Why Microsoft developed C# Programming Language?

C# in Hindiये Article इस वेबसाईट पर Selling हेतु उपलब्‍ध EBook C#.NET in Hindi से लिया गया है। इसलिए यदि ये Article आपके लिए उपयोगी रहा, तो निश्चित रूप से ये पुस्तक भी आपके लिए काफी उपयोगी साबित होगी। 

C#.NET in Hindi | Page:908 | Format: PDF

BUY NOW DOWNLOAD READ ONLINE

Developed C#.NET: जैसाकि हमने पिछले Article में Discuss किया, .NET को Develop करने का एक Indirect मुख्‍य कारण ये भी था कि जब .NET का विकास शुरू किया गया तब जरूरतें बदल रही थी, तकनीक बदल रही थीं, Internet अपने विकास की गति पकड रहा था, नई Devices आ रही थीं, लेकिन उनके लिए बनाए जाने वाले Software के Development के लिए उपलब्ध Programming Languages पुरानी थीं, जो कि Latest जरूरतों को पूरा करने में पूरी तरह से सक्षम नहीं थी।

क्योंकि इन पुरानी  Programming Language को किसी Standard के आधार पर Develop नहीं किया गया था, इसलिए एक Device के लिए जब कोई Software बनाया जाता था, तो वह किसी दूसरी Device के लिए उपयोगी नहीं हो पाता था, जबकि दूसरी Device के लिए Software बनाने हेतु किसी दूसरी Programming Language की जरूरत पडती थी।

यानी कुल मिलाकर Developers के लिए बहुत परेशानी थी। क्योंकि उन्हें अलग-अलग Devices हेतु Software Develop करने के लिए अलग-अलग Programming Languages को Use करना पडता था और समय-समय पर बार-बार नई तरह की Programming Languages, Technologies व Design Patterns को सीखना पडता था। 

जब भी कोई नई Technology विकसित होती है, उसके अनुसार ही Computers व Software को भी Change होना पडता है। .NET से पहले भी Microsoft द्वारा विभिन्न प्रकार की User Requirements को पूरा करने के लिए विभिन्न प्रकार की Programming Languages का विकास किया गया था, लेकिन जिस समय इन Programming Languages व Design Patterns का विकास किया गया था, उस समय Microsoft को पता नहीं था कि Internet नाम का कोई ऐसा Invention होगा, जो पूरे Computing System के आधार को ही बदल कर रख देगा।

इसलिए जब 1995 के बाद Internet का विकास होने लगा तो जिस गति से Internet का विकास शुरू हुआ, उस गति को देखकर Microsoft को सोचने पर मजबूर होना पडा कि Internet के विकास के साथ ही Software Development व Deployment कि दशा व दिशा क्या होगी और फिर Internet को ध्‍यान में रखते हुए ही .NET Platform को पूरी तरह से शुरू से Design किया गया।

लेकिन चूंकि, जिस समय Microsoft नए Platform को Develop करने के बारे में सोंच रहा था, उसी समय Sun Microsystems का Java, Web Development के क्षैत्र में काफी Popular हो रहा था जबकि Microsoft का Visual Basic उसी समय पर Desktop Development के लिए काफी Popular हो रहा था। इसलिए Microsoft Visual Basic को भी नहीं छोड सकता था।

इसलिए Java Visual Basic की प्रसिद्धि ने उसे एक ऐसी Programming Language Design करने के लिए भी प्रेरित किया, जिसमें Java जैसी SecurityExtendibility हो। साथ ही वह Easy भी हो और उसमें तेजी से Desktop या Web Based Software बनाया जा सके। ऐसे ही बहुत सारे Features को Included रखते हुए जिस Programming Language को Develop करने का Concept Microsoft ने तय किया, उसी का परिणाम C# है।

C# एक ऐसी Programming Language है, जो कि Platform व Classes के मामले में Java के समान है, GUI Develop करने के सम्बंध में Visual basic के समान है जबकि Object Oriented Programming Concepts पूरी तरह से C++ पर आधारित हैं और Coding Structure पूरी तरह से C Language पर आधारित है।

इस प्रकार से C# में C Language की Hardware Level Interaction करने की क्षमता है, C++ का Powerful Object Oriented Programming Concept है, Java का Platform Neutral Architecture है, जो उसे Easily Extendible व अधिक Secure बनाता है और Visual Basic का GUI System है जो इसे Rapid Application Development Feature से युक्त करता है। (Developed C#.NET)

Why Microsoft developed .NET Framework?
Operating System and Application Software

******

ये पोस्‍ट Useful लगा हो, तो Like कर दीजिए।

C# in Hindiये Article इस वेबसाईट पर Selling हेतु उपलब्‍ध EBook C#.NET in Hindi से लिया गया है। इसलिए यदि ये Article आपके लिए उपयोगी रहा, तो निश्चित रूप से ये पुस्तक भी आपके लिए काफी उपयोगी साबित होगी। 

C#.NET in Hindi | Page:908 | Format: PDF

BUY NOW DOWNLOAD READ ONLINE

Download All Hindi EBooks

सभी हिन्दी EBooks C, C++, Java, C#, ASP.NET, Oracle, Data Structure, VB6, PHP, HTML5, JavaScript, jQuery, WordPress, etc... के DOWNLOAD LINKS प्राप्‍त करें, अपने EMail पर।

Register करके Login करें। इस Popup से छुटकारा पाएें।