क्‍यों ठीक से सीखना जरूरी है Oracle-SQL/PLSQL?

Oracle 8i/9i - SQL/PLSQL in Hindi - BccFalna.comOracle in Hindi: ये पुस्‍तक मूल रूप से तीन भागों में विभाजित है। पहला भाग Relational Database Designing Process से संबंधित है, जिसमें इस बात को अच्‍छी तरह से समझाने की कोशिश की गई है कि Relational Database क्‍या होता है और इसे अच्‍छी तरह से Design करने के विषय में जानना क्‍यों जरूरी होता है।

सरल शब्‍दों में कहें, तो ये भाग आगे सीखे जाने वाले Oracle का आधार है। बिना Database Designing के Concepts को अच्‍छी तरह से समझे हुए हम Oracle को उसकी पूरी क्षमता के साथ उपयोग में नहीं ले सकते।

Database Designing Process एक ऐसी प्रक्रिया है, जिसको ठीक से समझे बिना किसी भी तरह का Professional Application Develop करना नामुमकिन है क्‍योंकि लगभग सभी तरह के Professional Applications में किसी न किसी रूप में Database का प्रयोग जरूर किया जाता है, फिर भले ही वह कोई Desktop Application हो अथवा Web Application.

Database Designing एक बहुत ही जटिल लेकिन किसी भी Application Software की जरूरी प्रक्रिया है। लगभग सभी कम्‍पनियों में Database Designers होते हैं, जो अपने Client की Requirements के आधार पर Best Possible Database Develop करते हैं।

Database Designing के Rules को यदि ठीक तरह से Follow न किया जाए, तो जैसे-जैसे Application Software बडा होता जाता है, उसके Data बढते जाते हैं, वैसे-वैसे उस Application Software को Manage व Maintain करना मुश्किल होता जाता है। इसलिये किसी भी Professional Application के Development की शुरूआत हमेंशा Database Designing से होती है।

वर्तमान समय में भी लगभग 90 प्रतिशत से ज्‍यादा Application Software Database Related Software होते हैं, जिन्‍हें विभिन्‍न Businessmen अपने Business को बेहतर तरीके से Handle व Manage करने के लिये अथवा अपने Business को ज्‍यादा से ज्‍यादा लोगों तक पहुंचाने के लिये Develop करवाते हैं। ऐसे में यदि आप किसी Company में Job पाना चाहते हैं, अथवा आप अपना स्‍वयं का Development Business Start करना चाहते हैं, दोनों ही स्थितियों में आपको Database Designing की जानकारी अच्‍छी तरह से होना जरूरी होता है।

किसी भी Programming Language की Coding सीखना एक बात है लेकिन उस Coding का प्रयोग Real World Professional Application Software में करना एक दूसरी बात है और जैसाकि मैने पहले कहा कि लगभग 90 प्रतिशत से ज्‍यादा Application Software Database Related होते हैं, इसलिये आप किसी भी Programming Language में Master ही क्‍यों न हों, यदि आपको अपनी Programming Language के साथ Database को Handle करना नहीं आता, तो आपके Programming Knowledge का कोई मतलब नहीं है।

चूंकि Database Designing एक जटिल प्रक्रिया होती है, इसलिए किसी भी कम्‍पनी में Database Designer की Salary सबसे ज्‍यादा होती है, क्‍योंकि उसी के Decisions तय करते हैं कि Company का कोई Project Normal तरीके से Run होगा या Fail हो जाएगा।

पुस्‍तक के दूसरे भाग में हमने Oracle के SQL व PLSQL तथा Oracle Related अन्‍य विभिन्‍न प्रकार के Concepts को अच्‍छी तरह से उदाहरण के साथ समझाने की कोशि श की है जबकि पुस्‍तक के तीसरे भाग में हमने Visual Basic 6 के साथ Oracle को किस तरह से Backend के रूप में उपयोग में लिया जा सकता है, इस विषय में Detail के साथ समझाने की कोशिश की है।

हालांकि वर्तमान समय में VB6 में Professional Software Develop नहीं किये जाते, लेकिन यदि आप .NET Framework को Oracle के साथ Use करते हुए Professional Software Develop करना चाहते हैं, तो ये पुस्‍तक आपकी काफी मदद कर सकती है, क्‍योंकि भले ही Microsoft ने VB6 के स्‍थान पर इसका अगला Version VB.NET Launch कर दिया हो, लेकिन मूल में दोनों ही Languages की तकनीक काफी हद तक एक समान है।

इस पुस्‍तक से आप बडी ही आसानी से न केवल Professional Level के Database Designing Concepts सीखते हैं, बल्कि अपने Design गए Database को Oracle में Implement भी कर सकते हैं क्‍योंकि इस पुस्‍तक में छोटी’से छोटी बात को भी उदाहरण के साथ समझो की कोशिश की गई है। साथ ही Oracle जैसे Database को एक Frontend साथ कैसे उपयोग में लिया जाता है, इस बात को स्‍पश्‍ट करने के लिए हमने Oracle को Visual Basic 6 के साथ उपयोग में लेने के बारे में भी विस्‍तार से समझाने की कोशिश की है।

इस पुस्‍तक में हमने न केवल SQL व PLSQL को बहुत ही सरल भाषा में समझाने की कोशिश की है, बल्कि कम्‍पनियों में एक Professional Database Application किस तरह से Develop किया जाता है, इस बात को भी ध्‍यान में रखा है, ताकि आप इस पुस्‍तक को पढते हुए आसानी से ये भी जान सकें कि वास्‍तव में कम्‍पनियों में Software Development किस प्रकार से होता है, जो कि किसी भी Fresherके लिए जानना जरूरी होता है। साथ ही इस पुस्‍तक में Visual Basic 6 को किस प्रकार से Oracle के साथ Use करके Database Applications बनाये जा सकते हैं, इस विषय पर काफी अच्‍छी तरह से चर्चा की गई है।

इस पुस्‍तक में हमने Relational Database Designing Process व Oracle दोनों को ही बहुत ही सरल भाषा में समझाने की कोशिश की है, ताकि आप आसानी से Relational Database Designing Process को सीख सकें व उसे Oracle Database में Implement कर सकें तथा किसी अच्‍छी कम्‍पनी में अच्‍छी Salary की Job आसानी से प्राप्‍त कर सकें अथवा अपना स्‍वयं का Development Business Start कर सकें।

यदि आप DBA – Database Administrator के रूप में अपना Career बनाना चाहते हैं तो ये पुस्‍तक आपके लिए काफी उपयोगी व जरूरी पुस्‍तक है, जिसे आपको जरूर खरीदना चाहिये। क्‍योंकि उपरोक्‍त Discussion से आप समझ ही गये होंगे कि Database Designing Process किसी भी Professional Application Software Development की नींव की तरह होता है। यदि आपने अपने Client की जरूरत के आधार पर उपयुक्‍त Database Design किया तो आपको और भी Client मिलेंगे अथवा Company में आपकी Job ज्‍यादा Secure होगी, जबकि वि‍परीत स्थिति में परिणाम भी विपरीत ही होने हैं।

वास्‍तव में Oracle किसी भी अन्‍य DBMS Software की तुलना में ज्‍यादा Powerful व Easy है। Oracle Java के साथ बहुत अच्‍छी तरह से Integrate होता है, इसलिये वर्तमान समय में जो भी लोग Java सीखते हैं, वे Oracle भी सीखते हैं। क्‍योंकि Oracle को Java के साथ मिलाकर बडी ही आसानी से Large Scale Database Applications Develop किया जा सकता है। इसलिये यदि आपने जावा सीखा है या जावा सीखना चाहते हैं, तो फिर आपको Oracle भी सीखना चाहिए।

Oracle को जब Java के साथ मिलाकर Database Application Develop किया जाता है, तब सामान्‍यत: IBM Company द्वारा Free Provided jDeveloper IDE का प्रयोग किया जाता है। जहां Java, Database Application के लिये Frontend की तरह Use होता है तो Oracle, Backend की तरह।

Oracle मात्र एक Software नहीं है, बल्कि ये एक Database Programming Language का Standard है और Oracle के ही Standard को Follow करते हुए Microsoft Company ने MS-SQL Server नाम का अपना अलग RDBMS Software Develop किया है, जो कि मूलत: .NET Technology के साथ ज्‍यादा उपयोग में लिया जाता है।

यानी यदि आप Oracle सीखते हैं, तो वास्‍तव में आप केवल Oracle ही नहीं सीख रहे होते बल्कि आप SQL भी सीख रहे होते हैं, जो कि किसी भी DBMS Software की मूल भाषा है। इसलिये यदि आप Oracle सीखते हैं, तो आप उसी समय पर SQL भी सीख रहे होते हैं। क्‍योंकि Oracle वास्‍तव में SQL व PLSQL Database Programming Languages के Combination का नाम ही Oracle है।

परिणामस्‍वरूप यदि आप Oracle सीखते हैं, तो आप MS-SQL Server, MySQL, Sybase, आदि किसी भी अन्‍य Database को समान प्रकार से उपयोग में ले सकते हैं। यानी इन अन्‍य DBMS Software को सीखने में आपको कोई ज्‍यादा परेशानी नहीं आती है। बल्कि यदि आप Oracle सीखते हैं, तो वास्‍तव में आप इन DBMS Software को भी 70 से 80 प्रतिशत तक सीख चुके होते हैं।

चूंकि लगभग ज्‍यादातर Companies में बनने वाले 90 प्रतिशत Software, Database Application Software ही होते हैं, इसलिये Oracle सीखना आपके लिये उतना ही जरूरी है, जितना किसी Company में Reputed Job पाना। Oracle को सामान्‍यत: बडी कम्‍पनियों में व बडे Software के लिये Use किया जाता है, इसलिये सामान्‍यत: जब आप किसी Oracle Based Company में जॉब प्राप्‍त करते हैं, तो आपकी Job Reputation व Salary दोनों काफी ज्‍यादा होती है।

इसलिये “Oracle” SQL/PLSQL  को आसानी से व अच्‍छी तरह से सीखने के लिए हमने “Oracle – SQL/PLSQL in Hindi” पुस्‍तक तैयार की है, जो आपको Step by Step न केवल एक Professional Database Application Design करना सिखाती है, बल्कि आपको ये भी बताती है कि किसी Professional Application में किसी Requirement को किस तरह से पूरा किया जाना चाहिए, ताकि Software आसानी से Maintainable व Upgradable रहे। साथ ही Database का Data किसी भी प्रकार की अवांछित स्थिति में भी सुरक्षित रहे, जो कि किसी भी Businessman के लिये सबसे जरूरी होता है।

यानी ये पुस्‍तक आपको केवल “Oracle – SQL/PLSQL” ही नहीं सिखाती, बल्कि आपको विभिन्‍न प्रकार की Professional Development से संबंधित जरूरी जानकारी भी देती है। यदि आप Database Development  Database Application Software के Field में अपना Career बनाना चाहते हैं तो ये पुस्‍तक आपके लिए काफी उपयोगी व जरूरी पुस्‍तक है, जिसे आपको जरूर खरीदना चाहिये।

क्‍योंकि उपरोक्‍त Discussion से आप समझ ही गये होंगे कि Oracle काफी बडा व Complex मार्केट Cover करता है और जब बात Data Security की आती है, तब Oracle और भी ज्‍यादा महत्‍वपूर्ण हो जाता है क्‍योंकि आज तक का सबसे ज्‍यादा Secure Database माना जाता है।

इसलिये Professional Oracle Developers की मार्केट में काफी मांग है और यदि आप किसी Oracle Development Company अथवा Database Application Development Company में JOB प्राप्‍त करना चाहते हैं, तो ये पुस्‍तक आपके लिये बहुत ही उपयोगी साबित होगी।

साथ ही यदि आप अपने स्‍तर पर स्‍वयं का Database Application Development का काम शुरू करना चाहते हैं, तब भी Oracle with Java + jDeveloper IDE आपके Development के काम को काफी आसान बना देता है और आप बडी ही आसानी से Best Quality का Database Application Develop कर सकते हैं।

यदि आप चाहें तो पुस्‍तक खरीदने से पहले आप इसके कुछ SAMPLE CHAPTERS को DEMO EBOOK के रुप मे Download करके भी पढ सकते हैं, ताकि आप ये जान सकें कि पुस्‍तक कितनी सरल भाषा में लिखी गई है और आप कितनी आसानी से इस Oracle – SQL/PLSQL को सीख सकते हैं।

ये पुस्‍तक PDF EBook के रूप में है, इसलिए आप इस पुस्‍तक को न केवल अपने Computer पर पढ सकते हैं, बल्कि आप इस पुस्‍तक को किसी भी ADOBE Reader Supported Mobile Phone, Tablet PC, Netbook, Laptop पर भी पढ सकते हैं और इसमें दिये गए Programs व Examples को तुरन्‍त Copy करके अपने Computer पर Run कर सकते हैं व Program का Effect देख सकते हैं।

इस पुस्‍तक को PDF EBook के रूप में खरीदने से सम्‍बंधित किसी भी तरह की समस्‍या के समाधान हेतु आप Mobile Number: 097994-55505 पर Call कर सकते हैं, जहां मैं स्‍वयं आपके पुस्‍तक खरीदने से सम्‍बंधित किसी भी तरह के सवाल का जवाब देता हूं अथवा किसी भी तरह के Confusion को Solve करता हूं।

ये पुस्‍तक न केवल आपके Programming Career को एक नई दिशा देने में मदद करती है, बल्कि यदि आप कोई Degree Level Course जैसे कि BCA, PGDCA, MCA, O-Level, A-Level, B-Level आदि भी कर रहे हैं, तो भी आपके लिए काफी उपयोगी साबित होती है और आपके ज्‍यादातर Syllabus को Cover करती है।

इस पुस्‍तक की सबसे बडी विशेषता ये है कि ये पुस्‍तक आसानी से समझने योग्‍य हिन्‍दी भाषा में लिखी गई है और हिन्‍दी भाषा के क्लिष्‍ट शब्‍दों का प्रयोग करने के स्‍थान पर इसमें English भाषा के शब्‍दों का प्रयोग ज्‍यादा किया गया है क्‍योंकि Computer Programming में English भाषा के शब्‍द, हिन्‍दी भाषा के शब्‍दों की तुलना में ज्‍यादा आसानी से समझ में आ जाते हैं।

और जैसाकि हम सभी जानते हैं कि हर पुस्‍तक में समय-समय पर नए Content Add  होते रहते हैं, जिससे पुस्‍तकों का नया Version आता रहता है। यदि आप इस पुस्‍तक को PDF Format EBook के रूप में खरीदते हैं, तो इस पुस्‍तक के सभी Updated Versions आपको Lifetime Free प्राप्‍त होते हैं, जिनके लिए आपको अलग से कोई Extra Charge कभी भी नहीं देना होता।

यानी इस पुस्‍तक में भविष्‍य में जब भी कोई परिवर्तन किया जाएगा, उस परिवर्तित वर्जन के लिए आपको अलग से कोई Payment नहीं करना होगा, बल्कि हर Updated Version Update होते ही आपको आपके EMail पर Automatically भेज दिया जाएगा, जिसके लिए आपको अलग से Request करने की भी जरूरत नहीं होगी। (Oracle in Hindi)

यदि आप चाहें तो BUY NOW Button को क्लिक करते हुए इस पुस्‍तक को अभी खरीद सकते हैं अथवा DOWNLOAD Button को क्लिक करते हुए इस Website पर उपलब्‍ध सभी EBooks का FREE DEMO Download कर सकते हैं तथा 800+ Pages पढ कर इस बात का निर्णय ले सकते हैं कि ये EBooks आपके लिए कितनी उपयोगी हैं।

BUY NOW DOWNLOAD READ ONLINE

Download All Hindi EBooks

सभी हिन्दी EBooks C, C++, Java, C#, ASP.NET, Oracle, Data Structure, VB6, PHP, HTML5, JavaScript, jQuery, WordPress, etc... के DOWNLOAD LINKS प्राप्‍त करें, अपने EMail पर।

Register करके Login करें। इस Popup से छुटकारा पाएें।