Why Use WordPress?

WordPress in Hindi - BccFalna.com ये Article इस वेबसाईट पर Selling हेतु उपलब्‍ध EBook Advance WordPress in Hindi से लिया गया है। इसलिए यदि ये Article आपके लिए उपयोगी है, तो निश्चित रूप से ये EBook भी आपके लिए काफी उपयोगी साबित होगी।

Advance WordPress in Hindi | Page: 835 | Format: PDF

BUY NOW DOWNLOAD READ ONLINE

Why Use WordPress – सवाल ये है कि यदि हम HTML, CSS, JavaScript, jQuery, Core PHP, जैसी Web Related Basic Languages को अच्छी तरह से समझते हैं, तो फिर हम WordPress क्यों Use करें, जबकि WordPress को सीखने में भी काफी समय लगने वाला है।

तो इस सवाल का जवाब ये है कि यदि आप WordPress को Use करते हैं, तो आप वास्तव में बहुत सारे Repetitive Task से बच जाते हैं। यानी जब भी आप कोई Web Site Create करते हैं, आपको Common रूप से कुछ काम जरूर करने पडते हैं। जैसे

  • Registration System: ताकि आप अपने Visitor की General Information जैसे कि Name, Email Address आदि प्राप्त कर सकें। क्योंकि किसी User से फिर से Contact करने का यही सबसे Best तरीका होता है।
  • Email Sending System: ताकि आप अपने User को समय-समय पर विभिन्न प्रकार के Offers के लिए Email Send कर सकें।
  • Autoresponder System: ताकि बिना आपके Involvement के भी आपके नए User को समय-समय पर Predefined Contents प्राप्त हो सके और आपका User, आपके Customer में Convert हो सके।
  • Contact System: ताकि आपका Visitor यदि चाहे, तो Email या Online SMS के माध्‍यम से आपको Contact कर सके।
  • Autoresponder System: ताकि बिना आपके Involvement के भी आपके नए User को समय-समय पर Predefined Contents प्राप्त हो सके और आपका User, आपके Customer में Convert हो सके।
  • Feedback System: ताकि आपका User आपके किसी Content या किसी अन्‍य विषय में आपको किसी प्रकार का Feedback दे सके।
  • Comment System: ताकि आपका User आपके किसी Content के विषय में अपनी राय दे सके।
  • Forum System: ताकि आपके विभिन्न Users किसी Information को आपस में Share व Discuss कर सकें।

यहां हमने कुछ ऐसी सामान्‍य जरूरतों के बारे में बताया है, जिनकी जरूरत लगभग हर Web Site में जरूर होती है। अब यदि आप Core Technologies का प्रयोग करके इन सभी Systems को Manually Create करेंगे, तो आपका काफी ज्यादा समय केवल इन Repetitive Systems को Create करने में ही व्‍यर्थ होगा और किसी Project में आपका जितना ज्यादा समय Invest होगा, आपके Project का Development Cost उतना ही ज्यादा बढता जाएगा। जबकि Development Cost जितना कम होता है, आपकी Income उतनी ही ज्यादा होती है।

यानी यदि आप अपनी Income बढाना चाहते हैं, तो जरूरी कि आपका Development Cost कम से कम हो और Development Cost तभी कम हो सकती है, जब आप कम से कम समय में किसी Project को पूरा करें और कम से कम समय में आप तभी किसी Project को पूरा कर सकते हैं जबकि आप Repetitive Tasks को बार-बार न दोहराऐं बल्कि जहां तक हो सके] अपने पुराने Codes को ज्यों का त्यों Reuse कर लें।

इस स्थिति में किसी Mature Development Framework को Use करना काफी उपयोगी होता है और WordPress एक Mature Development Software है। फिर भी हमारा मतलब ये नहीं है कि केवल WordPress ही Best Framework है, बल्कि वर्तमान समय में सैकडों Frameworks Available हैं जो अलग-अलग तरह की Requirements को Best तरीके से पूरा करते हैं।

हमारा मतलब केवल इतना है कि WordPress किसी भी अन्‍य Development Framework की तुलना में ज्यादा सरल व आसानी से समझने योग्‍य है। किसी भी अन्‍य Framework या Platform की तुलना में WordPress में विभिन्न प्रकार की जरूरतों को पूरा करने के लिए विभिन्न प्रकार के Plug-in पहले से Available हैं, जिन्हें ज्यों का त्यों Use किया जा सकता है और आसानी से Configure करके अपनी किसी Specific जरूरत को पूरा किया जा सकता है। साथ ही WordPress से सम्बंधित इतने Developers हैं, कि किसी भी WordPress Forum पर WordPress से सम्बंधित किसी भी समस्या का तुरन्त समाधान प्राप्त हो सकता है।

साथ ही WordPress पूरी तरह से Core PHP व अन्‍य Core Technologies पर ही आधारित है और इसमें किसी Special Development Pattern को Use नहीं किया गया है, इसलिए किसी भी अन्‍य Framework या Platform को सीखने व समझने में जितना समय लगता है, उसकी तुलना में बहुत ही कम समय में हम WordPress में अच्छी पकड बना सकते हैं।

इसके अलावा WordPress के Codes को हम इस प्रकार से Modify कर सकते हैं कि कोई पता ही नहीं लगा सकता कि हम Platform के रूप में WordPress Use कर रहे हैं या केवल Core Technologies को ही Use कर रहे हैं।

जब हम WordPress Use करते हैं, तो हमें बना-बनाया Backend मिलता है, जहां से हम Frontend को Plug-inThemes के माध्‍यम से पूरी तरह से Control कर सकते हैं। साथ ही सैकडों लोग हर समय WordPress Platform को Improve करने में लगे रहते हैं, जिससे हम समझ सकते हैं कि हमारे स्वंय के Manual Codes की तुलना में WordPress Platform में लिखे गए Codes ज्यादा Secure हैं।

साथ ही हमें जो Backend मिलता है, उसे भी हम इस तरह से Modify कर सकते हैं कि कोई भी Backend User ये नहीं जान सके कि हम WordPress को अपने Platform की तरह Use कर रहे हैं।

चूंकि, WordPress Platform किसी भी अन्‍य Platform की तुलना में ज्यादा छोटा है, इसलिए इसे बडी ही आसानी से व तेजी से सीखा व उपयोग में लिया जा सकता है जबकि यदि हम चाहें, तो Core Codes को भी अपनी जरूरत व सुविधानुसार Modify करके अपना स्वयं का Modified Development Platform Create कर सकते हैं, जो कि पूरी तरह से WordPress की Internal Functionalities को तो Use करता है लेकिन कोई अन्‍य व्‍यक्ति इस बात का पता नहीं लगा सकता कि Platform के रूप में किसी Framework को Use किया गया है या Core Technologies के आधार पर किसी Specific Requirement को पूरा करने के लिए नया Platform बनाया गया है।

यानी यदि आप WordPress Development व Internals को ठीक से समझ लेते हैं, तो आप WordPress Platform को अपनी इच्छा व जरूरत के अनुसार Core से Modify करके स्वयं का नया Platform बना सकते हैं, जो कि पूरी तरह से केवल आपकी जरूरतों को ही पूरा करेगा।

WordPress Blog V/s WordPress CMS
How to Install WAMP Server?

WordPress in Hindi - BccFalna.com ये Article इस वेबसाईट पर Selling हेतु उपलब्‍ध EBook Advance WordPress in Hindi से लिया गया है। इसलिए यदि ये Article आपके लिए उपयोगी है, तो निश्चित रूप से ये EBook भी आपके लिए काफी उपयोगी साबित होगी।

Advance WordPress in Hindi | Page: 835 | Format: PDF

BUY NOW DOWNLOAD READ ONLINE

Download All Hindi EBooks

सभी हिन्दी EBooks C, C++, Java, C#, ASP.NET, Oracle, Data Structure, VB6, PHP, HTML5, JavaScript, jQuery, WordPress, etc... के DOWNLOAD LINKS प्राप्‍त करें, अपने EMail पर।

Register करके Login करें। इस Popup से छुटकारा पाएें।