Increment Decrement in C Language

C Programming Language in Hindi - BccFalna.com ये Article इस वेबसाईट पर Selling हेतु उपलब्‍ध EBook  C Programming Language in Hindi से लिया गया है। इसलिए यदि ये Article आपके लिए उपयोगी रहा, तो निश्चित रूप से ये पुस्तक भी आपके लिए काफी उपयोगी साबित होगी। 

C Programming Language in Hindi | Page: 477 + 265 | Format: PDF

BUY NOW DOWNLOAD READ ONLINE

Increment Decrement in C: कई बार हमें हमारे Program में क्रम से एक-एक बढने या घटने वाली संख्‍याओं को Generate करने की जरूरत पडती है। इस प्रकार की जरूरत को पूरा करने के लिए हमें Increment (++) या Decrement (- -) Operators का प्रयोग करना पडता है। वेरियेबल के साथ इनकी दिशा बदल देने से इनके स्वभाव में परिवर्तन आ जाता है।

जब किसी Variable के मान में क्रम से कोई संख्‍या जोड कर वापस उसी Variable में Store कर देते हैं, तो उस Variable का मान उस जोडी गई संख्‍या के अनुसार उसी क्रम में बढता जाता हैं, इस प्रक्रिया को Variable का Increment होना कहते हैं।

उदाहरण के लिए माना एक Variable x = 0 है और हम चाहते हैं कि इसका मान क्रम से एक-एक बढता जाए। इस जरूरत को पूरा करने के लिए हम निम्नानुसार Statement लिख सकते हैं:

      x = x + 1

हम इसी Statement को x = x + 1 लिखने के बजाय संक्षिप्त रूप में x++ भी लिख सकते हैं।

इसी तरह से जब Variable के मान में से क्रम से कोई संख्‍या घटा कर प्राप्त मान वापस उसी Variable में Store कर देते हैं, तो इस प्रक्रिया को Variable का Decrement होना कहते हैं।

उदाहरण के लिए माना x = 10 है व हम क्रम से x का मान 1 कम करना चाहते हैं। इस जरूरत को पूरा करने के लिए हम निम्नानुसार Statement लिख सकते हैं:

      x = x – 1

हम इसी Statement को x = x – 1 लिखने के बजाय संक्षिप्त रूप में x- – भी लिख सकते हैं।

जब हमें किसी Variable के मान को एक-एक के क्रम में ही बढाना या घटाना होता है, या एक-एक के क्रम में ही Increment या Decrement करना होता है, तब हम जिन दो Operators को Use करते हैं, उन्हें Increment (++) व Decrement (–) Operators कहते हैं। इन दोनों Operators को भी दो-दो तरीकों से Use किया जाता है, जो कि निम्नानुसार हैं:

Pre – Increment

जब किसी Variable के पहले Increment ++ का चिन्ह लगाया जाता है, तब उस Variable का मान पहले Increase होता है, उसके बाद वह Variable उस Expression में भाग लेता है, जिसमें उस Variable को Use किया गया है। जैसे

int x = 0, y = 10, Result;
Result = ++x + y

इस Code Segment में पहले x का मान Increment हो कर 0 से 1 हो जाता है, उसके बाद x का मान 1 y के मान 10 में जुड कर 11 Return करता है और Result में 11 Store हो जाता है। अब यदि x, y व Result तीनों को Print किया जाए] तो तीनों का मान क्रमसे: 1, 10 व 11 Print होगा।

 Post – Increment

जब किसी Variable के बाद में Increment चिन्ह लगाया जाता है, तो वह Variable पहले उस Expression में भाग लेता है, जिसमें उसे Use किया गया है, उसके बाद उस Variable का मान Increment होता है। जैसे:

int x = 0, y = 10, Result;
Result = x++ + y

इस Code Segment में पहले (x + y) Expression Execute होगा और इस Expression से Generate होने वाला Resultant मान 10 Variable Result में Store होगा। उसके बाद x का मान Increment होकर 1 होगा। इस Statement के Execute होने के बाद यदि हम x, y व Result तीनों के मानों को Screen पर Display करें, तो हमें क्रमसे: 1, 10 व 10 प्राप्त होगा।

Pre – Decrement

Pre-Increment की तरह ही जब किसी Variable के पहले Decrement का चिन्ह लगाया जाता है, तब उस Variable का मान पहले Decrease होता है, उसके बाद वह Variable उस Expression में भाग लेता है, जिसमें उस Variable को Use किया गया है। जैसे

int x = 10, y = 20, Result;
Result = –x + y

इस Code Segment में पहले x का मान Decrement हो कर 10 से 9 हो जाता है, उसके बाद x का मान 9 y के मान 20 में जुड कर 29 Return करता है और Result में 29 Store हो जाता है। अब यदि x, y व Result तीनों को Print किया जाए, तो तीनों का मान क्रमश: 9, 20 व 21 Print होगा।

Post – Decrement

Post-Increment की तरह ही जब किसी Variable के बाद में Decrement चिन्ह लगाया जाता है, तो वह Variable पहले उस Expression में भाग लेता है, जिसमें उसे Use किया गया है, उसके बाद उस Variable का मान Decrement होता है। जैसे:

int x = 10, y = 20, Result;
Result = x– + y

इस Code Segment में पहले (x + y) Expression Execute होगा और इस Expression से Generate होने वाला Resultant मान 30 Variable Result में Store होगा। उसके बाद x का मान Decrement होकर 9 होगा। इस Statement के Execute होने के बाद यदि हम x, y व Result तीनों के मानों को Screen पर Display करें, तो हमें क्रमसे: 9, 20 व 30 प्राप्त होगा।

चलिए, एक Program में इन चारों Operators को Practically Use करके Result देखते हैं। Program निम्नानुसार है:

Program
#include <stdio.h>
main()
{
	int x = 10, y = 20, z = 30;
	printf("\n x = 10, y = 20, z = 30 \n");

	printf("\n ++x + y = %d", ++x + y);
	printf("\t x = %d, y = %d, z = %d", x, y, z);
	printf("\n y++ + z = %d", y++ + z);
	printf("\t x = %d, y = %d, z = %d", x, y, z);
	printf("\n --z + x = %d", --z + x);
	printf("\t x = %d, y = %d, z = %d", x, y, z);
	printf("\n y-- + x = %d", y-- + x);
	printf("\t x = %d, y = %d, z = %d", x, y, z);
}

Output
 x = 10, y = 20, z = 30

 ++x + y = 31    x = 11, y = 20, z = 30
 y++ + z = 50    x = 11, y = 21, z = 30
 --z + x = 40    x = 11, y = 21, z = 29
 y-- + x = 32    x = 11, y = 20, z = 29
Assignment Operator in C Language
Type Declaration Instructions in Programming

C Programming Language in Hindi - BccFalna.com ये Article इस वेबसाईट पर Selling हेतु उपलब्‍ध EBook  C Programming Language in Hindi से लिया गया है। इसलिए यदि ये Article आपके लिए उपयोगी रहा, तो निश्चित रूप से ये पुस्तक भी आपके लिए काफी उपयोगी साबित होगी। 

C Programming Language in Hindi | Page: 477 + 265 | Format: PDF

BUY NOW DOWNLOAD READ ONLINE

Download All Hindi EBooks

सभी हिन्दी EBooks C, C++, Java, C#, ASP.NET, Oracle, Data Structure, VB6, PHP, HTML5, JavaScript, jQuery, WordPress, etc... के DOWNLOAD LINKS प्राप्‍त करें, अपने EMail पर।

Register करके Login करें। इस Popup से छुटकारा पाएें।