How to configure Notepad++ for jQuery Coding?

jQuery in Hindiये Article इस वेबसाईट पर Selling हेतु उपलब्‍ध EBook jQuery in Hindi से लिया गया है। इसलिए यदि ये Article आपके लिए उपयोगी रहा, तो निश्चित रूप से ये पुस्तक भी आपके लिए काफी उपयोगी साबित होगी। 

jQuery in Hindi | Page:711 | Format: PDF

BUY NOW DOWNLOAD READ ONLINE

आप कोई भी नई Programming Language सीखना चाहते हों, तो सीखने का सबसे बेहतर तरीका यही है कि उस Language से संबंधित Basics व Fundamentals को छोटे-छोटे Programs बनाते हुए सीखा जाए और Program बनाने के लिए हमें हमेंशा किसी न किसी Text Editor या IDE की जरूरत होती है।

JavaScript भी एक प्रकार की Programming Language या ज्यादा बेहतर शब्दों में कहें, तो एक प्रकार की Client Side Scripting Language है, इसलिए इससे पहले कि हम इस Language को समझें, हमें JavaScript Programs को Develop करने से सम्बंधित Basic Environment Setup करने की जरूरत है, ताकि पुस्तक में आगे आने वाले Program Codes की Working को आसानी से समझा जा सके।

चूंकि jQuery वास्तव में JavaScript ही है, इसलिए इस पुस्तक में जगह-जगह हमने jQuery Programs को JavaScript Programs भी लिखा है और हमने ऐसा इसीलिए किया है ताकि आपको याद रहे कि हर jQuery Program वास्तव में एक JavaScript Program ही है।

अन्‍य सभी Programming, Scripting व Markup Languages की तरह ही JavaScript Programs को भी हम एक Simple Text Editor में लिख सकते हैं, लेकिन चूंकि JavaScript एक Interpreter Based Scripting Language है और JavaScript का Interpreter सामान्यत: Web Browser के अन्दर ही In-Built होता है, इसलिए सामान्यत: JavaScript को Web Pages को Interactive बनाने के लिए Use किया जाता है।

परिणामस्वरूप JavaScript Codes मूल रूप से Web Pages के लिए ही उपयोगी होते हैं और Web Pages Create करने के लिए जितने भी IDE (Integrated Development Environment) वर्तमान में उपलब्ध हैं, उन सभी को JavaScript Codes को लिखने के लिए Use किया जा सकता है। जैसे Adobe DreamWeaver, Microsoft Visual Studio, NetBeans, Eclipse आदि।

चूंकि किसी भी Program को Develop करने में कई Steps Involved होते हैं, जैसे कि Source Codes लिखना, उन्हें Compile या Interpret करना, Bugs को Identify करना, उन्हें Debug करना, Maintain करना, Test करना व Deploy करना। इन सभी कामों को एक ही स्थान पर पूरा करने के लिए यदि कोई Software बना लिया जाए, तो उस Software को IDE (Integrated Development Environment) कहते हैं।

हालांकि IDE किसी भी Program को Develop करने में काफी मदद करते हैं, लेकिन फिर भी यदि हम कोई नई Language सीखने के लिहाज से देखें, तो IDE फायदा करने के स्थान पर नुकसान करते हैं।

Notepad++

तो सबसे पहले Notepad++ Text Editor को http://www.notepad-plus-plus.org/download/ Website से Download करके अपने Computer पर Install कीजिए। ये Text Editor Free Available है। Install करके Open करने पर ये कुछ निम्नानुसार दिखाई देता है:

Notepad++ for jQuery Development - BccFalna.com

Notepad++ for jQuery Development – BccFalna.com

चूंकि HTML, CSS व JavaScript जैसी Scripting Languages, Web Browser में ही Interpret होते हैं और इनका Server Side से कोई Direct Connection होना जरूरी नहीं होता, इसलिए JavaScript Codes के Effects को समझने के लिए हमें हमारे Local Computer पर किसी Local Web Server को Install करने की जरूरत नहीं है, बल्कि JavaScript Codes हमेंशा किसी न किसी HTML Web Page से Link या HTML Web Page में Embed होते हैं, इसलिए जैसे ही हम Web Page को किसी Web Browser में Open करते हैं, JavaScript Interpret होने लगता है।

यानी JavaScript Programming सीखने के लिए हमें किसी External Software की जरूरत नहीं है। हमें केवल एक Text Editor की जरूरत है, जहां हम अपने HTMLCSS व JavaScript Codes को लिख सकें व एक Web Browser की जरूरत है, जहां हम हमारे JavaScript Codes के Output को देख सकें।

Notepad++ की Capabilities को Extend करने के लिए हम इसमें अपनी जरूरत के अनुसार विभिन्न प्रकार के Plug-ins को भी Install कर सकते हैं। विभिन्न प्रकार के Plug-ins Install करने के लिए हमें Notepad++ के Plug-in Menu के “Plugin Manager” Sub-Menu के “Show Plugin Manager” Option को Click करना होता है और हमारे सामने एक Dialog Box Open होता है, जिसमें हम उन Plug-ins को Select करके Install कर सकते हैं, जिन्हें हम हमारे Notepad++ Text Editor में Include करना चाहते हैं जबकि Install होने के बाद उस Plugin को उपयोग में लेने के लिए भी हमें इसी “Plug-in” Menu में ही जाना होता है।

Internal Architecture and Working of jQuery
jQuery Internal Working. Do you want to know?

******

ये पोस्‍ट Useful लगा हो, तो Like कर दीजिए।

jQuery in Hindiये Article इस वेबसाईट पर Selling हेतु उपलब्‍ध EBook jQuery in Hindi से लिया गया है। इसलिए यदि ये Article आपके लिए उपयोगी रहा, तो निश्चित रूप से ये पुस्तक भी आपके लिए काफी उपयोगी साबित होगी। 

jQuery in Hindi | Page:711 | Format: PDF

BUY NOW DOWNLOAD READ ONLINE

Download All Hindi EBooks

सभी हिन्दी EBooks C, C++, Java, C#, ASP.NET, Oracle, Data Structure, VB6, PHP, HTML5, JavaScript, jQuery, WordPress, etc... के DOWNLOAD LINKS प्राप्‍त करें, अपने EMail पर।

Register करके Login करें। इस Popup से छुटकारा पाएें।