Notepad++ Configuration for JSP Development

Notepad++ Configuration for JSP Development – जब हम उपरोक्तानुसार Tomcat Server Setup कर लेते हैं, उसके बाद हम किसी भी Text Editor का प्रयोग करते हुए अपना JSP Page Create कर सकते हैं और उसे Web Server के \webapps Folder के किसी Sub-Folder में Store करते हुए Web Browser द्वारा Test व Run कर सकते हैं।

Notepad++ एक अच्छा Text Editor है, जिसका प्रयोग करके हम Normal Text Editor की तुलना में ज्यादा बेहतर तरीके से JSP Pages Create कर सकते हैं, क्‍योंकि Notepad++ हमारे JSP Page में विभिन्न Markups को अलग-अलग Colors में Show करता है, जिसकी वजह से HTML व JSP Markups लिखना ज्यादा आसान हो जाता है।

Notepad++ एक Free Text Editor है, जिसे हम http://www.notepad-plus-plus.org/download/ से Download कर सकते हैं और जब हम Notepad++ में कोई JSP Page Create करते हैं, तो इस Editor में हमारा JSP Page Code कुछ निम्नानुसार दिखाई देता है-

Notepad++ Configuration for JSP Development

हम देख सकते हैं कि न केवल हमारा HTML Markup बल्कि हमारा JSP Markup Code भी हमें अलग तरह के Colors में दिखाई दे रहा है, जिसकी वजह से JSP Codes को Manually Write करना काफी आसान हो जाता है।

चूंकि हम ये मान रहे हैं कि हम हमारे सभी JSP Pages को Tomcat Server के \webapps Folder में jsp नाम के एक Sub-Folder में Save कर रहे हैं और हमारी Current JSP File का नाम index.jsp है, इसलिए यदि हम Notepad++ में Create की गई अपनी index.jsp File को Web Browser के माध्‍यम से Render करना चाहें, तो उस स्थिति में हमें Web Browser के Addressbar में http:localhost:8080/jsp/index.jsp URL Specify करना होता है, जिसके परिणामस्वरूप हमें हमारा JSP Page निम्न चित्रानुसार दिखाई देता है-

Notepad++ Configuration for JSP Development

जहां दिखाई देने वाला Message <%= %> JSP Tag के माध्‍यम से Dynamically Generate होकर Display हो रहा है। इसी तरह से यदि हम चाहें तो अपने JSP Page में निम्नानुसार Java Programming Language Codes को भी Specify कर सकते हैं-

Notepad++ Configuration for JSP Development

जब हम इस JSP Page को Web Browser द्वारा Render करते हैं, तो हमें निम्नानुसार Output प्राप्त होता है-

Notepad++ Configuration for JSP Development

जैसाकि इस JSP Page के Code में हम देख सकते हैं कि हमने Java Programming Language का for Loop Construct Use किया है और इस Loop द्वारा Generate होने वाले Numerical मान को Heading <h1> … <h6> Generate करने के लिए उपयोग में लिया है। हम ऐसा इसीलिए हो रहा हैं, क्‍योंकि एक JSP Page में हम Pure Java Code को Use कर सकते हैं।

हालांकि जैसाकि हमने पिछले Chapter में Discuss किया था कि Pure Java Code को कभी भी JSP Page में Use नहीं करना चाहिए क्‍योंकि Java Code मूल रूप से Implementation Logic के लिए उपयोगी होता है, जबकि JSP Page मूल रूप से Presentation Layer को Handle करता है और हमें कभी भी Presentation व Implementation को Mix नहीं करना चाहिए ताकि अपने Web Application पर हमारा ज्यादा बेहतर Control रहे।

हालांकि उपरोक्तानुसार Tomcat Server Setup करके Notepad++ के माध्‍यम से भी JSP Page Create कर सकते हैं, लेकिन सामान्यत: Professional Development के दौरान हम हमेंशा किसी न किसी IDE को Use करते हुए ही अपना Development कार्य करते हैं, ताकि हम ज्यादा तेज गति से Development कर सकें और जब हम Java आधारित Web Application Create करना चाहते हैं, तब हम कई प्रकार के IDEs Use कर सकते हैं, जिनमें से कुछ Paid IDEs हैं जबकि कुछ Free हैं।

सामान्यत: Paid IDE के रूप में हम DreamWeaver या IntelliJ IDEA को Use कर सकते हैं, जबकि Free IDEs के रूप में हम Eclipse, NetBeans या JDeveloper को Use किया जा सकता है, जहां NetBeansJDeveloper दोनों ही Oracle द्वारा Provided IDEs हैं, साथ ही Java को भी Oracle ने अधिग्रहित कर लिया है। इसलिए NetBeansJDeveloper दोनों ही Java Development के लिए काफी बेहतर व आसान Solution Provide करते हैं, जबकि Eclipse की अपनी स्वयं की कुछ विशेषताऐं हैं, जिनकी वजह से Java Development के लिए इसे भी काफी Use किया जाता है।


error: Content is protected !!

Special Discount Offer

खरीदिए एक से ज्‍यादा EBooks, और पाईए ₹100 से ₹1200 तक का Extra Cash Discount

Discount Coupon Codes