Web Hosting Selection Criteria – Only 5 Things to Consider

WordPress in Hindi - BccFalna.comये Article इस वेबसाईट पर Selling हेतु उपलब्‍ध EBook WordPress in Hindi से लिया गया है। इसलिए यदि ये Article आपके लिए उपयोगी रहा, तो निश्चित रूप से ये पुस्तक भी आपके लिए काफी उपयोगी साबित होगी। 

WordPress in Hindi | Page: 420 | Format: PDF

BUY NOW DOWNLOAD READ ONLINE

Web Hosting Selection Criteria: पिछले Discussion से आप समझ ही गए होंगे कि एक नई Website को Host करने के लिए आपको Dedicated Server की जरूरत नहीं है, क्योंकि जब तक आपकी Website Running Condition में नहीं आ जाती, तब तक आप अपनी Website को Shared Hosting पर Host कर सकते हैं।

साथ ही आपके Online Business की शुरूआत करने के लिए Shared Hosting ही सबसे सस्ती Hosting है और जब तक आप Online Business व Website से सम्बंधित विभिन्न प्रकार की जरूरी Technical बातों को ठीक से नहीं समझ जाते, तब तक Higher Hosting Plan पर Upgrade करने का कोई मतलब भी नहीं होता, क्योंकि आपको पता ही नहीं होता कि आपको Upgraded Plan लेने की जरूरत है भी या नहीं।

लेकिन Web पर हजारों Shared Hosting Providers हैं, जिनमें से Best Hosting Provider को Select करना अपने आप में काफी जटिल काम है। क्योंकि केवल सस्ता या महंगा होने मात्र से Hosting के अच्छा या बुरा होने का पता नहीं लगाया जा सकता। इसलिए Web Hosting का Selection करते समय भी कुछ बातों को ध्‍यान में रखते हुए ही एक उपयुक्त Web Hosting Provider का पता लगाया जा सकता है।

यहां एक बात अच्छी तरह से समझ लेना उपयोगी होगा कि कोई भी Hosting Provider Best नहीं होता, बल्कि सभी की एक Limitation होती है और कोई Particular Hosting Provider आपकी Website के लिए उपयुक्त है या नहीं, इस बात का पता आपके Website की Requirements के आधार पर ही लगाया जा सकता है। फिर भी सामान्‍यत: विभिन्‍न Hosting Providers जिन Hosting Factors को बहुत ही जोर देकर Highlight करते हैं, उनके बारे में ठीक से जान लेना जरूरी है, ताकि आप किसी गलत Hosting Provider के चक्‍कर में न फंस जाऐं।

1. Unlimited is not really Unlimited

Web Hosting Search करते समय आपको कई प्रकार के Resources के साथ Unlimited शब्द देखने को मिलेगा। जैसे Unlimited Bandwidth या Unlimited Web Space आदि। इस Unlimited का मतलब ये नहीं है कि आप Google या Yahoo के Server पर जितना Data Stored है, उतना या उससे ज्‍यादा Data Store कर सकते हैं।

बल्कि इस Unlimited का मतलब केवल इतना ही है कि यदि आपने जिस Hosting Provider से Shared Hosting Purchase किया है, उसके Server पर 1TB की Hard Disk है, तो आप उस 1TB Hard Disk में Currently जितना Space Available है, उतने Space तक को अपना Data Host करने के लिए Use कर सकते हैं।

जबकि एक Shared Hosting पर यदि 100 Websites पहले से Host हो रही हैं, तो यही बात हर Website पर Apply होगी। यानी सभी 100 Websites मिलकर उस 1TB की Hard Disk पर तब तक अपना Data Upload कर सकते हैं, जब तक कि उस पर Space Available हो।

अत: Web Hosting के सन्दर्भ में कुछ भी Unlimited नहीं होता, बल्कि हर Unlimited का मतलब उस Server System पर उपलब्ध Resources की Maximum Limit से होता है, जो कि Use करने के लिए Currently Available होता है।

2. Start with Low Price but not with Lowest Price Plan

Shared Hosting सबसे सस्ती Web Hosting होती है, लेकिन इसमें भी $0.5 से $10 प्रति माह की Range में आपको Web Hosting के लिए Payment करना पड सकता है, जिसका मतलब ये नहीं है कि $0.5 प्रतिमाह वाली Web Hosting सबसे खराब Quality की है और $10 प्रतिमाह वाली अच्छी Quality की। वास्तव में Price इतना महत्वपूर्ण नहीं होता, जितना हमें उस Price के बदले में मिलने वाली Services होती हैं।

सामान्‍यत: कम Price वाली Hosting में हमें Bandwidth व Web Space कम प्राप्त होता है। जबकि अन्‍य Open Services लगभग समान ही होती हैं। लेकिन Open Services के अलावा कुछ Hidden Services भी होती हैं, जिन्हें ज्‍यादा Technical होने की वजह से Web Hosting Provider द्वारा Specify या Highlight नहीं किया जाता।

उदाहरण के लिए कम Price वाले Plan में आपकी Website को Slow Speed वाले Server System पर Place किया जाता है, जिसका Configuration जैसे कि RAM, Disk Space, Processor Speed, Network Connection Speed आदि कम होते हैं।

परिणामस्वरूप आपके Website की Speed भी Slow रहती है। इनके अलावा Per Hour आप द्वारा Send किए जा सकने वाले अधिकतम Emails की संख्‍या तथा समान समय पर Establish हो सकने वाले Concurrent Connections की संख्‍या भी कम होती है।

लेकिन जैसे&जैसे आप Shared-Hosting में Higher Plans पर Upgrade करते जाते हैं, आपकी Website को Higher Configuration वाले Web Servers पर Move कर दिया जाता है, आपके Per Hour Emails Send करने की Limit बढा दी जाती है, आपके Website के Concurrent Connections की संख्‍या Increase हो जाती है। आपकी Website द्वारा Use की जा सकने वाली Bandwidth व Disk Space को भी बढा दिया जाता है।

परिणामस्वरूप आपकी Website को ज्‍यादा RAM, ज्‍यादा Disk Space, Fast Network Connection Speed व Fast CPU वाले Server System पर Move करने की वजह से आपके Website की Performance यानी Loading Speed भी बढ जाती है।

इसलिए आप अपनी Website को Basic Plan का प्रयोग करते हुए शुरूआत कर सकते हैं, जबकि जैसे&जैसे आपको महसूस होता है कि आपको Higher Plan की जरूरत है, आप Higher Plan पर Upgrade कर सकते हैं।

यदि आपके Website की Hosting Requirements ज्‍यादा हो, यानी यदि आपका Website ज्‍यादा Shared Resources Use कर रहा हो, तो Web Hosting Provider आपको इस बात की Information भी देता है अथवा आप अपने cPanel में Login करके इस बात का पता लगा सकते हैं कि आपकी Website किस प्रकार से Behave कर रही है या कौनसा Resource कितना Use कर रही है, जिसके आधार पर आप इस बात का निर्णय ले सकते हैं कि आपको Upgraded Plan लेने की जरूरत है या नहीं।

3. Bandwidth and Disk Space

सामान्‍यत: किसी भी Web Hosting Plan में इन्हीं दोनों Configurations को सबसे ज्‍यादा Highlight किया जाता है। जबकि वास्तव में सभी प्रकार की Websites के लिए High Bandwidth व बहुत ज्‍यादा Disk Space की जरूरत नहीं होती, जब तक कि आपकी Website में बहुत सारा Image व Audio-Video Content न हो क्योंकि Image, Audio व Video Content के कारण ही आपको ज्‍यादा Disk Space व ज्‍यादा Bandwidth की जरूरत होती है।

उदाहरण के लिए यदि कोई Hosting Provider आपको 1GB का Web Space व 10GB का Monthly Bandwidth दे रहा है, तो इसका मतलब ये है कि आपकी Website से सम्बंधित Web Resources 1 GB से ज्‍यादा नहीं हो सकते और प्रतिमाह आपकी Website के विभिन्न Webpages को Open करने के कारण Web Server से Client के Web Browser में Transfer होने वाला Data अधिकतम 10 GB से ज्‍यादा नहीं हो सकता।

अब यदि आप अपनी Website पर अपने Visitor को Songs Download करने की सुविधा देना चाहते हैं, तो एक Song की Average Size लगभग 5MB होती है। यानी 10 GB के Web Space पर आप अधिकतम 2040 (10 x 1024 / 5) Songs ही Hold रख सकते हैं। जबकि जब से Songs बनने शुरू हुए हैं, तब से अब तक लाखों Songs बन चुके होंगे। ऐसे में ये 10GB Storage Space देने वाला Web Hosting Plan आपकी Website के लिए किसी काम का नहीं है।

इसी तरह से यदि आप कोई ऐसी Website बनाना चाहते हैं, जिस पर लोग Photo Sharing कर सकें, तो एक अच्छी Quality के Photo की Size कम से कम 1MB तो होती ही है। ऐसे में 10GB के Web Space पर आप अधिकतम 10 x 1024 x 1 = 10240 से ज्‍यादा Photos को Hold नहीं कर सकते।

Video File की Size तो और भी ज्‍यादा होती है। सामान्‍यत: औसतन एक अच्छी Quality के MP4 Movie Video की Size भी 500 MB के आसपास होती है। ऐसे में 10GB के Storage Space पर 20 से ज्‍यादा Movies को Hold नहीं किया जा सकता।

जबकि यदि आपकी Website BccFalna.com की तरह एक Text Content आधारित Website है, तो हजारों Webpages Create करने के बावजूद आपको अपने Web Host पर 1GB जितने Web Storage Space की भी जरूरत नहीं पडेगी, क्योंकि यदि किसी Webpage में कोई Multimedia Resource जैसे कि Image, Animation, Audio या Video आदि न हो, तो सामान्‍यत: Webpage की कुल Size औसतन 100 KB से ज्‍यादा नहीं होती। ऐसे में 10GB के Web Spate पर 10 x 1024 x 0.100 = 102400 Webpages Hold हो सकते हैं।

इस तरह से Image, Audio या Video आधारित Website के लिए 10GB का Storage Space कोई मायना नहीं रखता, लेकिन एक Pure Text Content Website के लिए तो 1GB का Web Space भी जरूरत से बहुत ज्‍यादा होता है।

जब हम Bandwidth की बात करते हैं, तब तो बात और भी Tricky हो जाती है। उदाहरण के लिए यदि आपका Web Hosting Provider आपको 20GB Monthly Bandwidth Provide करता है और आपकी Website एक Pure Content Website है, जिस पर Stored विभिन्न Webpages की Average Size 200KB है। तो इसका मतलब है कि जब आपकी Website के विभिन्न Visitors आपकी Website के 5 Webpages को Visit करेंगे, तो आपके Hosting Plan का 1MB ( 200KB x 5 = 1000KB = 1MB) का Bandwidth Use होगा।

यानी 20GB का Bandwidth Limit तब पूरा होगा जब आपकी Website के विभिन्न Visitors द्वारा आपकी Website पर उपलब्ध विभिन्न Webpages को (20 x 1024 x 5) 102400 बार Web Browser में Load किया जाएगा और बिल्‍कुल शुरूआत में इतना Monthly Page View प्राप्त करना एक सामान्‍य Website के बस की बात नहीं है, जब तक कि बहुत सारे लोगों की पूरी एक Team उस एक Single Website के लिए ही Content Development का काम न कर रही हो।

लेकिन इसी 20GB वाली Web Hosting पर यदि आप Photo Sharing Site Host करेंगे, तो एक Image की Average Size 1MB होने की स्थिति में यदि आपकी Website के एक Page पर केवल एक ही Photo हो, तो आपकी Website के Visitor के Web Browser में अधिकतम 20 x 1024 / 1 = 20480 बार Page Load होते ही आपकी Bandwidth समाप्त हो जाएगी।

जबकि इसी स्थान पर Songs की Website होने पर एक Webpage पर औसतन 5 Downloadable Songs Exist होने की स्थिति में 20 x 1024 / 5 = 4096 बार Song Download होते ही आपकी 20GB की Bandwidth समाप्त हो जाएगी और Video Related Website होने पर एक Webpage पर 500MB का केवल एक MP4 Video होने की स्थिति में केवल 20 x 1024 / 500 = 40 बार Video Download होते ही आपकी 20GB की Bandwidth समाप्त हो जाएगी

यानी 20GB का Bandwidth एक Content Website के लिए तो काफी है, लेकिन एक Photo Sharing, Song Downloading या Video Sharing जैसी Website के लिए किसी काम की नहीं है, क्योंकि इतनी Bandwidth तो 2 – 4 दिन में ही समाप्त हो जाएगी और Bandwidth समाप्त होते ही, आपकी Website पर “508 Resource Limit Is Reached” जैसा Error Message दिखाई देने लगेगा, जो कि Month पूरा होने के बाद अगले महीने भी फिर से आपकी Website 2 – 4 दिन के लिए Normal तरीके से Run होगी।

सारांश ये है कि आपकी Website के Theme Content के आधार पर ही ये तय हो पा,गा कि आपको किस प्रकार के Web Host की जरूरत है। यदि आपकी Website पर बहुत ज्‍यादा Images, Audio व Video Files को Host करना है, तो आपको काफी ज्‍यादा Bandwidth व Web Storage Space की जरूरत होगी। जबकि यदि आप कोई Text Content आधारित Website Host करना चाहते हैं, तो 1GB का Web Host Space व 10GB का Bandwidth भी काफी होता है।

4. Technical Support

ये एक ऐसा Issue है, जिसके बारे में बहुत ध्‍यान देना जरूरी होता है, क्योंकि जब आप पहली बार अपनी Website को Web Host पर Upload करते हैं, तब आपको विभिन्न प्रकार के Configurations करने की जरूरत पडती है अथवा आप द्वारा की गई गलतियों की वजह से आपकी Website Disturb हो जाती है। इस प्रकार की स्थिति में बिना आपके Web Hosting Provider के Technical Support के आप अपनी Website को फिर से Normal स्थिति में नहीं ला सकते।

इसलिए आप जिस Hosting Provider से Hosting Purchase कर रहे हैं, वो किस-किस तरह से आपको Technical Support Provide कर सकता है, इस विषय में अच्छी तरह से Testing करने के बाद ही उस Web Hosting Company से Hosting Purchase करना चाहिए।

सामान्‍य रूप से विभिन्न Hosting Providers Live Chat, Phone Contact व Support Tickets जैसे तरीकों से Contact करने की सुविधा Provide करते हैं और Hosting Purchase करने से पहले कम से कम एक बार इन तीनों तरीकों को Test जरूर कर लेना चाहिए।

यानी कम से कम एक बार Live Chat के माध्‍यम से, कम से कम एक बार Phone Call के माध्‍यम से व कम से कम एक बार Support Ticket के माध्‍यम से अपने Hosting Provider से Contact करके Hosting Features के बारे में जानकारी प्राप्त करनी चाहिए, ताकि आप समझ सकें कि Contact करने के विभिन्न तरीके Working हैं या नहीं तथा Hosting Provider का Customer Care Support कैसा है।

5. Other Services and Their Limitations

Web Hosting Purchase करने से पहले विभिन्न Hosting Providers के बारे में Internet पर उनकी Reputatoin के बारे में पता लगाने के लिए Search करना चाहिए व उनके बारे में Reviews आदि द्वारा जितनी ज्‍यादा सम्भव हो उतनी ज्‍यादा जानकारी प्राप्त कर लेनी चाहिए। फिर उन सभी Hosting Providers में से जो-जो ठीक लगे, उनको Select कर लेना चाहिए और उनकी Website पर जाकर उनके द्वारा Offer की जा रही विभिन्न Services व विभिन्न Plans के अन्तर्गत उनकी Limitations को Check करके Note कर लेना चाहिए।

फिर आपकी जरूरत को कौनसा Hosting Provider Best तरीके से पूरा कर सकता है, इस बात के लिए इन विभिन्न Hosting Providers द्वारा विभिन्न Plans के अन्तर्गत Provide की जाने वाली Services को आपस में Compare करके इस बात का निर्णय लेने की कोशिश करनी चाहिए कि सभी में से कौनसा Hosting Provider आपके Website की जरूरतों को Best तरीके से पूरा करने में सक्षम है।

आपकी जरूरत के अनुसार बेहतर Service Provide करने के मामले में जो Web Host सबसे उपयुक्त महसूस हो, उसी से Hosting Purchase करनी चाहिए, फिर चाहे उस Hosting Provider का कोई Specific Plan कुछ महंगा ही क्यों न हो।

क्योंकि थोडा महंगा Plan खरीदकर यदि आप Technical Issues को Solve करने में बर्बाद होने वाले अपने समय को बचा लेंगे, तो उस समय का उपयोग आप अपने Online Business को और ज्‍यादा Establish करने में Invest कर सकेंगे, जो कि आपको उस महंगे Plan की तुलना में कई गुना ज्‍यादा Return देगा।

जैसाकि मैंने पहले भी कहा कि Hosting Plan की Price से उसकी Quality का पता नहीं लगाया जा सकता, लेकिन फिर भी सस्‍ते और महंगे Plans में कुछ तो फर्क होता ही है और ये फर्क आपके Business को काफी फायदा या नुकसान भी पहुंचा सकता है। इसलिए Right Hosting Plan Select करना बहुत ही महत्‍वपूर्ण Decision होता है और इस बात का पता आपको मेरे अगले Article से चलेगा जहां मैं अपना अनुभव आपके साथ Share करूंगा कि किस प्रकार से Blogger से WordPress पर Switch करने के लिए मैंने एक Low Quality के सस्‍ते Hosting Provider को Select किया और भविष्‍य में Directly और Indirectly कितना नुकसान उठाया।

Types of Web Hosting
Think 10 times more before buying Cheap Hosting Plans

******

ये पोस्‍ट Useful लगा हो, तो Like कर दीजिए।

WordPress in Hindi - BccFalna.comये Article इस वेबसाईट पर Selling हेतु उपलब्‍ध EBook WordPress in Hindi से लिया गया है। इसलिए यदि ये Article आपके लिए उपयोगी रहा, तो निश्चित रूप से ये पुस्तक भी आपके लिए काफी उपयोगी साबित होगी। 

WordPress in Hindi | Page: 420 | Format: PDF

BUY NOW DOWNLOAD READ ONLINE

Download All Hindi EBooks

सभी हिन्दी EBooks C, C++, Java, C#, ASP.NET, Oracle, Data Structure, VB6, PHP, HTML5, JavaScript, jQuery, WordPress, etc... के DOWNLOAD LINKS प्राप्‍त करें, अपने EMail पर।

Register करके Login करें। इस Popup से छुटकारा पाएें।