Increment and Decrement Operators C++

CPP Programming Language in Hindiये Article इस वेबसाईट पर Selling हेतु उपलब्‍ध EBook C++ Programming Language in Hindi से लिया गया है। इसलिए यदि ये Article आपके लिए उपयोगी रहा, तो निश्चित रूप से ये पुस्तक भी आपके लिए काफी उपयोगी साबित होगी। 

C++ Programming Language in Hindi | Page: 666 | Format: PDF

BUY NOW DOWNLOAD READ ONLINE

Increment and Decrement Operators in C++: SoldOneBook() Function में हमने एक मान में से दूसरा मान घटाने के लिएं Subtraction Operator (-) का प्रयोग किया है। C++ में इसी तरह के पांच Operators हैं जिनका अलग-अलग जगह पर गणितीय प्रक्रियाओं को सम्पन्न करने के लिए प्रयोग किया जाता है।

Operator Purpose
+ Addition
Subtraction
* Multiplication
/ pision
% Remainder

पहले के चार Operators वही काम करते हैं जो जिनके लिए इनका प्रयोग सामान्य गणितीय प्रक्रियाओं में होता है। पांचवा Operator % Reminder Operator है। जब हम किसी Integer संख्‍या में Integer संख्‍या का भी भाग देते हैं, तो इस Operator का प्रयोग करके हम शेषफल ज्ञात कर सकते हैं। जैसे :

int num = 10, reminder = 0 ;
reminder = num % 3 ;

इस Statement के Execute होने पर reminder नाम के variable में शेषफल 1 Store हो जाएगा। यानी जब हमें किसी गणितीय प्रक्रिया में किसी संख्‍या में भाग देने के बाद उसका भागफल किसी Variable में Store करना होता है तब हम / Operator का प्रयोग करते हैं लेकिन जब हमें उसी Expression का शेषफल किसी Variable में Store करना होता है, तब हम % Operator का प्रयोग करते हैं। हम किसी भी प्रकार की गणितीय प्रक्रिया में इनमें से किसी भी Operator का जिस तरह चाहें उस तरह से प्रयोग कर सकते हैं। जैसे :

c = (f-32) * 5 / 9;

इस Expression में Fahrenheit के तापमान को Celsius में बदला गया है। ध्यान दें कि हमने यहां पर कोष्‍ठक का प्रयोग किया है, क्योंकि कोष्‍ठक में स्थित Expression पहले Calculate होती है और अन्य Expression बाद में। C++ में भी सभी गणितीय प्रक्रियाएं प्राथमिकता क्रम के अनुसार ही Execute होती हैं। जैसे + और / का क्रम + व – Operator से पहले आता है, इसलिए यदि किसी Expression में गुणा व जोड दोनों हो रहे हैं, तो पहले गुणा होगा फिर जोड होगा। जैसे :

10 * 5 + 20

इस Expression का मान 70 होगा ना कि 250

C++ में हम किसी भी प्रकार के Data Type के Variable की Calculation कर सकते हैं। जैसे ऊपर बताए गए Expression में c का मान Float में होगा और f का मान int में होगा, फिर भी हम इनकी Calculation करवा सकते हैं। C++ हमें किसी प्रकार का कोई Error नहीं देगा बल्कि Calculation से पहले C++ स्वयं ही इन्हें सही Data Type में Convert कर लेता है और फिर Calculation करता है।

Increment and Decrement Operators in C++

Programming में हमें अक्सर किसी Variable में से या तो एक घटाना पडता है या एक जोडना पडता है, जैसाकि हमने SoldOneBook() व SoldOneMagazine() Functions में देखा है। C++ में हमें इस काम के लिए दो नए Operators मिलते हैं, जिन्हें Increment या Decrement Operators कहते हैं। Increment Operator किसी Variable के मान में जोड देता है और Decrement Operator किसी Variable के मान में से एक कम कर देता है। इन Operators का प्रयोग करके हम SoldOneBook() व SoldOneMagazine() Functions को निम्नानुसार लिख सकते हैं –

void SoldOneBook()
{ 
 --BooksInHand ; 
}

void SoldOneBook()
{ 
 --MagazinesInHand ;
}

Decrement Operator में दो Minus के चिन्ह होते हैं। यदि BooksInHand Variable का मान 60 हो तो इस Statement के Execute होने पर BooksInHand Variable का मान 59 रह जाता है। इसी तरह से Increment Operator में दो + के चिन्हों का प्रयोग होता है। इन Increment व Decrement Operators को Unary Operators कहते हैं क्योंकि ये केवल एक ही Variable के साथ प्रयोग होते हैं। प्राथमिकता क्रम में इन्हें अन्य Arithmetic Operators से पहले का क्रम प्राप्त है। यानी यदि किसी Expression में Increment व Subtraction दोनों Operators का प्रयोग हुआ है, तो पहले Variable का मान Increment होगा फिर Subtraction का Operator काम करेगा।

अब हम देखेंगे कि हम अपने Program में किस प्रकार से इन Member Functions का प्रयोग Object से कुछ काम करवाने के लिए करते हैं। (Increment and Decrement Operators in C++)

Member Functions : The Methods
Define Class and Object in C++

******

ये पोस्‍ट Useful लगा हो, तो Like कर दीजिए।

CPP Programming Language in Hindiये Article इस वेबसाईट पर Selling हेतु उपलब्‍ध EBook C++ Programming Language in Hindi से लिया गया है। इसलिए यदि ये Article आपके लिए उपयोगी रहा, तो निश्चित रूप से ये पुस्तक भी आपके लिए काफी उपयोगी साबित होगी। 

C++ Programming Language in Hindi | Page: 666 | Format: PDF

BUY NOW DOWNLOAD READ ONLINE

Download All Hindi EBooks

सभी हिन्दी EBooks C, C++, Java, C#, ASP.NET, Oracle, Data Structure, VB6, PHP, HTML5, JavaScript, jQuery, WordPress, etc... के DOWNLOAD LINKS प्राप्‍त करें, अपने EMail पर।

Register करके Login करें। इस Popup से छुटकारा पाएें।