Applet Life Cycle Methods

Java Programming Language in Hindiये Article इस वेबसाईट पर Selling हेतु उपलब्‍ध EBook Java in Hindi से लिया गया है। इसलिए यदि ये Article आपके लिए उपयोगी रहा, तो निश्चित रूप से ये पुस्तक भी आपके लिए काफी उपयोगी साबित होगी। 

Java Programming Language in Hindi | Page: 682 | Format: PDF

BUY NOW DOWNLOAD READ ONLINE

Applet Life Cycle Methods: हम जब भी कोई Applet Extend करते हैं, तो Create होने वाले किसी भी Applet की Lifetime के मुख्‍य-मुख्‍य चार Events होते हैं और हर Event से Applet Class का एक Method Associated रहता है। किसी Applet की Life Cycle के चारों Steps को हम चार Methods द्वारा Represent कर सकते हैं:

public void init() Method

जब User किसी ऐसे Web Page को Open करता है, जिसमें Applet Embed होता है, तो Web Page के Memory में Load होते ही Applet कुछ प्रारम्भिक मानों से Initialize होता है। Applet के ये प्रारम्भिक मान Applet Class के init() Method द्वारा Initialize होते हैं। यदि हम Applet के Initialization के समय किन्हीं Variables को कोई मान प्रदान करना चाहें, या कुछ ऐसे काम करना चाहें, जो Applet के Initialize होते ही Execute करने हों, जैसे कि विभिन्न प्रकार के GUI Objects को Applet पर Add करना हो, तो इन कामों को करने के Codes हमें init() Method में लिखने होते हैं।

ये Method किसी Applet की Life में केवल एक ही बार Execute होता है। यदि दुबारा init() Method को Execute करना हो, तो हमें Web Page को Close करके फिर से Open करना पडता है।

public void start() Method

init() Method द्वारा Applet Initialize होने के बाद start() Method Call होता है। साथ ही हम जितनी भी बार Applet को Restart करते हैं, ये Method Execute होता है। Applets को उस समय Stop किया जा सकता है, जिस समय User एक Web Site से दूसरी Web Site पर Move होता है। यदि User कुछ समय बाद में फिर से उस Web Site पर आता है, तो Applet फिर से Restart होता है। इसलिए start() Method को Applet की Life Time में आवश्‍यकतानुसार कई बार Call किया जा सकता है।

Applet जब भी किसी Event के कारण Focus Receive करता है, ये Method Execute होता है। हम इस Method में उन Codes को लिख सकते हैं, जिन्हें Applet के Restart में Execute करवाना चाहते हैं। जैसे कि Applet में किसी Thread को Initialize करने के समय या Screen के Data को Update करते समय Applet हर बार एक Focus प्राप्त करता है जिससे हर बार Applet Restart होता है।

public void stop() Method

ये Event तब Generate होता है, जब एक Web Browser किसी HTML Page को छोड कर किसी दूसरे Web Page पर जाता है, या Web Page पर से Focus Lost होता है। हम इस Method को तब Use कर सकते हैं जब हम Program के विभिन्न Variables को Reset करना चाहते हैं या किसी Running Thread को Stop करना चाहते हैं।

public void destroy() Method

जब Applet पूरी तरह से Execute होना बन्द हो जाता है या जब User एक Page से दूसरे Page पर Move हो जाता है, तब ये Method Execute होता है। हम इस Method का प्रयोग किसी Applet द्वारा Use हो रहे किसी Resource को Free Up करने के लिए कर सकते हैं। stop() Method हमेंशा destroy() Method से पहले Call होता है।

ये चारों ही Methods Automatically Call होते हैं और हम इन्हें किसी भी प्रकार से अलग से Call नहीं करते हैं। Applet में जो कुछ भी Display होता है, उसे Display करने के लिए हमें paint() Method को Use करना होता है। इस Method के बिना हम Applet में कुछ भी Display नहीं कर सकते हैं। इस Method के अलावा दो अन्य Methods update() व repaint() भी हैं, जिनका प्रयोग अलग-अलग परिस्थितियों में Applet को Paint करने के लिए करना पडता है।

public void paint() Method

जब भी हमें Applet Window को Paint करना होता है, तब हमें इस Method को Call करना पडता है। Applet Window को Paint करने का मतलब ये है कि जब भी हमें किसी Information OR Graphics को Applet में Display करना होता है, तो उस Information या Graphics को Applet की Window में Draw कर देते हैं। Information या Graphics को Window में Display करने की प्रक्रिया को Window Paint करना कहते हैं।

कुछ स्थितियों में Paint Method स्वयं ही Automatically Call हो जाता है। जैसे जब एक Window Display हो रहा हो और उस Window पर कोई दूसरा Window Overwrite हो जाए और फिर पहले Window को Activate किया जाए, तो हमें दूसरा Window दिखाई देने से पहले Repaint होता है। इसे हम निम्न चित्र द्वारा समझ सकते हैं:

Applet Life Cycle Methods in Hindi

Applet Life Cycle Methods in Hindi

इस चित्र में MS Paint से Media Player Hide हो रहा है। अब यदि हम Media Player को Activate करें, तो Media Player फिर से Paint होता है और MS Paint Hide हो जाता है, जिसे हम निम्न चित्र में देख सकते हैं:

Applet Life Cycle Methods in Hindi

Applet Life Cycle Methods in Hindi

इसी तरह से जब हम किसी Window को Minimize या Restore करते हैं, तब भी वह Window Paint होता है। जब पहली बार Applet का Execution शुरू होता है, तब भी ये Method Call होता है। कारण कोई भी हो, जब भी Window के Output को Redraw करना होता है, ये Method Call होता है। paint() Method को repaint() Method को Call करके Trigger किया जा सकता है।

Applet Class के paint() Method में Parameter के रूप में Graphics Class का एक Object Specify करना होता है। इस Parameter में उस Graphics Object की Information होती है, जिसे Applet पर Draw करना होता है।

public void update() Method

ये Method paint() Method की तरह ही काम करता है। इस Method को Call करने पर ये Method Screen को Clear करता है और फिर से paint() Method को Call करके Screen को Reprint कर देता है।

public void repaint() Method

जब हम Applet को Repaint करना चाहते हैं, तब हम repaint() Method को Call कर सकते हैं। repaint() Method Automatically update() Method को Call करके Screen को Redraw करता है। (Java Applet Life Cycle Methods)

Steps to Create Java Applet
How to Create a Java Applet

Java Programming Language in Hindiये Article इस वेबसाईट पर Selling हेतु उपलब्‍ध EBook Java in Hindi से लिया गया है। इसलिए यदि ये Article आपके लिए उपयोगी रहा, तो निश्चित रूप से ये पुस्तक भी आपके लिए काफी उपयोगी साबित होगी। 

Java Programming Language in Hindi | Page: 682 | Format: PDF

BUY NOW DOWNLOAD READ ONLINE

Download All Hindi EBooks

सभी हिन्दी EBooks C, C++, Java, C#, ASP.NET, Oracle, Data Structure, VB6, PHP, HTML5, JavaScript, jQuery, WordPress, etc... के DOWNLOAD LINKS प्राप्‍त करें, अपने EMail पर।

Register करके Login करें। इस Popup से छुटकारा पाएें।