What is Array in C Programming Language

C Programming Language in Hindi - BccFalna.com ये Article इस वेबसाईट पर Selling हेतु उपलब्‍ध EBook  C Programming Language in Hindi से लिया गया है। इसलिए यदि ये Article आपके लिए उपयोगी रहा, तो निश्चित रूप से ये पुस्तक भी आपके लिए काफी उपयोगी साबित होगी। 

C Programming Language in Hindi | Page: 477 + 265 | Format: PDF

BUY NOW DOWNLOAD READ ONLINE

What is Array in C Programming Language: इससे पहले कि हम Array को समझें, हम एक बार फिर समझने की कोशिश करते हैं कि Variable क्या होता है। Computer में विभिन्न प्रकार के मानों को Store करने के लिए Memory में कुछ जगह की आवश्‍यकता होती है। अलग-अलग प्रकार के मानों को Memory में Store करने के लिए अलग-अलग Size के Memory की आवश्‍यकता होती है। जैसे यदि Integer प्रकार के मान को Memory में Store करना हो तो Program को दो Byte की आवश्‍यकता होती है जबकि एक Character प्रकार के मान को Memory में Store करने के लिए उसे केवल एक Byte की ही जरूरत होती है।

मानलो कि हम एक ऐसी Memory Location चाहते हैं जहां Integer प्रकार के मान Store हो सकें। ये काम हम निम्न Statement Code लिख कर सकते हैं:

        int total;

चलिए, समझने की कोशिश करते हैं कि Compiler इस Statement से क्या समझता है और क्या काम करता है।

जब Compiler को int Keyword मिलता है, तो Compiler Memory में दो Bytes की Free Space खोजता है। Memory में जहां पर भी Compiler को दो Bytes की Space प्राप्त हो जाती है, Compiler उसे Reserve कर लेता है और उस दो Bytes के Memory Block का नाम total रख देता है। इस Statement के बाद यदि हम निम्न Statement लिखते हैं:

        total = 100;

तो ये Statement Compiler को बताता है कि जिस Reserved Memory Block का नाम total है उस Memory Block पर मान 100 Store कर दें। यानी Compiler उस Memory Location पर 100 Store कर देता है जिसका नाम total है।

सारांश में कहें तो कह सकते हैं कि Variable किसी Reserved Memory Location का एक नाम होता है, जिसका प्रयोग करके Compiler विभिन्न प्रकार के मानों को किसी Memory Location पर Store करता है व विभिन्न प्रकार के मानों को प्राप्त करता है।

मानलो कि किसी Company में 10 Employee काम करते हैं और उन्हें Diwali का Bonus देना है। इस स्थिति में यदि हम सामान्‍य तरीके से Program बनाते हैं, तो हमें हर Employee की Salary को Store करने के लिए 10 Variables Declare करने होंगे और Calculate होने वाले Bonus को Store करने के लिए भी दस Variables Declare करने होंगे।

हम समझ सकते हैं कि अब हमें कम से कम 20 Variables के साथ प्रक्रिया करनी है। 20 Variables के साथ प्रक्रिया करना हालांकि ज्‍यादा कठिन नहीं है, लेकिन यदि यहां 10 Employees की जगह Company में 1000 Employees होते तो हमें 2000 Variables Declare करने पडते। (1000 Variables में हर Employee Salary Store करने के लिए और 1000 Variables में Calculate होने वाले Bonus को Store करने के लिए।)

यदि ऐसी स्थिति हो जाए तो ये सामान्‍य सी समस्या भी काफी जटिल हो जाएगी। Programmer को 2000 Variables को Manage करना होगा जो कि एक बहुत ही जटिल काम है। इस प्रकार की समस्या के समाधान के लिए “C” में Array का प्रयोग किया जा सकता है।

जब हमें एक ही Data Type के ढेर सारे Data के साथ प्रक्रिया करनी होती है, तब हम उन ढेर सारे Data को ठीक से Manage करने के लिए Array का प्रयोग कर सकते हैं। “C” Language में Array एक ऐसा Variable होता है, जो एक ही प्रकार के बहुत सारे Data को Memory में Store करके रख सकता है। यानी Array Create करके वास्तव में हम एक ही समय में एक ही Data Type के बहुत से Variables Create करते हैं। हम एक उदाहरण से इसी बात को समझने की कोशिश करते हैं।

एक कक्षा में अमित नाम के कई विधार्थी हो सकते हैं। इसलिए हर विधार्थी को पहचानने के लिए हर विधार्थी के नाम के साथ उसकी जाति का उल्लेख किया जाता है या फिर हर विधार्थी के नाम के साथ कोई Extension लगा कर उसकी अलग से पहचान बना दी जाती है। जैसे:

अमित1,
अमित2,
अमित3

आदि।

यहां हम देख सकते हैं कि नाम तो एक ही है, लेकिन हर नाम की पहचान एक अलग विधार्थी के रूप में होती है।

यही प्रक्रिया हम Array के साथ प्रयोग करते हैं, जिसमें Array का नाम तो एक ही होता है, लेकिन Variables कई होते हैं। जब हम Variable को Array के रूप में Declare करते हैं, तब उस Array Variable के नाम के साथ एक अंक का प्रयोग “C” Compiler स्वयं ही कर लेता है। इस अंक को Index Number कहते हैं।

एक Array में हम समान प्रकार के एक से अधिक मानों को Store कर सकते हैं। किसी Array में जितने भी Data Store होते हैं, वे Data Array के Element कहलाते हैं और इन Elements की पहचान एक Logical Address द्वारा होती है, जिसे Index Number कहते हैं।

किसी भी Array में Store किया जाने वाला पहला मान हमेंशा Index Number 0 पर Store होता है और फिर क्रम से उसके आगे के Memory Locations पर मान Store होते हैं। Array का Index Number 0 किसी भी Array का Base Address होता है। एक Array में Data Store करने से पहले Array को Declare करना पडता है। Array को Declare करने के लिए निम्न Format का प्रयोग होता है:

        Data_Type Array_Name [Array_Size]

जहां:

Data_Type जिस प्रकार के Data हमें इस Array Variable में Store करना हैं।
Array_Name “C” Compiler जिस नाम से Array को पहचानता है, वह नाम।
[ Array_Size ] इस कोष्‍ठक में Array की Size Define की जाती है जो “C” Compiler को यह बताता है कि Array में कितने Element Store होंगे या कितने Data Store होंगे। यह कोष्‍ठक बनाना जरूरी होता है।

जब हम कोई Array Declare करते हैं, तब हमें Array की Size भी Define करनी होती है। ये Size ही तय करता है कि हम Array में कितने Data Store करना चाहते हैं। मानलो कि हम 10 Employees के Bonus को Store करने के लिए Memory मे Space Create करना है, तो हमें Array का Declaration निम्नानुसार करना पडता है-

        int Bonus[10] ;

ये Statement Memory में 20 Bytes की जगह Reserve करता है और हर दो Bytes को एक Index Number Assign कर देता है। यानी Memory में निम्नानुसार 10 Variables Create होते हैं:

        Bonus[0]
        Bonus[1]
        Bonus[2]
        Bonus[3]
        Bonus[4]
        Bonus[5]
        Bonus[6]
        Bonus[7]
        Bonus[8]
        Bonus[9]

सारांश में कहें तो Array एक ऐसा तरीका है, जिसमें हम एक ही समय में एक ही प्रकार के Data Type के कई मान Store करने के लिए, एक से अधिक Variables Create करते हैं। कोई Array कितने Variables Create करेगा यानी किसी Array में कितने मान Store किए जा सकते हैं, ये बात Array की Define की गई Size पर निर्भर करता है। हम यहां देख सकते हैं कि Create होने वाले सभी Variables का नाम तो समान है, लेकिन सभी को उनके Index Number के आधार पर अलग-अलग माना जा सकता है।

Array हमेंशा Memory में एक Continuous Memory Location पर Store होता है। यानी यदि किसी Integer प्रकार के Array की Size 5 है तो वह Memory में उसी स्थान पर Space Reserve करेगा जहां पर उसे 10 Bytes पूरे व Continuously प्राप्त होंगे। जैसे मानलो कि हमें 5 Student के Roll Number, Memory में Store करने हैं, तो हम निम्नानुसार एक Array, जिसकी Size 5 element की हो, Declare करते हैं:

        int roll_num[5]

ये Declaration Memory में 5 Variable के लिए 5 Memory Locations बनाता है, जिसमें हरेक की Memory Space 2 Byte की होती है, क्योंकि हमने int प्रकार का Array Declare किया है। इस प्रकार एक ही नाम roll_num के 5 Memory Locations क्रमसे: roll_num [0], roll_num [1], roll_num[2], roll_num[3], roll_num[4] बन जाते है, जिसमें हरेक में int प्रकार का एक Roll Number Store हो सकता है। इसे हम निम्नानुसार प्रदर्शित कर सकते हैं:

What is Array in C Language in Hindi

What is Array in C Language in Hindi

इस प्रकार पहला Roll No. Array के प्रथम Logical Address Index No 0 पर Store होगा। दूसरा Roll No. Array के Logical Address Index No. 1 पर Store होगा और यह क्रम इसी प्रकार से निम्नानुसार चलता रहेगा:

Array Name Index Number
roll_number [0]
roll_number [1]
roll_number [2]
roll_number [3]
roll_number [4]
roll_number [5]

माना कि क्रम से 5 विधार्थीयों के Roll Number 100, 101,102, 103 व 104 हैं, तो ये Memory में निम्नानुसार Store होंगे:

What is Array in C Language in Hindi

What is Array in C Language in Hindi

इसे हम निम्नानुसार भी लिख सकते हैं:

Array Name Stored Value
roll_number[0] 100
roll_number[1] 101
roll_number[2] 102
roll_number[3] 103
roll_number[4] 104
roll_number[5] 105
Line Counting Program in C Language
Linear Array in C Programming Language

C Programming Language in Hindi - BccFalna.com ये Article इस वेबसाईट पर Selling हेतु उपलब्‍ध EBook  C Programming Language in Hindi से लिया गया है। इसलिए यदि ये Article आपके लिए उपयोगी रहा, तो निश्चित रूप से ये पुस्तक भी आपके लिए काफी उपयोगी साबित होगी। 

C Programming Language in Hindi | Page: 477 + 265 | Format: PDF

BUY NOW DOWNLOAD READ ONLINE

Download All Hindi EBooks

सभी हिन्दी EBooks C, C++, Java, C#, ASP.NET, Oracle, Data Structure, VB6, PHP, HTML5, JavaScript, jQuery, WordPress, etc... के DOWNLOAD LINKS प्राप्‍त करें, अपने EMail पर।

Register करके Login करें। इस Popup से छुटकारा पाएें।