Why we should never use Meaningful Identifiers during Database Design?

Oracle 8i/9i SQL/PLSQL in Hindiये Article इस वेबसाईट पर Selling हेतु उपलब्‍ध EBook Oracle 8i/9i SQL/PLSQL in Hindi से लिया गया है। इसलिए यदि ये Article आपके लिए उपयोगी रहा, तो निश्चित रूप से ये पुस्तक भी आपके लिए काफी उपयोगी साबित होगी। 

Oracle 8i/9i SQL/PLSQL in Hindi | Page: 587 | Format: PDF

BUY NOW DOWNLOAD READ ONLINE

Meaningful Identifiers: हमारे Database में एक और बडी समस्या है जो कि Customer को Uniquely Identify करने के लिए Create किए जाने वाले Customer Number की है। इस Database में किसी भी Customer को Uniquely Identify करने के लिए एक विशेष तरीके को Use किया गया है, जिसमें उस Customer के नाम व City के Pincode Number को Use किया जाता है।

अब मानलो कि एक Customer जिस City में रहता है, उस City को छोडकर किसी दूसरे शहर में चला जाता है। इस स्थिति में उसी Customer को Identify करने के लिए फिर से एक नया Customer Number Create किया जाएगा, जो कि उस दूसरी City से सम्बंधित होगा। जिससे हमारे इस Database में एक की Customer के दो ID हो जाएंगे जो एक ही Customer को Refer करेंगे।

मानलो कि एक Customer Music Store पर एक Order Place करता है और उसके बाद वह अपनी City Change कर लेता है। अब यदि वह Customer अपनी City Change कर लेने के बाद ये जानना चाहता है कि उसके कितने Order Music Store पर Pending हैं, जिसके Items को Music Store ने उस Customer को Serve नहीं किया है।

उस Customer के Pending Orders की जानकारी प्राप्त करने के लिए Music Store का वह Operator जो कि Music Store Software को Operate करता है, उस Customer से उसका Customer Number पूछेगा, ताकि वह उस Customer Number वाले Customer की कुल Transactions की List प्राप्त कर सके।

चूंकि Customer अब दूसरे शहर में रहता है, इसलिए उसका Customer Number Change हो गया है। इस स्थिति में वह अपने Current Customer Number की जानकारी उस Operator को देगा। जिसका मतलब ये है कि इस शहर में आने से पहले उसने Music Store पर जितने भी Order Place किए हैं, उनकी जानकारी उसे उसके Current Customer Number द्वारा प्राप्त नहीं होगी, क्योंकि वे Orders उसने अपने पुराने शहर से दिए थे और उस शहर में रहने के कारण उसका Customer Number दूसरा था।

इस स्थिति में वह Customer ये मान सकता है कि उसका Order Music Store को प्राप्त नहीं हुआ। इसलिए वह Customer उसी Order को फिर से Music Store पर Place कर देगा। इस स्थिति में एक ही Customer के एक ही Order की दो Entry Music Store Database में हो जाएगी और जब उन दोनों Orders को Music Store द्वारा पूरा किया जाएगा, तब एक ही Customer को समान Items की दो Copies प्राप्त हो जाएंगी, जिसकी दूसरी Copy को सम्भवतया वह Customer फिर से Music Store को Return कर देगा और Music Store को Transportation Charges स्वयं वहन करने होंगे। (Meaningful Identifiers)

What is Data Deletion Anomaly and why we should care for it too?
Entities and Data Relationships: What are Entities what is Data Relationship?

Oracle 8i/9i SQL/PLSQL in Hindiये Article इस वेबसाईट पर Selling हेतु उपलब्‍ध EBook Oracle 8i/9i SQL/PLSQL in Hindi से लिया गया है। इसलिए यदि ये Article आपके लिए उपयोगी रहा, तो निश्चित रूप से ये पुस्तक भी आपके लिए काफी उपयोगी साबित होगी। 

Oracle 8i/9i SQL/PLSQL in Hindi | Page: 587 | Format: PDF

BUY NOW DOWNLOAD READ ONLINE

Download All Hindi EBooks

सभी हिन्दी EBooks C, C++, Java, C#, ASP.NET, Oracle, Data Structure, VB6, PHP, HTML5, JavaScript, jQuery, WordPress, etc... के DOWNLOAD LINKS प्राप्‍त करें, अपने EMail पर।

Register करके Login करें। इस Popup से छुटकारा पाएें।