Steps to Create Java Applet

Java Programming Language in Hindiये Article इस वेबसाईट पर Selling हेतु उपलब्‍ध EBook Java in Hindi से लिया गया है। इसलिए यदि ये Article आपके लिए उपयोगी रहा, तो निश्चित रूप से ये पुस्तक भी आपके लिए काफी उपयोगी साबित होगी। 

Java Programming Language in Hindi | Page: 682 | Format: PDF

BUY NOW DOWNLOAD READ ONLINE

Steps to Create Java Applet: किसी Applet को एक Web Page में किस Code द्वारा Embed किया जा सकता है और Web Page को Java Applet का प्रयोग करके किस प्रकार से अधिक Interactive बनाया जा सकता है, इस सम्बंध में थोडी Basic जानकारी लेने के बाद अब हम ये समझेंगे कि Applets को कैसे Develop किया जाता है। साथ ही हम ये भी जानेंगे कि Applets किस प्रकार से काम करते हैं और किस प्रकार से Define किए जाते हैं। यानी हम Applets के Architecture को समझेंगे।

Applet के सम्बंध में सबसे पहली बात ये है कि Applet एक Window-Based Event Driven Program होता है। Event Driven Programming के बारे में हम इसी अध्याय में आगे समझेंगे। चूंकि Applet एक Event Driven Window-Based Program होता है, इसलिए इसका Architecture किसी अन्य Normal Console-Based Program से अलग होता है।

इसलिए Applets Develop करने से पहले हमें ये जानना जरूरी है कि Applets किस प्रकार से काम करते हैं और किस प्रकार से इन्हें Design किया जाता है। Applets विभिन्न प्रकार के Interrupts Service Routines को Handle करने वाले Code Segments या Methods के Implementation पर आधारित होते हैं।

GUI Applications में Mouse या Keyboard से कुछ भी करना Event कहलाता है। यानी Mouse से Click करना या Keyboard से Key Press करना, इन दोनों स्थितियों में कुछ Events Generate होते हैं, जिनके बारे में हम आगे विस्तार से समझेंगे। हमारा Applet इन्हीं Events का इन्तजार करता रहता है। जैसे ही कोई Event Generate होता है, AWT Package Applet द्वारा प्रदान किए गए किसी एक Event Handler Method को Call करता है और Generate होने वाले Event के सम्बंध में जानकारी दे देता है या Notify कर देता है।

एक बार ऐसा हो जाने के बाद Appropriate Action लेने और Control को वापस AWT में Pass करने की जिम्मेदारी Applet की होती है। हम किसी Applet पर जैसे ही किसी Mouse Button से Click करते हैं, एक Mouse Event Generate होता है, जिसे Applet में Define किया गया Handler Respond करता है। इसी तरह से यदि Keyboard से कोई Key Press की जाती है, तो भी एक Event Generate होता है, जिसे Applet का कोई Handler Respond करता है।

किसी Applet से सम्बंधित जितने भी Basic या Primary Initialization व Functionality हैं, उन्हें Applet नाम की Class में Define किया गया है। Applet नाम की ये Class applet नाम के Package में उपलब्ध है।

चूंकि जावा OOPS के Concepts को Implement करता है और एक पूर्ण Object Oriented Programming Language है, इसलिए हम इसमें Inheritance Concept को पूरी तरह से Apply कर सकते हैं और Packages में Classes के रूप में Stored विभिन्न प्रकार के पहले से Define किए गए Codes को ज्यों का त्यों Reuse कर सकते हैं। इसलिए Applet Class को Inherit करके हम एक Applet से सम्बंधित विभिन्न Basic Initialization व Functionality को प्राप्त कर सकते हैं।

चलिए, अब हम एक Applet को Applet Class से Inherit करके Applet Class की विभिन्न Properties व Functionality को प्राप्त करते हैं, यानी एक Applet बनाते हैं।

// File Name: MyFirstApplet.java
// Inheriting An Applet from Built–In Applet Class

import java.awt.*;
import java.applet.*;

public class MyFirstApplet extends Applet
{
}

इस Code को एक Notepad में लिखें “C:” Derive में एक JAVASOURCE नाम का Folder बना कर उसमें MyFirstApplet.java नाम से Save करें। अब Command Prompt पर जाकर निम्न Statement द्वारा उस Folder में पहुंचे, जहां पर MyFirstApplet.java को Save किया है, यानी JavaSource Folder में पहुंचें।

C:\> CD JAVASOURCE   // Press Enter

अब दिखाई देने वाला Command Prompt निम्नानुसार होगाः

C:\JAVASOURCE> <br />

अब Source File को Compile करने के लिए निम्न Command Type करें:

C:\JAVASOURCE>javac MyFirstApplet.java // Press Enter

जब बिना किसी Error के File Compile हो जाएगी, तब JAVASOURCE Folder में एक नई File बनेगी जिसका Extension .class होगा। यानी हमारी Source File Compile होने के बाद MyFirstApplet.class नाम की एक Class File बनेगी। ये File एक Executable File होती है, जिसे किसी भी Platform में किसी भी Browser द्वारा एक Web Page में Embed करके Run किया जा सकता है। इस Applet को Test करने के लिए हमें एक Web Page बनाना होगा। Web Page बनाने के लिए एक Notepad में निम्न HTML APPLET Tag लिख कर उसमें MyFirstApplet.class Filed को Embed कर सकते हैं।

<html>
<body>
<center> Welcome to the world of Java. </center>
<center>
<applet code="MyFirstApplet.class" height="100" width="400"></applet>
</center>
</body>
</html>

Notepad में ये HTML Tabs लिखने के बाद File को उसी Folder में Save करना होता है, जहां पर Java Applet की Class File Stored है। हम ये मान रहे हैं कि हमारी Source File व उसकी Class File दोनों ही “C:\JAVASOURCE” में Stored हैं। इसलिए इस HTML File को भी हमें यहीं पर Store करना होगा।

यदि हमारा Browser Java को Support करता है या Java Enabled है, तो हम Create होने वाले MyFirstApplet.html Web Page को Open करके Applet को Web Page में देख सकते हैं। Netscape Navigator एक Java Enabled Web Browser है, जिसमें हम किसी भी Web Page में Contained Applet को Directly देख सकते हैं। यानी यदि हम MyFirstApplet.HTML File को Open करें, तो हमें ये File निम्नानुसार दिखाई देगीः

यदि हमारा Browser Java Enabled नहीं हैं, तो हमें जावा के साथ आने वाले Appletviewer का प्रयोग करके हमें अपने Applet को Test करना होता है। Appletviewer का प्रयोग करके Applet को Test करने के लिए MyFirstApplet.HTML File Create करने के बाद Command Prompt पर निम्नानुसार Command लिखना होता हैः

C:\JAVASOURCE>Appletviewer MyFirstApplet // Press Enter

जब ये Command लिखकर Enter Key Press करते हैं, तो हमें Output में निम्नानुसार Applet Viewer दिखाई देता है।

चलिए, अब हम इस Applet की Coding को समझने की कोशिश करते हैं। कोई भी Applet Create करने के लिए हमें जावा में पहले से Define की गई Applet Class के गुणों को Inherit करने के लिए एक Sub Class बनानी पडती है और पहले से बनी हुई Applet Class के सभी गुणों व Functionality को Derive करना पडता है। जावा किसी Class को Inherit करने के लिए extends Keyword का प्रयोग करना होता है।

यानी जब हम अपनी कोई Applet Class बनाना चाहते हैं, तब हमें हमारी Applet Class को जावा की Applet Class से Inherit करना पडता है, ताकि हम हमारी Class में किसी Applet से सम्बंधित विभिन्न प्रकार की Properties व Functionality को ज्यों का त्यों प्राप्त कर सकें और बिना किसी प्रकार के विशेष Overhead के एक Applet Create कर सकें।

extends Keyword का प्रयोग इसलिए किया गया है, क्योंकि जावा में Applet से सम्बंधित जो Built – In सुविधाएं प्रदान करता है, हम उन सुविधाओं को तो ज्यों का त्यों Use कर लेते हैं, साथ ही Create होने वाली Sub Class में अपनी आवश्‍यकतानुसार नए Features भी Add कर सकते हैं। हमने हमारी Coding में निम्न Statement द्वारा जावा की Applet Class को Inherit किया हैः

public class MyFirstApplet extends Applet
{
}

इस Statement में हमने जावा Compiler को बताया है कि हम Applet Class को Extend करके एक नई Class बना रहे हैं, जिसका नाम MyFirstApplet है और ये एक Public Class है। Public एक Access Specifier है, जो ये बताता है कि इस Class के Objects को किसी भी अन्य Class में Create किया जा सकता है। Access Specifies के बारे में हम आगे विस्तार से चर्चा करेंगे। (Steps to Create Java Applet)

Embed Java Applet in HTML Example
Applet Life Cycle Methods

******

ये पोस्‍ट Useful लगा हो, तो Like कर दीजिए।

Java Programming Language in Hindiये Article इस वेबसाईट पर Selling हेतु उपलब्‍ध EBook Java in Hindi से लिया गया है। इसलिए यदि ये Article आपके लिए उपयोगी रहा, तो निश्चित रूप से ये पुस्तक भी आपके लिए काफी उपयोगी साबित होगी। 

Java Programming Language in Hindi | Page: 682 | Format: PDF

BUY NOW DOWNLOAD READ ONLINE

Download All Hindi EBooks

सभी हिन्दी EBooks C, C++, Java, C#, ASP.NET, Oracle, Data Structure, VB6, PHP, HTML5, JavaScript, jQuery, WordPress, etc... के DOWNLOAD LINKS प्राप्‍त करें, अपने EMail पर।

Register करके Login करें। इस Popup से छुटकारा पाएें।