Jobs in IT Sector for Freshers – किस Category से हैं आप?

Jobs in IT Sector for Freshers - Hindi

Jobs in IT Sector for Freshers – Hindi

Jobs in IT Sector for Freshers – पिछले Article “Career in IT Sector” पर उम्‍मीद के मुताबिक ढेरों Comments, SMS, WhatsAppEmails आए लेकिन जैसाकि मैंने पहले भी कहा कि एक-एक को Personally Guide करना मेरे लिए Practically Possible नहीं है क्‍योंकि सभी की समस्‍याऐं मोटे तौर पर काफी अलग व Personal हैं।

लेकिन थोड़ा गहराई से विचार करने पर पाया कि भले ही ज्‍यादातर लोगों की अपने Career के प्रति समस्‍याऐं Personal व Specific लगती हैं लेकिन Root में लगभग सभी की समस्‍याऐं Common हैं और ये Post उन सभी लोगों के लिए निश्चित रूप से उपयोगी होगा जो कि IT Field में अपने Career को लेकर Confused हैं।

IT Sector में जो भी नए लोग Fresher के रूप में Enter करते हैं, उन्‍हें मूलत: तीन में से किसी एक Category में रखा जा सकता है:

  1. वे लोग, जिनके पास Degree तो है लेकिन Software Development के किसी भी हिस्‍से जैसे कि Analysis, Programming, Coding, Designing, Testing, Marketing आदि में से किसी का भी उपयुक्‍त Knowledge नहीं है।

जब भी किसी कम्‍पनी में Job के लिए Apply करने की बात आती है, तो इस Category के लोग तुरन्‍त कन्‍नी काटने की कोशिश करते हैं क्‍योंकि वे स्‍वयं इस बात को जानते हैं कि उनके पास केवल Degree ही है, कोई Practical Knowledge नहीं है।

Basically तो इस Category के लोगों की किसी अच्‍छी कम्‍पनी में Job लगती ही नहीं है क्‍योंकि Degree उन्‍हें Job Interview तक तो पहुंचाती है, लेकिन Interview में Pass होना और Job प्राप्‍त करना पूरी तरह से उनके Practical Knowledge पर निर्भर करता है। फिर भी अगर किसी वजह से इस Category के लोगों को किसी कम्‍पनी में Job मिल भी जाती है, तो जल्‍दी ही उन्‍हें वहां से निकाल भी दिया जाता है क्‍योंकि Software Development Companies की नौकरी कोई सरकारी नौकरी तो होती नहीं है, जहां लायक या नालायक चाहे जैसे Employee हों, एक बार नौकरी लग जाने के बाद उनकी नौक‍री Life Time के लिए पक्‍की हो जाती है बल्कि IT Sector पूरी तरह से Private Sector है और अगर Employee अपने आपको Upgrade करते हुए Company के लिए हमेंशा Profitable नहीं बनाए रखता, तो कम्‍पनी को ऐसे लोगों की छटनी करने में कोई विशेष सोंच-विचार नहीं करना पड़गा।

इसलिए IT Sector में जब भी कभी मंदी आती है और कम्‍पनियां छटनी करती हैं, तो सबसे पहले इस Category के लोगों को ही Job से निकाला जाता है, जिनके पास केवल Degree ही है, उपयुक्‍त Knowledge नहीं क्‍योंकि ये ही वे लोग होते हैं जो कम्‍पनियों को सबसे पहले बोझ लगने लगते हैं।

अत: यदि आप इस Category में आते हैं तो आपके लिए Best Option यही है कि आप IT Field के किसी Specific Sector (Analysis, Programming, Coding, Designing, Testing, Marketing) में अच्‍छी पकड़ बनाईए क्‍योंकि आपके पास Degree है, केवल Practical Knowledge की कमी है और यदि आप वास्‍तव में IT Field में ही Job करना चाहते हैं तो Practical Knowledge प्राप्‍त करना कोई कठिन काम नहीं है।

  1. दूसरी Category में उन लोगों को रखा जा सकता है, जिनके पास Knowledge तो है लेकिन Degree नहीं है।

ऐसे लोगों की स्थिति Job के मामले में पहली Category वाले लोगों की तुलना में ज्‍यादा खराब होती है क्‍योंकि पहली Category के लोग यदि थोड़ी बहुत मेहनत करके Software Development के किसी भी हिस्‍से जैसे कि Analysis, Programming, Coding, Designing, Testing, Marketing आदि में ठीक ठाक पकड़ बना लें, तो उन्‍हें किसी भी छोटी मोटी IT Company में कोई न कोई Job तो मिल ही जाती है।

लेकिन इस दूसरी Category के लोगों को चाहे जितना भी अच्‍छा Knowledge क्‍यों न हो, बिना Degree के वे Interview तक ही नहीं पहुंच पाते और जब तक आप Interview तक नहीं पहुंचेंगे, तब तक आपको Job मिलने की सम्‍भावना ही पैदा नहीं होती।

अक्‍सर इस Category के लोग ये मानने को तैयार ही नहीं होते कि बिना Degree के उन्‍हें किसी अच्‍छी कम्‍पनी में Job नहीं मिल सकता। उन्‍हें लगता है कि Practical Knowledge अच्‍छा हो, तो उन्‍हें किसी भी कम्‍पनी में Job मिल ही जाएगा। लेकिन अगर अपवादों को छोड़ दें, तो ऐसा पहले होता था जब IT Sector में Engineers की कमी थी। आज हर साल लाखों नए Software Engineer Hi-Fi Degrees के साथ Fresher के रूप में Market में आते हैं और जब Degree वाले Employees मिल रहे हैं, तो कम्‍पनियां बिना Degree वालों को Job पर क्‍यों रखेंगी।

अच्‍छी कम्‍पनियां बिना Degree वालों को Job पर इसलिए भी नहीं रखतीं क्‍योंकि ज्‍यादातर भारतीय IT Companies विदेशों से Outsource होकर भारत आने वाले Projects पर काम करती हैं और विदेशी कम्‍पनियां किसी भी भारतीय कम्‍पनी को Project देने से पहले इस बात का आंकलन करती हैं कि जिस कम्‍पनी में वे Outsource करने जा रही हैं, उन कम्‍पनियों के Developers की Qualification क्‍या है क्‍योंकि उनके पास Employees की Degree देखकर उनके Qualification का अन्दाजा लगाने के अलावा और कोई रास्‍ता ही नहीं है जिससे वे इस बात का पता लगा सकें कि कम्‍पनी के Employees कितने Capable हैं।

अब अगर भारतीय कम्‍पनियां बिना Degree वाले Employees को Job पर रखें, तो उन्‍हें कोई बड़ा Project ही नहीं मिलेगा क्‍योंकि Project देने से पहले विदेशी कम्‍पनी उस कम्‍पनी के Employees का Bio-Data देखेगी, जो कि बिना Degree वाले लोगों का समूह होगा और कोई भी विदेशी कम्‍पनी अपने करोड़ो का Project ऐसे लोगों के हाथ में कैसे दे सकता है, जिनके Employees के पास Degree ही नहीं है, फिर उनके लिए इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता कि वे बिना Degree वाले Employee कितने अच्‍छे Practical Knowledge वाले हैं।

इसके अलावा इस Category के लोगों को यदि Job मिल भी जाता है, तो Salary, DesignationIncrement के मामले में उनका खूब शोषण होता है। यानी दो ऐसे Employee जो कि एक समान काम करते हैं और एक ही Level के अच्‍छे Software Developers हैं, लेकिन एक के पास Degree है और दूसरे के पास नहीं, तो जिसके पास Degree है, उसकी Salary बिना Degree वाले Software Engineer से दुगुनी हो सकती है। इतना ही नहीं, बिना Degree वाले Developer के Development को Degree वाले Developer का नाम देकर Promote किया जाएगा और बिना Degree वाले Engineer को कभी कोई बड़ा पद नहीं मिलेगा।

अत: यदि आप इस Category में आते हैं तो आपके लिए सलाह ये है कि यदि आपको IT Field के किसी Sector का अच्‍छा Knowledge है और आप किसी IT Company में Job ही करना चाहते हैं, तो किसी भी तरह से Degree प्राप्‍त कीजिए क्‍योंकि Degree के माध्‍यम से ही आप किसी Company के Job Interview तक पहुंच जाऐंगे और अच्‍छा Practical Knowledge होने की वजह से आप को आसानी से Job मिल जाएगा। साथ ही Degree होने की स्थिति में आप अपनी Salary, Designation व Increment के संदर्भ में Bargain भी कर सकते हैं।

या फिर यदि आप किसी भी कारण से Degree प्राप्‍त करना नहीं चाहते या Degree प्राप्‍त नहीं कर सकते, तो दूसरा रास्‍ता ये है कि आप अपना स्‍वयं का Software Development Business Setup करने के बारे में सोंचिए  क्‍योंकि बिना Degree के आपको किसी कम्‍पनी में अच्‍छी Salary व Designation वाला Job तो नहीं मिलेगा जबकि यदि आपकी Practical Development पर अच्‍छी पकड़ है, तो स्‍वयं का Business Setup करने में आपको ज्‍यादा दिक्‍कत नहीं आएगी क्‍योंकि IT Sector में Business करने के लिए आपके पास केवल एक Computer System, Internet Connection और आपके स्‍वयं के Development Skills के अलावा और किसी की जरूरत नहीं होती और यदि आपके पास ये तीनों चीजें हैं, तो आप अपने IT Business की शुरूआत कर सकते हैं।

  1. तीसरी व अन्तिम Category में वे लोग आते हैं जिनके पास न तो Degree होती है न ही किसी Specific IT Field का कोई Knowledge होता है। वे बस इसलिए इस Field में आना चाहते हैं क्‍योंकि उन्‍हें लगता है कि इस Field में आसानी से High Paying Job मिल जाता है।

इस Category के लोगों के लिए मेरी सलाह यही है कि इस Field से दूर रहें। ये Field उनके बस का नहीं है। यहां कुछ भी आसान नहीं है। बल्कि यदि ये कहें कि इस Field का Career कुल 5 साल का ही होता है, तो गलत नहीं होगा। क्‍योंकि इस Field में हर 5 साल में लगभग सभी Technologies पूरी तरह से बदल जाती हैं और जो लोग अपने आपको Latest Technological Changes से Update नहीं रखते, सबसे पहले उन्‍हीं की छटनी होती है।

इसलिए इस Field में तभी आईए, जबकि आप हर रोज नया सीखने के लिए तैयार हों, अपने आपको Update करने के लिए तैयार हों और नया सीखने व अपडेट रहने के लिए हद से ज्‍यादा मेहतन करनी पड़ती है। आपको अपने JOB के अलावा भी हर रोज घण्‍टों तक नई चीजों को सीखने समझने के लिए पर्याप्‍त समय देना पड़ता है अन्‍यथा आप बहुत जल्‍दी Outdated हो जाते हैं और Outdated लोगों की Private Sector में कोई जरूरत नहीं होती।

  • इस प्रकार से यदि आप पहली Category में हैं, तो अपनी Skills को बढ़ाईए ताकि आप आसानी से बेहतर IT Job पा सकें और लम्‍बे समय तक अपने Job में Stable रह सकें।
  • यदि आप दूसरी Category में हैं, तो किसी भी तरह से Degree लेने की तैयारी कीजिए अथवा स्‍वयं का Business Setup करने के बारे में सोंचिए। और
  • यदि आप तीसरी Category में हैं, तो बेहतर है कि आप इस IT Field से दूर ही रहिए या फिर पहली या दूसरी Category में से एक बनने की कोशिश कीजिए।

उम्‍मीद है, ये Post आपके लिए इस बात का निर्णय लेने में उपयोगी रहा होगा कि आप इन तीनों में से किस Category में से हैं और अपनी Category के आधार पर आपको आगे क्‍या करना चाहिए।

अगले Post में हम इस बात को Discuss करेंगे कि IT Sector के किस Field में किस तरह का Job मिलता है और उस Particular Field में Job पाने के लिए किन Skills की जरूरत होती है क्‍योंकि आखिरकार Job तो किसी न किसी Skill के आधार पर ही मिलने वाला है। इसलिए आपको सबसे ज्‍यादा Interest किस Field में आता है, इसी के आधार पर आप तय कर सकते हैं कि आपके लिए Best IT Field कौनसा हो सकता है और इस विषय में हम आगे आने वाले Articles में विस्‍तार से चर्चा करेंगे।

यदि ये Article आपके लिए किसी भी तरह से Interesting, Inspirational, ज्ञानवर्धक व Useful रहा हो, तो इस Article के संदर्भ में आपके Comment हमारे अन्‍य Readers के लिए उपयोगी हो सकते हैं। इसलिए अपने Comment जरूर लिखें।

Leave a Comment

*

Download All EBooks

सभी हिन्दी EBooks के DEMO DOWNLOAD LINKS प्राप्‍त करें, अपने EMail पर।

Register करके Login करें। इस Popup से छुटकारा पाएें।