Header Files in C – Why we need it?

C Programming Language in Hindi - BccFalna.com ये Article इस वेबसाईट पर Selling हेतु उपलब्‍ध EBook  C Programming Language in Hindi से लिया गया है। इसलिए यदि ये Article आपके लिए उपयोगी रहा, तो निश्चित रूप से ये पुस्तक भी आपके लिए काफी उपयोगी साबित होगी। 

C Programming Language in Hindi | Page: 477 + 265 | Format: PDF

BUY NOW DOWNLOAD READ ONLINE

Header Files in C: ”सी” भाषा में विभिन्न प्रकार के कामों को पूरा करने के लिए विभिन्‍न प्रकार के Functions को Use किया जाता है। C Compiler के साथ हमें Functions की पूरी एक Library प्राप्‍त होती है, जिसमें ढेर सारे Built–In Functions हैं। विभिन्न प्रकार के Functions को उनके काम करने की प्रकृति के आधार पर विभिन्न प्रकार की Files में Define या परिभाषित किया गया है। Functions की इन Files को ही “C” भाषा में Header File कहा जाता है।

हम जिस किसी भी Function को Use करना चाहते हैं, हमें उससे सम्बधिंत Header File को #include शब्द के साथ प्रोग्राम में जोडना पडता है। जैसे Input/Output से सम्बन्धित सारे Functions stdio.h नाम की Header File में होते हैं। अतः हमें अपने हर सी प्रोग्राम में इस Header File को #include Code द्वारा Link करना जरूरी होता है। यदि हम एसा नहीं करते हैं, तो हमें Input व Output की सुविधा प्राप्त नहीं होती है। यानी हम हमारे Program में Keyboard से कोई Input नहीं ले सकते न ही हमारा Program Output के रूप में Screen पर कोई Output Display कर सकता है।

इसी तरह से हमें आउटपुट स्क्रीन पर दिखाई दे रहे पिछले Program के विभिन्न Statements को साफ करके Screen को Clear करना है, तो clrscr() Function को Use करना होता है, जो कि conio.h नाम की Header File में Defined है, अतः हमें हमारे प्रोग्राम में इस Header File को #include Code द्वारा Link करना पडेगा।

Header Files को Header File इसलिए कहा जाता है, क्योंकि ये Files किसी भी Source File के Head में यानी सबसे Top पर व सबसे पहले Include की जाती हैं।

किसी भी Header File को प्रोग्राम में जोडने के लिये # के साथ include Keyword लगाया जाता है। फिर < > के चिन्हों के बीच में उस Header File का नाम लिखा जाता है, जिसे प्रोग्राम में जोडना होता है। इनको Declare करने का Syntax निम्नानुसार होता है-

Header Files in C - Hindi

Header Files in C – Hindi

Header Files C/C++ Programming में अपना काफी महत्‍वपूर्ण Role Play करते हैं क्‍योंकि इनके माध्‍यम से ही C/C++ जैसी Programming Languages में Code Reusability सम्‍भव हो पाती है। अत: Header Files से सम्‍बंधित विभिन्‍न प्रकार के Concepts को बेहतर तरीके से समझने व उपयोग में लेने के लिए आप C Programming Language in Hindi पुस्‍तक पढ सकते हैं, जो कि इन Special Concepts को समझने के लिहाज से आपके लिए निश्चित रूप से काफी उपयोगी साबित होगी। (Header Files in C)

Algorithm and Flowchart
What is Function and How they works?

C Programming Language in Hindi - BccFalna.com ये Article इस वेबसाईट पर Selling हेतु उपलब्‍ध EBook  C Programming Language in Hindi से लिया गया है। इसलिए यदि ये Article आपके लिए उपयोगी रहा, तो निश्चित रूप से ये पुस्तक भी आपके लिए काफी उपयोगी साबित होगी। 

C Programming Language in Hindi | Page: 477 + 265 | Format: PDF

BUY NOW DOWNLOAD READ ONLINE

Download All Hindi EBooks

सभी हिन्दी EBooks C, C++, Java, C#, ASP.NET, Oracle, Data Structure, VB6, PHP, HTML5, JavaScript, jQuery, WordPress, etc... के DOWNLOAD LINKS प्राप्‍त करें, अपने EMail पर।

Register करके Login करें। इस Popup से छुटकारा पाएें।