Virtual Products – Everything that can be sold

WordPress in Hindi - BccFalna.comये Article इस वेबसाईट पर Selling हेतु उपलब्‍ध EBook WordPress in Hindi से लिया गया है। इसलिए यदि ये Article आपके लिए उपयोगी रहा, तो निश्चित रूप से ये पुस्तक भी आपके लिए काफी उपयोगी साबित होगी। 

WordPress in Hindi | Page: 420 | Format: PDF

BUY NOW DOWNLOAD READ ONLINE

Virtual Products: Products हमेंशा Physical ही हो, ऐसा जरूरी नहीं है। बल्कि वर्तमान समय में तो Virtual Products भी काफी ज्‍यादा हैं। इसलिए जब हम Product शब्द Use करते हैं, तो आपको इसे इस तरह से समझना होता है कि केवल दिखाई देने वाली चीज ही Product नहीं होती, बल्कि हर वो चीज जो कि Purchase/Sale हो सके व Income Generate कर सके, हम उसे Product कह सकते हैं।

इस परिभाषा के अनुसार Insurance Policy भी एक प्रकार का Product होता है, हालांकि ये दिखाई नहीं देता। इसी प्रकार से Domain Name, Web Hosting, Ebook, Website, Blog, Software आदि भी Products ही हैं, क्योंकि इन्हें खरीदा या बेचा जा सकता है और Web पर ये Product ही सबसे ज्‍यादा Income Generate करते हैं, हालांकि ये Products ऐसे नहीं हैं, जिन्हें आप Touch करके महसूस किया जा सके।

इसी तरह से यदि आप Computer Repairing करते हैं, या किसी कम्पनी के किसी Software में कोई Modification करते हैं, जिसे आपने Develop नहीं किया है, या एक Lawyer के रूप में आप अपने Client को कोई सलाह देते हैं, तो इस प्रकार के Products को Services के नाम से जाना जाता है। यहां Services को भी Products इसलिए कहा जा सकता है, क्योंकि इन Services के बदले भी आपको किसी न किसी प्रकार का Income प्राप्त होता है और हर वह चीज, जो Income Generate करे, Product ही होता है। इसलिए यदि आप Real World में किसी Specific प्रकार की Service Provide करते हैं, तो आप उस Service को Online Promote करने के लिए भी Website Create कर सकते हैं।

परिणामस्वरूप जिन लोगों को आप द्वारा Provide की जाने वाली Service की जरूरत होगी, वे लोग आपको Contact करेंगे, जिसके बदले में आप उन्हें Charge करेंगे और आपका Offline Business भी आपकी Online Identity यानी आपकी Website के माध्‍यम से Increase होगा।

उदाहरण के लिए मानलो कि आप Computer Repairing करना जानते हैं और आप अपने Customer को Home Service Provide करते हैं। यानी आपके Customer का Call आने पर आप सभी जरूरी सामान लेकर उसके घर जाते हैं और उसके Computer को Repair करने के बदले में उससे अपना मेहनताना वसूल करते हैं।

अब यदि आपकी स्वयं की Personal Website नहीं है, तो उस स्थिति में जो लोग आपको जानते हैं, केवल वे लोग ही आपकी Service प्राप्त करने के लिए आपको Contact कर सकते हैं। लेकिन यदि आपकी Personal Website हो, जिस पर आपकी Qualification, Work Experience, Current Schedule, Contact Information, आप द्वारा Provide की जाने वाली Services व Offers आदि की जानकारी हो, तो उस स्थिति में जब किसी व्‍यक्ति का Computer खराब होगा और यदि वह अपने Local Area के किसी Serviceman को Contact करने के लिए या उसके बारे में जानकारी प्राप्त करने के लिए Internet पर Searching करेगा, तो निश्चित रूप से उसके पास एक रास्ता होगा कि वह आप तक पहुंच सके व आपकी Website के माध्‍यम से आपके बारे में जानने के बाद आपकी Contact Information प्राप्त करके आपको Contact कर सके।

आप समझ सकते हैं कि निश्चित रूप से ये तरीका आपके Offline Business को भी Increase करेगा क्योंकि अब आपकी Website के माध्‍यम से आप तक वह Customer भी पहुंच सकता है, जो कि आपके बारे में कुछ भी नहीं जानता। इतना ही नहीं, आपके Local Area के आप-पास के लोग भी आपको Contact कर सकते हैं और आप इस प्रकार के Out-of-Town लोगों को Service Provide करने के लिए Extra Charge भी कर सकते हैं।

इस प्रकार से आप अपनी Services को भी अपनी Website के माध्‍यम से Promote व Sale कर सकते हैं। जबकि यदि आपकी स्वयं की कोई Offline Shop है, तो उस Shop द्वारा Sale किए जाने वाले Physical Products को भी आप अपनी Website पर Promote कर सकते हैं व अपने Local व आस-पास के Area के अन्‍य Customers को भी ज्‍यादा बेहतर तरीके से Capture करते हुए अपने Products की Selling को Increase करके अपने Offline Business को भी बढा सकते हैं।

उदाहरण के लिए मानलो कि आपकी एक Handloom यानी कपडों की दुकान है, जहां आप विभिन्न प्रकार के Latest Fashion के कपडे Sale करते हैं। अब यदि आपकी Website नहीं है, तो केवल वे ही Customers आपकी Offline Shop पर आऐंगे, जिन्हें वास्तव में किसी Specific Occasion (Festival, Marriage, Birthday, etc…) के कारण कपडों की Shopping करनी होगी और जिन्हें पहले से पता होगा कि आपकी Shop पर Latest Fashion के कपडे मिलते हैं।

लेकिन यदि आपके Offline Business से सम्बंधित एक Online Website भी है, जिस पर आप अपने हर नए Fashion से सम्बंधित कपडों की नई-नई Images Update करते रहते हैं व Festival या किसी अन्‍य प्रकार के Special Occasion पर Special Offers Update करते रहते हैं, तो उस स्थिति में यदि कोई व्‍यक्ति Internet का प्रयोग करते हुए अपने Laptop या Mobile पर Latest Fashion के कपडों की खरीदारी करने से सम्बंधित Shops की Searching करेगा, तो Local Area की Priority के कारण आपके Shop की Information उसके सामने Display होगी और वह Customer आपकी Offline Shop पर जरूर आ,गा या Online Website द्वारा Contact Information प्राप्त करके वह आपसे जरूर Contact करेगा।

इतना ही नही, यदि आपकी Website पर E-Commerce की सुविधा उपलब्ध हो, जहां सभी Online Orders को Home Delivery के माध्‍यम से पूरा किए जाने की सुविधा हो, तो हो सकता है कि वह Customer घर बैठे किसी Specific Dress के लिए Order कर दे और Home Delivery करते समय उस Order किए गए Dress का Payment कर दे। जबकि Home Delivery के रूप में आप उसे कुछ Extra Charge भी कर सकते हैं।

यानी आपके Offline Business से सम्बंधित Products, Physical हों या Logical अथवा आप चाहे किसी भी प्रकार की Service Provide करते हों, हर स्थिति में एक Website निश्चित रूप से आपके Business को Increase ही करती है।

Using WordPress Themes to control WordPress Website's Look and Feel?
Create Own Product if you really want to Earn Online

WordPress in Hindi - BccFalna.comये Article इस वेबसाईट पर Selling हेतु उपलब्‍ध EBook WordPress in Hindi से लिया गया है। इसलिए यदि ये Article आपके लिए उपयोगी रहा, तो निश्चित रूप से ये पुस्तक भी आपके लिए काफी उपयोगी साबित होगी। 

WordPress in Hindi | Page: 420 | Format: PDF

BUY NOW DOWNLOAD READ ONLINE

Download All Hindi EBooks

सभी हिन्दी EBooks C, C++, Java, C#, ASP.NET, Oracle, Data Structure, VB6, PHP, HTML5, JavaScript, jQuery, WordPress, etc... के DOWNLOAD LINKS प्राप्‍त करें, अपने EMail पर।

Register करके Login करें। इस Popup से छुटकारा पाएें।