Java Literals Example

Java Programming Language in Hindiये Article इस वेबसाईट पर Selling हेतु उपलब्‍ध EBook Java in Hindi से लिया गया है। इसलिए यदि ये Article आपके लिए उपयोगी रहा, तो निश्चित रूप से ये पुस्तक भी आपके लिए काफी उपयोगी साबित होगी। 

Java Programming Language in Hindi | Page: 682 | Format: PDF

BUY NOW DOWNLOAD READ ONLINE

Java Literals Example: जैसाकि हमने पहले भी कहा कि कुछ चीजों के मान Real World में भी स्थिर होते हैं। जैसे सप्ताह के सात दिनों के हर दिन का एक निश्चित नाम, साल के बारह महीनों के हर माह का एक स्थिर नामPI का मान जो कि 3.14 के लगभग होता है। ऐसे ही हजारों उदाहरण दिए जा सकते हैं।

जिस तरह से Real World में कुछ मान स्थिर हो सकते हैं उसी तरह से किसी भी Computer भाषा में भी कुछ ऐसे मानों की जरूरत पड सकती है, जिनका मान पूरे Program में स्थिर रहे। इस प्रकार के Data को Computer Language में Literals कहा जाता है। ये मान Numerical हो सकते हैं और Non-Numerical भी हो सकते हैं और मानों का एक समूह भी हो सकता है।

Literals को Constants भी कहते हैं और इन्हें सामान्‍यतया Symbolic Form में Represent किया जाता है और इन्हें इनकी प्रकृति के आधार पर निम्नानुसार भागों में विभाजित करके समझा जा सकता है।

Integer Constant

पूर्णांक संख्‍याएं Integer कहलाती हैं। जिन संख्‍याओं के मान में दसमलव नहीं होता है, वे संख्‍याएं पूर्णांक संख्‍याएं कहलाती हैं। इसमें $ व – चिन्ह हो सकते हैं। जिस अंक पर कोई चिन्ह न हो वह +ve होती हैं। जैसे 124, 3223, 545, 23 आदि। इसमे संख्‍याओं के बीच कोमा का प्रयोग नही किया जाता है। जैसे 1233,33,000 एक गलत स्थिरांक है। ये मुख्‍यत: तीन तरह के होते है:

Decimal

इसमें 0 से 9 तक की संख्‍या, होती हैं।

Octal Constant

इसमें 0 से 7 तक की संख्‍याएं होती हैं व हर संख्‍या की शुरूआत O से होती है।

Hexadecimal

इसमें 0 से 9 तक के अंक व A से F या a से f तक के अक्षर सम्मिलित होते हैं। इन संख्‍याओं की शुरूआत हमेंशा ox या OX से होती है।

Floating Point Constant

ये वे मान होते हैं जिनमें दशमलव होता है। यह वास्तविक स्थिरांक (Real Constant) कहलाता है। इसे दो भागों में बांटा जा सकता है:

  • Fractional Form:- इस प्रकार के स्थिरांक में कम से कम एक अंक दशमलव के पूर्व व एक अंक दशमलव के बाद होना चाहिये। बाकी के सारे नियम Integer Constant की तरह ही हैं। जैसे: 12122-122, 11-22 आदि
  • Exponent Form: इसके दो भाग होते हैं:

(1)  Mantissa        व       (2) Exponent

इसमें बडी-बडी संख्‍याओं को घातांक के रूप में दर्शाया जाता है। जैसे 1200000000 को घातांक रूप में हम निम्नानुसार भी लिख सकते हैं। 1200000000=1.200000000 X 1010 अब 1.2 Mantissa वाला भाग होगा व 1010  Exponent वाला भाग हो जाएगा। इस तरह हम किसी भी मान को घातांक में Convert करने के लिये निम्न सूत्र का प्रयोग कर सकते हैं:

Value                     =      Mantissa        e/E          Exponent
1200000000          =            1.2            +E                    10                  =      1.2+E10

इस तरह से किसी भी संख्‍या का घातांक रूप प्राप्त किया जा सकता है। यदि घातांक धनात्मक हो तो +e या +E आता है अन्‍यथा -e या -E आता है।

Boolean Constant

इन Constants का प्रयोग true या false को Represent करने के लिए होता है। Programming में कई स्थानों पर ऐसे मानों की जरूरत पडती है, जो किसी Statement के सत्य या असत्य होने को Represent करते हैं।

Character Constant

जब स्थिरांक के रूप में Alphanumeric Characters का प्रयोग किया जाता है, तो इसे Character Constant कहते हैं। ये तीन तरह के होते हैं:

  • Single Character Constant

इसे हमेशा Single Quote में बंद करते है। जैसे ‘n’, ‘e’, ‘e’, ‘l’, ‘u’ आदि।

  • String Constant

इसे हमेशा Double Quote में बंद करते हैं। जैसे “Madhav“, “Raghav”, “Gopal” आदि

  • Back slash Character Constant

Java भाषा में कुछ Characters Back Slash के साथ प्रयोग कर सकते हैं, जिनका उपयोग मनचाहा Output प्राप्त करने में होता है। ये Control Characters होते हैं जो निम्नानुसार हैं:

‘\\’ Back Slash ‘\’ Continuation
‘\b’ Backspace ‘\udddd Unicode Character
‘\f’ Form Feed ‘\n’ New Line
‘\r’ Carriage Return ‘\t’ Horizontal Tab
‘\’’ Single Quote ‘\”’ Double Quote
‘\\’ Back Slash ‘\ddd’ Octal Character

पहले Computer जब ज्यादा विकसित नहीं थे तब केवल English Language में ही Information को Store किया जाता था। इसके लिए केवल ASCII Character Code का प्रयोग किया जाता था। ये 8-Bit पर आधारित थे इसलिए केवल 128 Characters को ही Represent कर सकते थे।

उसके बाद जब कई Languages में Data को Store व Manage करने की जरूरत पडी, तब Unicode का विकास किया गया। इसमें 16-Bit Code से Characters का Representation होता है, इसलिए दुनिया की लगभग सभी भाषाओं के लिए इसमें Code उपलब्ध होते हैं। उदाहरण के लिए Unicode ‘\u0048’ Character ‘H’ का Hexadecimal Representation है जो कि Octal में ‘\110’ के समान है।

Explain Identifiers in Java with Example
Java Operators

******

ये पोस्‍ट Useful लगा हो, तो Like कर दीजिए।

Java Programming Language in Hindiये Article इस वेबसाईट पर Selling हेतु उपलब्‍ध EBook Java in Hindi से लिया गया है। इसलिए यदि ये Article आपके लिए उपयोगी रहा, तो निश्चित रूप से ये पुस्तक भी आपके लिए काफी उपयोगी साबित होगी। 

Java Programming Language in Hindi | Page: 682 | Format: PDF

BUY NOW DOWNLOAD READ ONLINE

Download All Hindi EBooks

सभी हिन्दी EBooks C, C++, Java, C#, ASP.NET, Oracle, Data Structure, VB6, PHP, HTML5, JavaScript, jQuery, WordPress, etc... के DOWNLOAD LINKS प्राप्‍त करें, अपने EMail पर।

Register करके Login करें। इस Popup से छुटकारा पाएें।