Conceptual Design of Business Application

Conceptual Design of Business Application – एक अच्छा Database Design करने के लिए हमें Data Modeling नाम के एक Process को Use करना होता है। Data Model किसी Real-World Business Environment का Abstract Representation होता है, जिसमें उस Environment के Objects व उनकी Relationship को Represent किया जाता है।

हम किसी General Store Business या किसी देश की Economy के Budget Purpose के लिए Modeling कर सकते हैं। दोनों की Modeling का Process समान ही होता है लेकिन इनकी Complexity Change हो जाती है। इस Model का मुख्‍य Purpose Environment को Represent करना होता है, जिसमें उस Database Technology का कोई दखल नहीं होता है, जिसे हम Use करके अपने Database को Manage करना चाहते हैं।

Conceptual Phase में हम किसी Business Environment का Model Create करते हैं। इस Design में हमें Current System व Proposed System दोनों के लिए End-Users से जितनी हो सके उतनी जानकारियां प्राप्त करनी होती है, लेकिन Business के Current Implementation पर पूरी तरह से निर्भर नहीं होना होता है, क्‍योंकि Current Implementation Computerized भी हो सकता है और Paper Based भी हो सकता है।

इस Environment में हमें ये पता लगाना होता है कि Business System में Data किस तरह से Flow हो रहा है और Business System के मुख्‍य Processes क्या-क्या हैं। यानी Business System क्या काम करता है, उसे किन जानकारियों को Manage करने की जरूरत होती है और वह उन जानकारियों को किस तरह से Manage करता है। इस Analysis के आधार पर हमें ये तय करना होता है कि उस Business System के मुख्‍य Data Items कौनसे हैं, जिन्हें Business System Handle करता है। इस प्रक्रिया का General Approach निम्नानुसार होता है:

  • सबसे पहले Business से Related मुख्‍य Data Requirements को Identify व Define करना होता है।
  • फिर Data के Process को समझने के लिए Data Flow Diagram बनाना होता है।
  • फिर Data को Entity-Relationship Diagrams के रूप में Document करना होता है। और
  • अन्त में Diagram को Entity के उन Attributes को Identify करते हुए Complete करना होता है, जिन्हें Manage करना है।

यहां हम अन्तिम दो Steps को ही Describe करेंगे, क्‍योंकि पहले के दो Steps अलग-अलग Business के आधार पर निर्भर होते हैं।

Types of Database Designs - Conceptual, Logical and Physical Schemas
Entity-Relationship Diagram Designing

Oracle 8i/9i SQL/PLSQL in Hindiये Article इस वेबसाईट पर Selling हेतु उपलब्‍ध EBook Oracle 8i/9i SQL/PLSQL in Hindi से लिया गया है। इसलिए यदि ये Article आपके लिए उपयोगी रहा, तो निश्चित रूप से ये पुस्तक भी आपके लिए काफी उपयोगी साबित होगी। 

Oracle 8i/9i SQL/PLSQL in Hindi | Page: 587 | Format: PDF

BUY NOW GET DEMO REVIEWS