परिणामस्वरूप काफी Search करने के बाद मुझे एक Indian Hosting Provider मिला जिस पर अपनी Website को मैंने लगभग 18 महीने Host किया और काफी दु:ख उठाया। क्योंकि सस्ते Hosting Provider वास्तव में स्वयं Host नहीं होते बल्कि किसी Actual Host के Reseller होते हैं और सस्से से सस्ता Package Provide करने के लिए वे एक ही Reseller Account पर 1000 या उससे भी ज्‍यादा Websites को Place कर देते हैं।

सामान्‍यत: Simple Websites में 10 – 20 Webpages तक होते हैं, इसलिए Website की Size काफी छोटी होने की वजह से एक ही Reseller Plan में सस्ते Packages के रूप में 1000 Websites को समान Server पर Shared Hosting के रूप में आसानी से Host किया जा सकता है, लेकिन BccFalna.com एक ऐसी Website है, जिसे Blogger से Paid Hosting पर Move करते समय भी उसमें 400 से ज्‍यादा Articles थे। इसलिए किसी सस्ते Plan वाले Hosting Provider के लिए तो स्वयं BccFalna.com अकेले ही 20 से 40 Websites के समान थी। जिसे सस्से Hosting Provider के Reseller Plan में लगभग 1000 अन्‍य छोटी-मोटी Websites के साथ Host कर दिया गया।

परिणामस्वरूप हर दूसरे दिन इस Website में किसी न किसी प्रकार का Issue Generate होने लगा और मेरा ज्‍यादातर समय कोई और नया Article लिखने या नई Ebook Create करने के स्थान पर अपनी Website को दुरूस्त करने और अपनी Website को Normal तरीके से Run करने के लिए अपने Reseller Hosting Provider से Support Tickets के माध्‍यम से Discussion करने में ही जाने लगा।

यकीन मानिए, 18 महीनों में मैंने लगभग 40 Support Tickets Open किए और हर Support Ticket में कम से कम 3 से 4 दिन तक किसी Particular Issue को Discuss किया गया और क्योंकि किसी Reseller के पास Web Server पर कोई ज्‍यादा Control तो होता नहीं है, इसलिए लगभग किसी भी Support Ticket द्वारा मेरी Website से सम्बंधित कोई भी Problem Solve नहीं हो पाई।

हद तो तब हो गई, जब 9 Feb 2014 को Google की तरफ से एक Email आया कि मेरी Website को Google का Search Bot Crawl ही नहीं कर पा रहा है, जिसकी वजह से मैं मेरी वेबसाईट पर कुछ भी करूं, Google को पता नहीं चलता। एक प्रकार से मेरी Website Google के लिए Block हो गई थी क्योंकि Google मेरी Website को किसी भी Content के लिए Scan ही नहीं कर पा रहा था, जो कि Google के लिए एक प्रकार से ये Signal था कि BccFalna.com बन्द हो गई है।

चूंकि मेरी Website पर लगभग 70% Traffic Google से आता है और यदि Google के लिए मेरी Website Close हो गई, तो इसका सीधा सा मतलब यही है कि मेरी Website का 70% Traffic समाप्त हो गया और 70% Traffic समाप्त होने का मतलब है 70% Online Business समाप्त हो जाना। इसलिए मैंने फिर से अपने सस्ते Hosting Provider के साथ Discussion करने के लिए एक Support Ticket Open किया और हमेंशा की तरह उनके पास मेरी समस्या का कोई Solution नहीं था। आप इस Issue से सम्बंधित Discussion Google Forum के निम्न URL पर पढ सकते हैं:

https://productforums.google.com/forum/#!msg/webmasters/-X6YaObgYSg/H8Ph2ZDhMbIJ
https://productforums.google.com/forum/#!msg/webmasters/LCRoFfbAt70/RxyAVH5azcwJ

इस Forum Discussion में आप देख सकते हैं कि स्वयं Google Company के Employee ने कह दिया कि यदि Googlebot मेरी Website को Crawl नहीं कर पा रहा है तो निश्चित रूप से Problem मेरे Hosting Provider की तरफ से है न कि Google की तरफ से, फिर भी मेरा Hosting Provider कुछ भी करने की स्थिति में नहीं था न ही उसने कुछ किया, क्योंकि वह एक Reseller था और Reseller के पास Actual Server पर कोई Control नहीं होता।

इस पूरे Issue को समझने व Resolve करने की मैंने काफी कोशिश की, यानी मैंने 9 Feb 2014 से 21 Feb 2014 तक Try किया कि ये Issue Solve हो जाए और Google मेरी Website को फिर से Crawl करने लगे लेकिन सस्ते Hosting के चक्कर में मैंने मेरी Website को एक Reseller Account पर Host करने की दूसरी बडी गलती कर दी थी।

यानी पहली गलती थी अपने Domain को Blogger के Free Blogging Platform के साथ Associate करना और दूसरी बडी गलती थी, सस्ते Hosting Provider के चक्कर में एक Reseller Host के चक्कर में फंसना।

लेकिन इस गलती को सुधारना मेरे लिए अतिआवश्‍यक हो गया था क्योंकि 20 Feb 2014 तक Google ने मेरी Website पर Free Traffic भेजना पूरी तरह से बन्द कर दिया था और किसी भी Keyword के लिए यहां तक कि स्वयं मेरे Domain Name के लिए भी Google मेरी Website को Result Page पर Show नहीं कर रहा था।

फिर मुझे मेरी गलती का अहसास हुआ कि मैंने सस्ते के चक्कर में एक Reseller से Hosting Space खरीद लिया है जो कि मेरी Website का बोझ नहीं उठा सकता और इसीलिए वह मेरी Website को किसी अन्‍य Server पर Move नहीं कर रहा है क्योंकि यदि वह मेरी Website को किसी अन्‍य Server पर Move कर देता, तो ये Issue Resolve हो जाता।

जबकि वह Actual में मेरी Website को किसी दूसरे Server पर Move करना ही नहीं चाहता था, क्योंकि मेरा Website वास्तव में उसके Reseller Plan में लगभग 10 Website के बराबर Resources Use कर रहा था, जिन पर वह 10 और Websites Host करके 10 गुना ज्‍यादा Income प्राप्त कर सकता था और मेरी Website से सम्बंधित किसी भी Issue को Response न करना ही उसके लिए Best तरीका था ये बात कहने का कि मैं अपनी Website को उसके Reseller Account से Remove करके किसी दूसरे Hosting Provider पर चला जाउं।

परिणामस्वरूप मेरे पास कोई और रास्ता नहीं था कि मैं अपने इस सस्ते Reseller Account से पीछा छुडाउं और किसी अच्छी Quality के बडे व ऐसे Hosting Provider का Hosting Space खरीदूं, जिसका Server पर Control हो। लेकिन इस बार की गई मेरी दूसरी गलती यानी सस्ते Hosting Provider के चक्कर में इस बार मैंने अपनी Website का 70% Google Traffic खो दिया था जो कि 100% Online Income के समान ही था।

हालांकि गलती तो मुझसे हो ही गई थी, लेकिन किसी Online Marketer की ये बात मुझे ध्‍यान थी कि “Money is in the List” और इस बात को ध्‍यान में रखते हुए मेरी हमेंशा से यही कोशिश रही थी कि जो भी Visitor मेरी Website पर आए और यदि वह मेरी Website के Content को पसन्द करे, तो किसी भी तरह से मैं उसके Email Address को Capture कर सकूं।

क्योंकि मेरे Visitor का Email Address ही वह माध्‍यम होता है, जिसके द्वारा मैं फिर से अपने Visitor को अपनी Website पर Refer कर सकता हूं और इस तरीके को Use करने की वजह से सस्ते Paid Hosting Provider पर Move करने के बाद से तब तक मेरे पास लगभग 10000 से ज्‍यादा Email Address Collect हो चुके थे।

इसलिए जब मुझे लगा कि मुझसे सस्ते के चक्कर में गलती हो गई है, तो जैसे ही ये बात मेरे दिमाग में आई, तुरन्त मैंने अपनी गलती सुधारने का निर्णय लिया और एक अच्छे Hosting Provider को Search करना शुरू किया, लेकिन इस बार मेरी First Priority सस्ता नहीं बल्कि अच्छा था और सबसे ज्‍यादा Priority मैंने Email Sending Limit को दिया।

क्योंकि जब हम हमारी Website द्वारा बहुत सारे Emails Send करते हैं, तो Web Server पर बहुत ही ज्‍यादा Load पडता है और जो Web Server हमें बहुत सारा Emails Send करने की सुविधा देता है, निश्चित रूप से उसकी Services अच्छी Quality की ही होगी, अन्‍यथा वह Bulk Emails Send करने की सुविधा Provide नहीं कर सकता।

वर्तमान Hosting Provider मुझे प्रति घण्‍टा अधिकतम केवल 100 Emails Send करने की सुविधा दे रहा था और इस गति से अपने सभी 10K Visitors को Contact करने के लिए 10K Emails Send करने में मुझे कम से कम 100 घण्‍टे लगते थे। जबकि एक घण्‍टे में मैं 80 से ज्‍यादा Emails Send नहीं कर सकता था। क्योंकि जब भी कोई व्‍यक्ति BccFalna.com के Contact Form के माध्‍यम से मुझसे Contact करता है अथवा कोई Order Place करता है, तो उस समय जो Emails Send होते हैं, वे भी इन्हीं 100 Emails में से Cut-off होते हैं। यानी इस सस्ते Hosting Provider द्वारा वास्तव में 10K लोगों को Contact करने के लिए मुझे कम से कम 10000 / 80 = 125 यानी लगभग 6 दिन लगते थे।

और क्योंकि Google द्वारा 70% Traffic Loss हो जाने के बाद अपने सभी Clients व Registered Users तक फिर से अपनी Website के Content को पहुंचाने का केवल एक मात्र यही एक तरीका था कि मैं अपने हर Article को अपने Users को Email कर सकूं, ताकि वे मुझे भूल न जाऐं और उन्हें ऐसा न लगे कि BccFalna.com Website बन्द हो चुकी है। इसलिए जब मैंने ऐसे Hosting Providers को खोजना शुरू किया तो मुझे कुल 4 – 5 ऐसे Hosting Providers की Information मिले, जो 500 से 2000 Emails प्रति घण्‍टा Send करने की Limit देते थे। फिर मैंने इन कुल 4 – 5 Hosting Providers में से एक को चुना जो कि अन्‍य Hosting Providers की तुलना में लगभग 50% से 60% सस्ता था।

आप ये न समझें कि मैं फिर से सस्ता खोजने लगा। मैंने सस्ता इसलिए चुना क्योंकि मैं जानता हूं कि मेरी Website एक Content Website है, जिसे 5GB प्रति माह से ज्‍यादा Bandwidth की जरूरत नहीं है और 500MB से ज्‍यादा Disk Space की जरूरत नहीं है। साथ ही मैं अपनी सभी प्रकार की जरूरतों को पूरा करने के लिए Hosting Provider द्वारा Provide किए जाने वाले केवल एक MySQL Database भी पर्याप्‍त है क्योंकि मैं एक Programmer हूं और कम से कम Resources को Use करते हुए अपनी जरूरतों को कैसे पूरा किया जाए, इस बात का मुझे अच्छा ज्ञान है। इसलिए Unlimited Disk Space, Bandwidth व MySQL Database के नाम पर मैं किसी भी Hosting Provider को उन Resource Limits के लिए दुगुने से ज्‍यादा Payment करना नहीं चाहता था, जिनकी वास्तव में मेरी Website को जरूरत ही नहीं थी।

अत: वास्तव में इस बार मैं अपने इन चुने हुए 4 – 5 Hosting Providers में से सबसे सस्ता लेकिन वो Hosting Provider चुन रहा था, जो मुझे कम से कम कीमत पर पर्याप्त Bandwidth व Disk Space Provide कर दे साथ ही Emails Send करने की Limit भी पर्याप्त हो।

चूंकि मेरे पास वर्तमान में 10K के आसपास Registered Emails थे और मैं दो से तीन दिन में एक नया Article अपनी Website पर Post करता था। इसका मतलब ये हुआ कि यदि कोई Hosting Provider मुझे प्रतिदिन 10000 Emails Send करने की सुविधा दे दे, तो मेरी Emails Sending की जरूरत भी पूरी हो जाएगी, क्योंकि मैं यदि प्रतिदिन एक Article भी अपनी Website पर Post करूं, तो मैं प्रतिदिन अपने सभी Registered Users को Email के माध्‍यम से उस Article से अवगत करवा सकता हूं।

इसलिए मेरे चुने हुए सभी Hosting Providers में से मैंने सबसे सस्ते Hosting Provider को चुना, जो कि मुझे प्रति घण्‍टा 500 यानी प्रतिदिन 12000 Emails Send करने की सुविधा दे रहा था। हालांकि अन्‍य Hosting Providers मुझे प्रति घण्‍टा 700, 1000, 1500 व 2000 Emails Send करने की Limit भी दे रहे थे। लेकिन फिर उनके Package की कीमत भी उसी के अनुसार $8 से $15 प्रतिमाह तक थी।

हालांकि उस समय तक BccFalna.com द्वारा प्रतिमाह लगभग 25K की Earning होती थी, इसलिए $15 प्रतिमाह कोई ज्‍यादा कीमत नहीं थी BccFalna.com की Earning के लिहाज से। लेकिन क्योंकि मैं लगभग 3 दिन में एक Article लिखता था और उस समय तक मेरे पास कुल 10K Registered Users हैं, इसका मतलब ये था कि मैं सबसे सस्ते Hosting Provider द्वारा भी प्रति तीन दिन में अधिकतम 12K x 3 = 36K Emails Send कर सकता था।

अन्‍य शब्दों में कहूं तो जब तक मैं प्रति दिन 1 Article लिखना शुरू नहीं कर देता, तब तक अथवा जब तक मेरे कुछ Registered Users की संख्‍या 36K नहीं हो जाती, तब तक मैं इस सबसे सस्ते Hosting Provider के साथ Associated रह सकता हूं, जो कि मुझे प्रतिदिन अधिकतम 12K Emails Send करने की सुविधा दे रहा था और वो भी मात्र $3.29 प्रतिमाह में, जिस पर Lifetime के लिए 25% का Discount Coupon Apply करने के बाद ये लगभग 150/- रूपए प्रतिमाह के आसपास ही पडता था।

इतना ही नहीं, ये Hosting Provider मुझे 3GB का Web Space व Unlimited Bandwidth Provide भी Provide कर रहा था, जो कि मेरी Website के लिए पर्याप्त से ज्‍यादा था। साथ ही मैं इस एक ही Basic Hosting Plan पर जितनी चाहूं उतनी Unique Websites को “Addon Domains” के माध्‍यम से Host कर सकता था।

यानी पिछले सस्ते Hosting Provider की तुलना में मात्र Rs. 800/- ज्‍यादा देने के बदले में मुझे मेरी जरूरत से ज्‍यादा मिल रहा था, साथ ही अपने Select किए गए सभी Hosting Providers की तुलना में भी सबसे कम कीमत पर मुझे मेरी Website के लिए जरूरत से ज्‍यादा Resources प्राप्त हो रहे थे, तो फिर महंगे Hosting Provider की Service लेने का क्या मतलब था।

इसलिए मैंने उसे चुना, जिस पर Currently मेरी Website Hosted है और फिलहाल मैं काफी खुश हुं इससे। क्योंकि तब से लेकर अब तक मैं अपनी Website को Manage करने की Tension छोडकर दूसरे काम करता हूं और इस दूसरे काम के रूप में मात्र 12 महीनों में मेरे Email Subscribers की List लगभग 50000 तक पहुंच गई है और सबसे अच्‍छी बात ये है कि मात्र $5/month के मामूली से Extra चार्ज के बदले में मेरा Current Hosting Provider मेरी Website को Special Treatment देते हुए मुझे 1000 Email / Hour Send करने की Limit दे रहा है। यानी अब मैं हर रोज 24 हजार EMail Send कर सकता हूं। साथ ही पिछले 12 महीनों में मेरी Website की Earning 25K से बढकर लगभग 40K+ हो चुकी है और अब मेरा Next Target 50K का है, जो कि जल्‍दी ही Achieve हो जाएगा, क्‍योंकि अब मेरी Email Sending Limit दुगुनी हो चुकी है।

यानी अब मुझे अपनी Website को Normally Run करने के लिए बेवजह के Technical Issues को Solve करने से सम्बंधित फालतू काम नहीं करने पडते बल्कि मैं अपनी पूरी Energy को ऐसे काम के लिए उपयोग में लेता हूं जो कि मुझे और ज्‍यादा Online Revenue Generate करने में मदद करते हैं और मेरे Hosting Provider की सबसे अच्‍छी बात ये है कि वो मेरी जरूरतों के हिसाब से मेरे लिए Personal Plans Define करने में सक्षम है। यानी भले ही मेरी Website उसके सबसे Lowest Price के Basic Hosting Plan के साथ Associated है, फिर भी वे मेरी Website को उसकी जरूरत के अनुसार Special Treatment देने को राजी हैं, जबकि मेरा पिछला Hosting Provider मेरी बात तक सुनने को राजी नहीं था।

अपना चुनाव करने के बावजूद किसी भी तरह का Confusion या Misunderstanding न रहे, इसलिए मैंने Email के माध्‍यम से अपने चुने हुए Hosting Provider से Contact किया और Email Sending Limit के बारे में विशेष रूप से Confirm किया कि वास्तव में वे उतनी ही Email Sending Limit दे रहे हैं या नहीं जितनी की उनकी Website व अन्‍य लोगों द्वारा बताया जा रहा है।

जब उन्होंने मुझे विश्‍वास दिलाया कि उनके Basic Shared Hosting Plan द्वारा मैं अधिकतम 500 Emails प्रति घण्‍टा Send कर सकता हूं, तो मैंने उस Hosting Provider पर अपनी न केवल Website बल्कि Domain को भी Transfer कर लिया, क्योंकि अब मैं अपने पिछले Hosting Provider के साथ किसी भी तरह का कोई सम्बंध रखना नहीं चाहता था।

हालांकि मेरे पिछले Hosting Provider के साथ मेरा Domain Renewal 14-Oct-2014 को तथा Hosting Renewal 15-July-2014 को होना था, लेकिन काफी दु:खी व परेशान होकर लगभग 6 महीने पहले मैंने अपने पुराने Hosting Provider को छोड दिया, जिसके लिए मैं सालाना लगभग 1600/- रूपए Pay कर रहा था।

यानी 6 महीने पहले अपने Hosting Provider को छोडने का मतलब है लगभग 800/- रूपए का Direct नुकसान। जबकि सबसे बडा नुकसान तो ये रहा कि मेरी Website पर Google द्वारा आने वाला लगभग 70% Free Traffic पूरी तरह से समाप्त हो चुका था जो कि लगभग 70% Monthly Income के Loss के बराबर था और उस समय तक BccFalna.com लगभग औसतन 25K प्रतिमाह Income Generate कर रहा था।

यानी BccFalna.com का प्रतिमाह होने वाला Direct नुकसान लगभग 25000 x 70 / 100 = 17500 था। जबकि इस Google Traffic को फिर से पूरी तरह से Continually Normal होने में कम से कम 6 महीने लगें, जो कि BccFalna.com द्वारा Generate होने वाले Monthly Earning का Indirect नुकसान था।

यानी Google से फिर से 70% Extra Traffic आने में यदि 6 महीने लग जाते हैं, तो इसका मतलब है कि 17500 x 6 = 105000/- रूपए का Direct Loss है। जबकि इस Traffic Loss की वजह से मेरी Website फिर से लगभग 6 महीने पीछे चली गई है।

जबकि इन्हीं 6 महीनों में यदि ये Website Normal तरीके से Google द्वारा 70% Traffic प्राप्त करती, तो निश्चित रूप से 25K प्रतिमाह की Income बढकर कम से कम 35K प्रतिमाह तो पहुंच ही जाती, जबकि अब फिर से 25K की Average आने में ही 6 महीने लगेंगे। यानी Indirectly 10K x 6 = 60000/- रूपए का नुकसान। यानी Free Blogger के चक्कर में Direct और Indirect नुकसान उठाया 60000/- का और सस्ते Web Hosting के चक्कर में Direct और Indirect नुकसान उठाया 105000/- + 60000/- = 165000/- का।

तो एक Line में आपके लिए मेरी सलाह बस यही है कि Free और सस्ते दोनों से बचो। क्योंकि आज का थोडा ज्‍यादा Investment कल के बडे नुकसान को रोकता है और यदि आपने मेरी बात नहीं मानी और Blogger जैसे Free Hosting Provider के साथ ही अपने Domain को Associate किया अथवा किसी सस्ते Reseller Hosting Provider द्वारा सस्ता Web Space खरीदा, तो निश्चित रूप से आपके साथ भी वही होगा जो मेरे साथ हुआ और आपको भी वे ही मानसिक व आर्थिक नुकसान होंगे, जो मुझे हुए। फिर आप भी अपने किसी Post में ऐसी ही कोई कहानी दोहराना, जैसी मैं दोहरा रहा हूं।

अगले Post में मैं बात करूंगा मेरे Recommended Hosting Provider की जिस पर मेरी Website Currently Hosted है और मैं इससे पूरी तरह से सन्‍तुष्‍ट भी हुं क्‍योंकि ये Hosting Provider मेरी जरूरत के अनुसार अपने Plan में Change करने से भी नहीं हिचकता जबकि ज्‍यादातर Hosting Providers ऐसे भी हैं, जो Basic Hosting Plan Use करने वालों से सीधे मुंह बात तक नहीं करते। (Cheap Hosting Plans)

Web Hosting Selection Criteria - Only 5 Things to Consider
Reseller Hosting Providers - Don't buy their Shared Hosting

******

ये पोस्‍ट Useful लगा हो, तो Like कर दीजिए।

WordPress in Hindi - BccFalna.comये Article इस वेबसाईट पर Selling हेतु उपलब्‍ध EBook WordPress in Hindi से लिया गया है। इसलिए यदि ये Article आपके लिए उपयोगी रहा, तो निश्चित रूप से ये पुस्तक भी आपके लिए काफी उपयोगी साबित होगी। 

WordPress in Hindi | Page: 420 | Format: PDF

BUY NOW DOWNLOAD READ ONLINE

Download All Hindi EBooks

सभी हिन्दी EBooks C, C++, Java, C#, ASP.NET, Oracle, Data Structure, VB6, PHP, HTML5, JavaScript, jQuery, WordPress, etc... के DOWNLOAD LINKS प्राप्‍त करें, अपने EMail पर।

Register करके Login करें। इस Popup से छुटकारा पाएें।