HTML Tags and Elements. Simple but useful differences.

HTML5 with CSS3 in Hindiये Article इस वेबसाईट पर Selling हेतु उपलब्‍ध EBook HTML5 with CSS3 in Hindi से लिया गया है। इसलिए यदि ये Article आपके लिए उपयोगी रहा, तो निश्चित रूप से ये पुस्तक भी आपके लिए काफी उपयोगी साबित होगी। 

HTML5 with CSS3 in Hindi | Page: 481 | Format: PDF

BUY NOW DOWNLOAD READ ONLINE

Difference between HTML Tags and Elements: यदि हम अपने Example की पहली व आखिरी Code Line को देखें, तो हम एक HTML Tag Pair को देख सकते हैं जिसमें <html></html> लिखा गया है। दो Opening and Closing Angle Brackets व उसमें लिखे गए Texts को Tag कहा जाता है। हम देख सकते हैं कि हमारे Example में बहुत सारे Tags का प्रयोग किया गया है।

हमारे उदाहरण में हर Tag एक जोडे के रूप में है। Opening Tag व Closing Tag में केवल इतना अन्‍तर होता है कि Closing Tag में हमेंशा एक Forward Slash का प्रयोग किया जाता है। जब एक HTML Tag Pair के बीच कुछ Information Texts को लिखा जाता है, तब बनने वाले पूरे Statement को Element कहा जाता है। इसे हम इस चित्र द्वारा समझ सकते हैं:

HTML Tags and Elements - XHTML in Hindi

HTML Tag and Element

पिछले उदाहरण में हमने सबसे पहले <html></html> Tag Pair को उपयोग में लिया है। किसी भी Web Page में लिखा जाने वाला ये एक जरूरी Element है, क्‍योंकि Web Page में जो कुछ भी दिखाई देता है, वह सबकुछ इसी Tag Pair में लिखा जाना जरूरी होता है।

हर <html></html> Tag Pair के हमेंशा दो हिस्‍से होते हैं, जिनमें पहला हिस्‍सा Web Browser व Search Engines से सम्‍बंधित जानकारियों के लिए होता है। इस हिस्‍से को <head></head> Tag Pair के रूप में Identify किया जाता है, जबकि दूसरा हिस्‍सा <body></body> Tag Pair के रूप में होता है और हम अपने Web Page को Structure करने के लिए जितने भी Tags उपयोग में लेते हैं उन सभी Tags को यहीं Use करना होता है।

उदाहरण के लिए Web Page का Title Web Browser के Title Bar में दिखाई देता है, इसलिए <title></title> Tag Pair को हमने <head> Element में उपयोग में लिया है, जबकि अपने Web Page के Contents की Heading को Web Browser में Render करने के लिए हमने <h1> Element का प्रयोग <body> Element में किया है।

हमने पहले भी उल्‍लेख किया था कि Markup Tags Documents में किसी Text को Highlight करने अथवा उसे Special Meaning देने का काम करते हैं। ये Tags Browser को जो Special Meaning देते हैं, वे Description ही Document को Structure करते हैं। हमारे उदाहरण में जब हम <h1> Opening Tag User करते हैं, तो ये Tab Web Browser को बताता है कि यहां से Heading 1 का Text शुरू हो रहा है, जबकि </h1> Closing Tag Web Browser को बताता है, कि यहां पर Heading 1 का Text समाप्‍त हो रहा है। यदि हम इन Tags का प्रयोग ना करें, तो सारे Texts Web Browser के लिए सामान्‍य Texts होंगे और Browser किसी भी Text को अलग तरह से Markup या Highlight नहीं करेगा।

विभिन्‍न प्रकार के HTML Tags ही Web Browser को बताते है, कि किस Text को Heading के रूप में Render करना है और किस Text को सामान्‍य Paragraph क रूप में। कई बार हमें एक Element के अन्‍दर दूसरे Element की Nesting करनी पडती है। इस स्थिति में Outer Element Parent Element कहलाता है, जबकि Inner Element Child Element कहलाता है। (Difference between HTML Tags and Elements)

Create First HTML Page following these steps.
Head and Body Section of Webpage

******

ये पोस्‍ट Useful लगा हो, तो Like कर दीजिए।

HTML5 with CSS3 in Hindiये Article इस वेबसाईट पर Selling हेतु उपलब्‍ध EBook HTML5 with CSS3 in Hindi से लिया गया है। इसलिए यदि ये Article आपके लिए उपयोगी रहा, तो निश्चित रूप से ये पुस्तक भी आपके लिए काफी उपयोगी साबित होगी। 

HTML5 with CSS3 in Hindi | Page: 481 | Format: PDF

BUY NOW DOWNLOAD READ ONLINE

Download All Hindi EBooks

सभी हिन्दी EBooks C, C++, Java, C#, ASP.NET, Oracle, Data Structure, VB6, PHP, HTML5, JavaScript, jQuery, WordPress, etc... के DOWNLOAD LINKS प्राप्‍त करें, अपने EMail पर।

Register करके Login करें। इस Popup से छुटकारा पाएें।