WordPress Source Code – Fundamentals

WordPress in Hindi - BccFalna.com ये Article इस वेबसाईट पर Selling हेतु उपलब्‍ध EBook Advance WordPress in Hindi से लिया गया है। इसलिए यदि ये Article आपके लिए उपयोगी है, तो निश्चित रूप से ये EBook भी आपके लिए काफी उपयोगी साबित होगी।

Advance WordPress in Hindi | Page: 835 | Format: PDF

BUY NOW DOWNLOAD READ ONLINE

WordPress Source Code – WordPress एक Powerful Web Server Framework है जिसे किसी Simple Blog के लिए Use किया जा सकता है अथवा किसी Complex Web Site के लिए Customize किया जा सकता है। WordPress की कार्यप्रणाली को समझ कर हम इस बात को समझ सकते हैं कि WordPress क्‍या-क्‍या करने में सक्षम है।

जब हम पहली बार WordPress में Login करते हैं, तब हमारे सामने जो First Screen Display होती है, उसे ही Dashboard कहते हैं। इसी Dashboard में हम हमारी Web Site से सम्बंधित विभिन्न प्रकार की Controlling करते हैं।

उदाहरण के लिए नया Post या Page Create करना, Plug-in को Install, Disable, Enable या Delete करना, Themes को Install, Disable, Enable या Delete करना, अपनी Site से सम्बंधित विभिन्न प्रकार की Settings करना, Comments व Users को Manage करना आदि विभिन्न प्रकार के कामों को हम इसी Dashboard से Control करते हैं, जो कि हमारी Web Site या Blog का WordPress द्वारा Provide किया गया Backend है।

किसी भी WordPress Powered Site या Blog में Dashboard को http://domain/wp-admin URL द्वारा Access किया जा सकता है।

WordPress Source Code - Fundamentals in Hindi

WordPress Source Code – Fundamentals in Hindi

Login करते ही हमें जो Content दिखाई देते हैं, वे हमारे WordPress Platform के Current Configurations को मोटे तौर पर Represent करते है, जिसमें कुल Posts व Comments की संख्‍याए Latest Comments, व QuickPress दिखाई देता है, जहां से हम तुरन्त किसी Content को अपनी Site पर Post कर सकते हैं।

इस Dashboard पर दिखाई देने वाले विभिन्न Options व Left Side में दिखाई देने वाला Admin Panel Manu काफी Self Descriptive है। यानी इनके नाम से ही पता चल जाता है कि कौनसा Option क्‍या काम करेगा। इसलिए इनके बारे में जब ज्यादा Detailed Discussion नहीं करेंगे बल्कि हमारा पूरा Attention ThemePlugin Development करने से सम्बंधित Topics पर ही रहेगा।

WordPress में PHP, JavaScript व CSS जैसी अलग-अलग Code Files हैं, जो अलग-अलग प्रकार की जरूरतों को पूरा करने के लिए अलग-अलग जगहों पर Use की गई हैं और हर Code File का अपना काम व महत्व है।

चूंकि WordPress एक Open Source Software है, इसलिए हम इसकी विभिन्न Source Files के Codes को देख सकते हैं और इसकी Internal Working को न केवल बेहतर तरीके से समझ सकते हैं बल्कि अपनी इच्छा व जरूरत के अनुसार Modify भी कर सकते हैं।

इसके अलावा, Source Codes Open होने की वजह से हम कभी भी किसी भी File को Open कर सकते हैं और उस File में Specify किए गए किसी Function की Coding को Check कर सकते हैं, समझ सकते हैं अथवा अपनी जरूरत के अनुसार Modify भी कर सकते हैं।

WordPress का कौनसा Function किस Specific File में Exist है, इस बात की जानकारी हमें Function को Use करते ही Code Hinting सुविधा द्वारा पिछले Chapter में Discuss किए गए NetBeans व DreamWeaver IDE में प्राप्त हो जाता है। जबकि WPIDE हमें किसी Function को Use करते ही, उसके Codex का Path Available करवा देता है, जहां हम अपने Use किए जाने वाले Function की Functionality का Documentation प< सकते हैं।

यदि हम WordPress की Extracted Files को Check करें, तो WordPress Software में wp-admin, wp-contentwp-includes नाम के तीन Folders होते हैं। जहां wp-includeswp-admin WordPress की Core Files को Hold करते हैं, जिन्हें हमें उस स्थिति में कभी भी Change नहीं करना चाहिए, जबकि हम WordPress को ही अपनी Website, Web Application या Blog के Platform के रूप में Use कर रहे होते हैं। क्योंकि जब कभी भी हम हमारे WordPress Platform को नए Version से Update करेंगे, इन Folders की किसी Core File में किया गया Change हमेंशा के लिए Delete हो जाएगा।

लेकिन यदि हम WordPress की Core Files के आधार पर अपना स्वयं का Modified Platform Define कर रहे हों, तो हम इन Files को Modify कर सकते हैं। क्योंकि उस स्थिति में हम ये मान कर चलते हैं कि हम हमारे WordPress Platform को कभी भी Update नहीं करेंगे।

WordPress की Root Directory में भी कुछ Files होती हैं, जिन्हें हम हमारी जरूरत के अनुसार Change कर सकते हैं। जैसाकि पिछले Chapter में हमने wp-config-sample.php File को Change करके wp-config.php File के रूप में Save करने के बारे में जाना था।

wp-content Directory वह Folder होता है, जिसमें हमारे Current Web Application, Web Site या Blog से सम्बंधित Plugins, Themes, Media व कई और अन्‍य Resources होते हैं, जो कि Particularly हमारी Site से सम्बंधित होते हैं और इनका WordPress की Core Files के साथ कोई भी Direct सम्बन्ध नहीं होता। इस Folder में जो Files होती हैं, वे पूरी तरह से WordPress की Site के Content ManipulationPresentation को Control करने का काम करती हैं।

WPIDE Plugin - The WordPress IDE
wp-config.php File - Core Configurations

******

ये पोस्‍ट Useful लगा हो, तो Like कर दीजिए।

WordPress in Hindi - BccFalna.com ये Article इस वेबसाईट पर Selling हेतु उपलब्‍ध EBook Advance WordPress in Hindi से लिया गया है। इसलिए यदि ये Article आपके लिए उपयोगी है, तो निश्चित रूप से ये EBook भी आपके लिए काफी उपयोगी साबित होगी।

Advance WordPress in Hindi | Page: 835 | Format: PDF

BUY NOW DOWNLOAD READ ONLINE

Download All Hindi EBooks

सभी हिन्दी EBooks C, C++, Java, C#, ASP.NET, Oracle, Data Structure, VB6, PHP, HTML5, JavaScript, jQuery, WordPress, etc... के DOWNLOAD LINKS प्राप्‍त करें, अपने EMail पर।

Register करके Login करें। इस Popup से छुटकारा पाएें।