String Manipulation in C

CPP Programming Language in Hindiये Article इस वेबसाईट पर Selling हेतु उपलब्‍ध EBook C++ Programming Language in Hindi से लिया गया है। इसलिए यदि ये Article आपके लिए उपयोगी रहा, तो निश्चित रूप से ये पुस्तक भी आपके लिए काफी उपयोगी साबित होगी। 

C++ Programming Language in Hindi | Page: 666 | Format: PDF

BUY NOW DOWNLOAD READ ONLINE

String Manipulation in C:C” और “C++” में कई ऐसे Functions हैं जो Strings पर काम करते हैं। जैसे String को Copy करने, Compare करने, Search करने आदि के लिए कई Built – In Library Function “C++” में उपलब्ध हैं।

Length of String – strlen() Function

ये Function किसी भी String की Length Argument के रूप में Return करता है। इसे समझने के लिए निम्न Statements देखिए:

	char string[] = “Kuldeep";
	cout << “Length of string = ” << strlen(string);

	//The output would be 
	Length of string = 7

ये Function Null Character को छोडकर String की Actual Length Return करता है। हालांकि यहां strlen() Function से 7 Return हो रहा है लेकिन वास्तव में इस Array में 8 Characters हैं।

Copying String – strcpy() Function

इस Function का प्रयोग करके हम एक String Variable या Constant को दूसरे String Variable में Copy कर सकते हैं। इसे समझने के लिए निम्न Statements देखें:

	char stringSource[] = “Kuldeep";
	char stringDestination[10];

	strcpy(stringDestination, stringSource);

	cout << stringDestination;

	//The output would be 
	Kuldeep

stringDestination Variable मे stringSource Variable की String Copy हो जाती है। जब हम stringDestination को Output में Display करते हैं तो उसमें वही String होती है जो stringSource Variable में होती है। इस तरह से हम strcpy() Function का प्रयोग करके किसी String को दूसरे Variable में Copy कर सकते हैं।

Appending Strings – strcat() Function

हम दो Strings को आपस में जोड कर तीसरी String भी प्राप्त कर सकते हैं। दो Strings को Add करने के लिए हमें strcat() Function का प्रयोग करना होता है। हम ये काम निम्नानुसार कर सकते हैं:

	char string1[15] = “Kuldeep";
	char string2[] = “ Mishra";

	strcat(string1, string2);

	cout << string1;

	//The output would be 
	Kuldeep Mishra

यहां हम string1 में string2 को जोड रहे हैं। ये बात हमेंशा ध्‍यान रखनी चाहिए कि जब हम दो Strings को जोड रहे होते हैं तो जिस String में दोनों String जुडने वाली हैं उसकी Size दोनों String की Size के बराबर होनी चाहिए। यदि Size कम होगी तो Error Generate होगा। इसे समझने के लिए निम्न Coding देखिए:

	char string1[] = “Kuldeep";	//Size of string1 is 8
	char string2[] = “Mishra";	//Size of string1 is 7

	strcat(string1, string2);

	cout << string1;		//Size of string1 is must be now 16

	//The output would be 
	Kuldeep Mishra

string1 की Size 8 है। जब इसमें string2 को Add किया जाता है तब string1 में कुल 15 Characters व एक Null Character यानी कुल 16 Characters को Store करने जितनी Space होनी चाहिए जबकि string1 की Size केवल 8 है। इस स्थिति में ये दोनों String Add नहीं होती है बल्कि एक Error Generate होता है।

Comparing Strings – strcmp() Function

दो Strings की तुलना करने के लिए हम strcmp() Function को Use कर सकते हैं। इस Function में हमें Argument के रूप में दो Strings देनी होती है जिनके बीच में तुलना करवानी है। यदि दोनों Strings एक समान हो तो ये Function 0 Return करता है और यदि Strings एक समान ना हो, तो ये Function तब –1 Return करता है। जब पहली String Alphabetical Order में पहले आती हो और 1 Return करता है यदि दूसरी String Alphabetical Order में पहले आती हो।

char name[] = “Smith";
n1 = strcmp(name, “Renaldo”);  <--returns 1 (first argument follows second)
n2 = strcmp(name, “Smith”);    <--returns 0 (first argument same as second)
n3 = strcmp(name, “Townsend”); <--returns -1 (first argument precedes second)

यहां हम देख सकते हैं की दूसरी String पहली String के समान है इसलिए ये Function 0 Return करता है। लेकिन पहले Statement में 1 Return हो रहा है।

ऐसा इसलिए क्योंकि पहली String S से शुरू हो रही है जबकि दूसरी String R से शुरू हो रही है। R S से पहले आता है इसलिए यहां 1 Return हो रहा है जबकि तीसरे Statement में दूसरी String का T  S के बाद आता है, इसलिए तीसरा Statement –1 Return कर रहा है।

ये एक Case Sensitive Function है। इसके स्थान पर हम stricmp() Function का प्रयोग भी कर सकते हैं। ये Function भी दो Strings को समान प्रकार से Compare करता है लेकिन ये एक Case Insensitive Function है। कुछ String Functions ऐसे भी हैं जिन्हें समझने से पहले Pointers को समझना जरूरी होता है। Functions को हम बाद में समझेंगे इसलिए उन Functions को यहां पर Use करना नहीं सीख रहे हैं।

हालांकि हम “C++” में आने वाली string सम्बंधित Class को Use करके विभिन्न प्रकार के Strings Operations कर सकते हैं। लेकिन हम यहां पर बिना इस Class को Use किए Strings पर विभिन्न प्रकार के Operations करना सीखेंगे। ये प्रक्रिया अधिक उपयोगी है क्योंकि इससे हम “C++” को अधिक अच्छी तरह से समझ सकते हैं।

Const Variable - MUST Use to Protect Data
Self Made String Class - Step by Steps

******

ये पोस्‍ट Useful लगा हो, तो Like कर दीजिए।

CPP Programming Language in Hindiये Article इस वेबसाईट पर Selling हेतु उपलब्‍ध EBook C++ Programming Language in Hindi से लिया गया है। इसलिए यदि ये Article आपके लिए उपयोगी रहा, तो निश्चित रूप से ये पुस्तक भी आपके लिए काफी उपयोगी साबित होगी। 

C++ Programming Language in Hindi | Page: 666 | Format: PDF

BUY NOW DOWNLOAD READ ONLINE

Download All Hindi EBooks

सभी हिन्दी EBooks C, C++, Java, C#, ASP.NET, Oracle, Data Structure, VB6, PHP, HTML5, JavaScript, jQuery, WordPress, etc... के DOWNLOAD LINKS प्राप्‍त करें, अपने EMail पर।

Register करके Login करें। इस Popup से छुटकारा पाएें।