Free Hosting always pays more than you think

WordPress in Hindi - BccFalna.comये Article इस वेबसाईट पर Selling हेतु उपलब्‍ध EBook WordPress in Hindi से लिया गया है। इसलिए यदि ये Article आपके लिए उपयोगी रहा, तो निश्चित रूप से ये पुस्तक भी आपके लिए काफी उपयोगी साबित होगी। 

WordPress in Hindi | Page: 420 | Format: PDF

BUY NOW DOWNLOAD READ ONLINE

Free Hosting: पिछले Chapter में Discuss किए अनुसार जब आप अपनी Website के Theme Content का Decision ले लेते हैं और तय कर लेते हैं कि आपको आपकी Website को किस विषय पर आधारित रखनी है तथा उस Particular विषय यानी Theme Content से सम्बंधित किसी Specific Problem को Identify करके उससे सम्बंधित information Product के बारे में भी आप निर्णय ले लेते हैं, उसके बाद जो अगला सबसे महत्वपूर्ण काम होता है, वह अपनी Website Develop करना ही होता है।

एक Website मूल रूप से Domain NameWeb Hosting के रूप में दो चीजों का Combination होता है। जहां Domain Name आपकी Online Identity यानी Brand को Represent करता है। जबकि आपकी Website को Place करने के लिए आपको किसी न किसी Hosting कम्पनी से Space खरीदना पडता है।

हालांकि सामान्‍यत: नए लोग स्वयं का Domain Name व Hosting खरीदने के स्थान पर Free HostingFree Sub-Domain से ही शुरूआत करना पसन्द करते हैं, जो कि Online Business Establish करने के पहले Step के रूप में ही गलती कर देते हैं, जिसका बदला बाद में काफी नुकसान उठाने के रूप में चुकाना पडता है।

स्वयं का Domain + Hosting न होने का सबसे पहला नुकसान तो यही होता है, कि आपको किसी Advertising Network द्वारा कोई Advertisement प्राप्त नहीं होता। यानी PPC, CPA आदि Provide करने वाली Google जैसी अच्छी Ad-Companies आपको अपने Ad-Network के लिए Register नहीं करतीं। साथ ही यदि आपका स्वयं का Domain + Hosting नहीं होता, तो फिर आप चाहे जितना भी अच्छा Product क्यों न Offer कर रहे हों, लोग आप पर विश्‍वास नहीं करते, क्योंकि आपका Domain ही आपकी Identity होता है और यदि आप अपने स्वयं के Domain यानी स्वयं के Brand या Identity के लिए सालाना 600/- रूपए भी खर्च नहीं कर सकते, तो मेरे खयाल से आप अपने ही Online Business के प्रति गंभीर नहीं हैं और जब आप अपनी Identity के प्रति ही गंभीर नहीं हैं, तो लोग आपके Product के प्रति क्यों गंभीर होंगे।

साथ ही यदि आप Blogger जैसे किसी Platform को Use करते हुए अपनी Online Identity Develop करना चाहते हैं, जिसके साथ आप अपने Personal Domain को Attach कर सकते हैं, तो ये गलती भी मत कीजिएगा। क्योंकि हालांकि Blogger आपको अपने Blog के साथ आपका Custom Domain Name Attach करने की सुविधा तो देता है, लेकिन Server Side पर आपका कोई Control नहीं होता। इसलिए आपको अपनी Website को ठीक उसी तरह से बनाने के लिए मजबूर होना पडता है, जिस तरह से Blogger आपको सुविधा देता है।

साथ ही Blogger वास्तव में एक Blogging Platform है, जो Reverse Chronology में ही Posts को Display करता है। इसलिए आप Blogger को एक Website की तरह Use नहीं कर सकते। इसके अलावा Blogger पर यदि आप Continually नए Content Update न करें, तो धीरे-धीरे आपके Website की Search Engine Ranking कम होने लगती है, जिसकी वजह से आपके Website पर आने वाले Visitors की संख्‍या कम होने लगती है और आपका Online Business एक समय के बाद पूरी तरह से ठप हो जाता है।

आप Blogger को अपनी जरूरत के अनुसार Customize नहीं कर सकते, न ही Blogger के लिए उस तरह की Professional Plugin व Themes Available हैं, जिन्हें Use करके आप अपनी Website को Commercially Use कर सकें व Selling के माध्‍यम से ज्‍यादा से ज्‍यादा Online Earning कर सकें।

यानी Blogger व इस जैसी अन्‍य Free Blogging Platform Provide करने वाली विभिन्न Websites के साथ सैकडों तरह की परेशानी हैं, क्योंकि ये आपको कभी भी Development से सम्बंधित पूर्ण स्वतंत्रता नहीं देते, जिनकी जरूरत एक Online Brand Establish करने के लिए होती है।

मैं आपको Blogger जैसे Platform को Use करने से इसलिए Strictly मना कर रहा हूं, क्योंकि July-2012 तक मैंने भी Blogger की Hosting को ही bccfalna.com Domain के साथ Associate किया हुआ था। लेकिन Blogger, Server Side Coding पर किसी भी तरह का कोई Control Provide नहीं करता, न ही प्रति घण्‍टा 20 से अधिक Email Send करने की सुविधा देता है, न ही हम Blogger Site पर वांछित जरूरत के अनुसार Contact Form लगा सकते हैं।

यानी अपने Customer से Contact करने या उसके Orders को Accept करने के लिए मुझे Blogger पर कोई सुविधा प्राप्त नहीं होती थी। जबकि EBooks को Selling पर लगाने के बाद मुझे लगातार नए Customers मिल रहे थे, जिनके लिए Ebook Order करने के System को सरल बनाना जरूरी था, ताकि लोग BccFalna.com पर आसानी से EBooks के लिए Order कर सकें।

इसलिए अपनी Website पर पूरा Control प्राप्त करने के लिए स्वयं का Personal Hosting Space खरीदना अब मेरे लिए काफी जरूरी हो गया था और अब मुझे पछतावा भी हो रहा था कि क्यों मैंने मामूली सी बचत के चक्कर में Blogger पर अपनी Website को Hosted रखते हुए अपना Online Business Establish किया क्योंकि अब यदि मैं अपने Domain http://www.bccfalna.com को Blogger Hosting से हटा कर स्वयं के Web Host के साथ Connect करता, तो 2008 से 2012 तक Blogger पर Hosted मेरी Website BccFalna.com के माध्‍यम से Establish किया गया मेरा सारा Online Business, मेरे Customers, मेरे Registered Readers, मेरे Website की Ranking, Search Engines से आने वाला Traffic, सबकुछ समाप्त हो जाता है और मुझे मेरी Website BccFalna.com को फिर से पूरी तरह से Re-Establish करना पडता, जबकि March-2012 से July-2012 तक BccFalna.com लगभग औसतन 5000/- रूपए प्रतिमाह का Income Generate करने लगा था।

यानी 2008 से 2012 तक Blogger पर Hosted जिस bccfalna.blogspot.com के साथ Attached http://www.bccfalna.com/ Domain को एक Brand के रूप में मैंने Establish किया था, उस Brand को मुझे फिर से Re-Establish करना पडता। जिसका मतलब ये था कि मेरी चार साल की मेहनत बेकार जाने वाली थी।

लेकिन मैं कुछ भी नहीं कर सकता था। मेरे लिए Blogger को छोडकर अपने Paid Hosting के साथ अपने Domain को Attach करना यानी अपने स्वयं के Web Host पर Shift होना Compulsory रूप से जरूरी हो गया था क्योंकि Blogger पर अपनी Website को Hosted रखते हुए मैं अपने Online Business को यानी BccFalna.com की Earning को Increase नहीं बढा सकता।

मैं ऐसा इसलिए नहीं कर सकता था क्योंकि Blogger पर Hosted मेरी Website में एक ऐसा मामूली सा Change भी नहीं कर सकता था, जो कि Server Side Scripting से सम्बंधित हो। यानी Blogger Hosted Site पर अपने Domain Name के अलावा मेरा कहीं पर कोई Control नहीं था।

अन्त में मैंने एक काफी कठिन निर्णय लिया और अपने Domain Name को Blogger से Remove करके स्वयं के Paid Host के साथ Attach किया और जैसे ही मैंने अपना Host बदला, 30000 प्रतिमाह के Page-View वाली मेरी Website का Traffic लगभग खत्म हो गया। BccFalna.com द्वारा Generate होने वाला लगभग 5000/- रूपए प्रतिमाह का Income घटकर 0 हो गया।

जल्दी ही मेरे Domain की Google Ranking 3 से घटकर 0 हो गई और तब से अब तक Google ने मेरे Domain की Ranking Increase नहीं की और शायद भविष्‍य में कभी करेगा भी नहीं, क्योंकि Blogger के साथ 3 साल तक Associated रहने वाले Domain को मैंने Remove करके किसी अन्‍य Host के साथ Associate कर दिया था, जो उसकी नजर में गलत था, क्योंकि Blogger वास्तव में Google का ही Platform है और Google के Host को छोडकर किसी अन्‍य Host पर Move करेंगे, तो Domain की Ranking को इसकी सजा तो मिलेगी ही।

Hosting Change करने के बाद लगभग 2 महीने तक मैं अपने नए Host पर अपनी Website के Content ही Create करता रहा। क्योंकि Blogger पर मैंने लगभग 400 Articles लिखे थे, जिनके माध्‍यम से मुझे प्रतिदिन 1000 से ज्‍यादा Pageviews व लगभग 200 Unique Visitors मिलने लगे थे, लेकिन मेरी नई Website पर कोई Content नहीं था और Blogger से अपने Contents को अपने स्वयं के Host पर Move करने के बावजूद भी मुझे लगभग सारे Content को फिर से Modify करना पडा।

चूंकि मैंने अपने नए Host पर अपने CMS यानी Content Management System के रूप में WordPress को Use किया क्योंकि WordPress ही एक ऐसा CMS है, जिसमें Blogger पर मौजूद Content को सबसे ज्‍यादा बेहतर तरीके से Move किया जा सकता है। साथ ही केवल WordPress ही एक ऐसा Framework है, जिसके लिए विभिन्न प्रकार की जरूरतों को पूरा करने के लिए दुनियां में सबसे ज्‍यादा PluginsThemes Develop किए गए हैं और क्योंकि मेरी Website Blogger से स्वयं के Host पर Shift करने के कारण पूरी तरह से समाप्त हो गई थी, इसलिए मुझे कम से कम समय में अपनी Website को फिर से Re-Establish करते हुए Normal स्थिति में लाना था, ताकि वह फिर से Income Generate करना शुरू कर सके, इसलिए मैंने अपने CMS के रूप में WordPress को चुना।

Blogger Host से अपने 400 से ज्‍यादा Articles को अपने WordPress Powered Self Hosted Server पर Move करने के बावजूद भी मुझे अपने हर Article को फिर से Check व Modify करना पडा, क्योंकि WordPress व Blogger दोनों दो एकदम अलग Technologies पर आधारित Platforms हैं। इसलिए इनके बीच Data Transfer करने के बावजूद Data 100% Perfect तरीके से Transfer नहीं होता जिसकी वजह से अपनी Website को फिर से Normal स्थिति में लाने में मुझे लगभग दो महीने लग गए और इन दो महीनों में Website द्वारा Generate होने वाली Monthly Income 0 रहा और दो महीने बाद फिर से धीरे-धीरे इस Website ने Income Generate करना शुरू किया।

लेकिन इस बार इसे औसतन 5000/- रूपए मासिक तक पहुंचने में लगभग 6 से 8 महीने और लगे। क्योंकि जब मैंने bccfalna.com Domain को Blogger Hosting के साथ Associate किया था, तब Blogger पर Create किए गए मेरे 400 से ज्‍यादा Articles, Google Search Engine में Ranked थे और हजारों Keywords के लिए मेरी Website पर Search Engine Traffic आता था। लेकिन जब मैंने Blogger से अपने Domain को Remove करके अपने स्वयं के Host के साथ Attach कर दिया, तो हजारों Keywords के लिए Google Search Engine में Ranked मेरे सारे Articles के URL यानी Path Invalid हो गए।

परिणामस्वरूप जब तक Google मेरी नई Website के सभी Webpages को फिर से विभिन्न Keywords के लिए Index न करे, तब तक मेरी Website की Income Increase नहीं हो सकती थी और Google द्वारा ये काम करने में 6 से 8 महीने का समय लग गया। जिसकी वजह से लगभग 6 महीने बाद BccFalna.com द्वारा फिर से Income Generate होना शुरू हुआ।

अब यदि मैं Blogger से Personal Web Host पर Shift होने के कारण मेरे होने वाले कुल नुकसान का अन्दाजा लगाऊं, तो जिस समय मैंने Hosting Change किया था, उस समय BccFalna.com लगभग 5000/- रूपए प्रतिमाह Earn कर रहा था और फिर से 5000/- रूपए प्रतिमाह तक पहुंचने में इसे लगभग 6 महीने का समय लगा। यानी इन 6 महीनों का Cash नुकसान 6 x 5 = 30 हजार रूपए का रहा।

जबकि यदि शुरू से ही मैनें अपने Domain को स्वयं की Paid Hosting के साथ ही Associated रखा होता, तो इन्हीं 6 महीनों में BccFala.com की Earning बढकर लगभग 10 हजार रूपए प्रतिमाह तक पहुंच जाती क्योंकि ठीक एक साल बाद July-2013 में BccFalna.com लगभग 10 हजार रूपए प्रतिमाह Income Generate कर रहा था। इसलिए इन 6 महीनों में बढने वाली Income का भी नुकसान हुआ जो कि लगभग 6 x 5 = 30 हजार के बराबर ही होता।

अन्‍य शब्दों में कहें तो Hosting Change करने की वजह से मेरी Website लगभग 1 साल पीछे चली गई। यानी BccFalna.com जिस Online Selling Income तक अगले 6 महीने में पहुंच सकता था, वहां तक पहुंचने में उसे लगभग 1 साल का समय लग गया।

इस तरह से यदि सरल शब्दों में कहें] तो 1 साल तक केवल औसतन 5 हजार रूपए प्रतिमाह का नुकसान ही मानें] तो कुल 12 x 5 = 60 हजार रूपए का Directly व Indirectly नुकसान हुआ Blogger से स्वयं के Host पर Move करने के कारण। जबकि यदि मुझे इस बात का अन्दाजा पहले होता, कि Blogger से स्वयं के Host पर Move करने पर मुझे 50 – 60 हजार का Direct व Indirect नुकसान होगा, तो मात्र 2500/- रूपए प्रतिवर्ष का लालच न करता बल्कि अपने स्वयं के Web Host के साथ अपने Domain को Associate करते हुए अपनी Website को Establish करता।

तो] यदि आप भी मेरी तरह यही सोंच रहे हों कि Domain अपना खरीद लिख जाए और Hosting के रूप में Blogger या ऐसे ही किसी अन्‍य Free Web Space पर अपनी Website को Host कर लिया जाए, तो 2500/- रूपए का आज आप द्वारा किया जाने वाला लालच, निश्चित रूप से कुछ समय बाद आपको भी हजारों रूपए के Direct व Indirect नुकसान के रूप में भोगना पडेगा।

इसलिए समझदारी इसी में है कि Free के चक्कर में न पडते हुए एक अच्छे Hosting Provider से अपनी जरूरत के अनुसार Hosting Space खरीदिए, अन्‍यथा मेरी ही तरह कुछ समय बाद आप भी ऐसी ही कोई कहानी लिख रहे होंगे और लोगों को सलाह दे रहे होंगे कि Blogger जैसे Free Hosting Space के चक्कर में न पडें] अन्‍यथा काफी नुकसान उठाना पडेगा।

और जब आपको लगभग 600/- रूपए सालाना Pay करके अपना स्वयं का एक Domain तथा लगभग 2500/- रूपए सालाना Pay करके अच्छी Quality का Web Hosting Space मिल सकता है, तो फिर Free के चक्कर में पडने का क्या मतलब है। जबकि लगभग 2500/- रूपए प्रतिवर्ष Pay करके आप उन Problems, Limitations व Direct/Indirect Losses से हमेंशा के लिए बच सकते हैं, जिन्हें Blogger जैसे Free Hosting को Use करके मैंने Face किया है। मुझे लगता है, कि आपके लिए ये सौदा कोई ज्‍यादा महंगा नहीं है।

और यदि आप अपना Online Business Establish करने के लिए लगभग 3000/- रूपए प्रतिवर्ष यानी लगभग 250/- रूपए प्रतिमाह का साधारण सा Investment करते हुए अपना स्वयं का Domain व Good Quality का Hosting Space खरीदते हैं, तो मुझे लगता है कि किसी भी Business को Establish करने के लिए किया गया ये Investment, दुनियां का सबसे कम Investment है। इससे कम Investment में तो नुक्कड पर एक चाय का ठैला भी नहीं लगाया जा सकता।

यदि आप अपना स्वयं का Domain + Hosting खरीदने के लिए 3000/- रूपए भी Invest नहीं करना चाहते, तो मुझे लगता है कि Online या Offline किसी भी प्रकार का Business आपके बस का नहीं है और आपको कहीं Day Job यानी 8AM To 5PM की नौकरी खोजनी चाहिए, क्योंकि नौकरी में एक रूपए का भी Investment नहीं होता, इसलिए कोई नुकसान होने का Risk भी नहीं होता। हालांकि नौकरी में मानसिक शान्ति व आर्थिक संतुष्टि भी नहीं होती और बिना किसी को पीछे खींचे हुए आपके आगे बढने का रास्ता भी नहीं होता।

लेकिन किसी भी Business में थोडा तो Risk होता ही है और इसीलिए कोई भी Business, चाहे वह Online हो या Offline, यदि सही तरीके से किया जाए, तो कभी भी Fail नहीं होता क्योंकि Fail होने का डर Businessman को और ज्‍यादा मेहनत करने के लिए प्रेरित करता है, जो कि सफलता की कुंजी है।

तो यदि इतने मामूली से Investment द्वारा आप अपने Online Business को Establish करने की एक कोशिश करना चाहते हैं, तो Online Business की दुनियां में आपका स्वागत है और मैं आपको विश्‍वास दिलाता हूं कि यदि आप धैर्य के साथ इस Business को समझने की कोशिश करते हैं, तो आपका ये Investment सैकडों हजारों गुना बढकर Return होगा।

BccFalna.com के लिए मैं किस Web Host को Use करता हूं और इस Hosting Provider को मैंने क्‍यों चुना, इसके पीछे भी एक दु:खभरी गाथा है, जिसके बारे में मैं अपने अलग Post में विस्‍तार से बताउंगा ताकि आप भी अपना Hosting Provider चुनते समय वो गलती न करें, जो मैंने की और इस बार मेरा Direct/Indirect नुकसान पहले से भी कई गुना ज्‍यादा था।

Digital Product – The Best Product for Fast Online Earning
Types of Web Hosting

******

ये पोस्‍ट Useful लगा हो, तो Like कर दीजिए।

WordPress in Hindi - BccFalna.comये Article इस वेबसाईट पर Selling हेतु उपलब्‍ध EBook WordPress in Hindi से लिया गया है। इसलिए यदि ये Article आपके लिए उपयोगी रहा, तो निश्चित रूप से ये पुस्तक भी आपके लिए काफी उपयोगी साबित होगी। 

WordPress in Hindi | Page: 420 | Format: PDF

BUY NOW DOWNLOAD READ ONLINE

Download All Hindi EBooks

सभी हिन्दी EBooks C, C++, Java, C#, ASP.NET, Oracle, Data Structure, VB6, PHP, HTML5, JavaScript, jQuery, WordPress, etc... के DOWNLOAD LINKS प्राप्‍त करें, अपने EMail पर।

Register करके Login करें। इस Popup से छुटकारा पाएें।