Search Engines – How and Why Developed?

Search Engines को Web Search Engines भी कहा जाता है क्‍योंकि सामान्यत: ये ऐसे Online Software होते हैं, जो World Wide Web पर किसी Information को Search करने का काम करते हैं।

ये Search Engines विभिन्न प्रकार के Word Combinations जिन्हें Keywords कहते हैं, के आधार पर Web पर उपलब्ध विभिन्न प्रकार की Information से सम्बंधित Web Pages का एक Index Create करके अपने Database में Store कर लेते हैं और जब हम उस Particular Information से सम्बंधित Webpage को Search करने के लिए इन Search Engines में किसी Keyword को Use करते हैं, तो ये Search Engines उस Particular Keyword के लिए Store किए गए सभी Indexed Pages के Links की List को Results के रूप में हमारे सामने SERP (Search Engine Result Page) की तरह Display कर देते हैं। Search Engines किसी Searching Operation के Response में SERP पर जो Results Render करते हैं, वे Webpages के Links, Images व Videos आदि का Mixture हो सकते हैं।

Google, Yahoo, Bing जैसे कुछ Modern Search Engines Web पर Upload किए जाने वाले प्रत्येक नए Content को जल्दी से जल्दी Index करने के लिए ऐसे Automated Algorithms आधारित Programs Use करते हैं जिन्हें Web Crawler के नाम से जाना जाता है।

ये Search Engines वास्तव में Search Engine होते हैं, जबकि कुछ अन्‍य प्रकार के Search Engines स्वयं अपने स्तर पर कोई Searching Perform नहीं करते, बल्कि इन्हीं बडे Search Engines द्वारा Search किए जाने वाले Results को अलग तरीके से Render कर देते हैं। इस प्रकार के Search Engines को Meta Engines या Meta Search Engines कहते हैं।

उदाहरण के लिए http://www.webcrawler.com/http://www.ask.com/ ऐसे ही Meta Engines है, जो स्वयं अपने स्तर पर कोई Searching Perform नहीं करते, बल्कि जब User इन Meta Engine को Use करते हुए किसी Information की Searching करने के लिए इनमें किसी Keyword को Specify करके Searching करते हैं, तो ये Meta Engines उसी Keyword को Google, Yahoo व Bing पर Fire कर देते हैं व Return होने वाले Results को ही Modified तरीके से Output में Display कर देते है।

Web की शुरूआत से लेकर अब तक कई Search Engines Develop हुए लेकिन वर्तमान समय में Google व Yahoo के रूप में केवल दो ही Search Engines सर्वाधिक Use किए जाते हैं, जहां Yahoo वास्तव में Bing + Yahoo है। यानी Yahoo Search Engine Backend में Microsoft के MSN के Modified Searching Software Bing को ही Use करता है।

जबकि Google व Yahoo के अलावा और भी कुछ Search Engines हैं जो या तो Google व Yahoo के कारण अब पूरी तरह से Use होना बन्द हो गए हैं या फिर कोई विशेष Popular नहीं रह गए हैं। फिर भी कुछ Search Engines निम्नानुसार हैं, जिनके विषय में जानना हमारे लिए Search Engines व Web के विकास को समझने में भी सहायक हैं-

Archie

World Wide Web के विकास के साथ ही जब Web का विस्तार होने लगा और Information को Search करना मुश्किल होने लगा, तो एक ऐसे Online Software की जरूरत महसूस की गई जो World Wide Web के रूप में Internet पर Stored विभिन्न प्रकार की Information की Indexing कर सके, ताकि किसी Specific विषय से सम्बंधित Information को ज्यादा से ज्यादा आसानी व तेज गति से प्राप्त किया जा सके और इस दिशा में काम करते हुए जो सबसे पहला Search Engine बनाया गया था, उसी का नाम Archie है।

ये Search Engine वास्तव में Public Uploaded FTP Sites पर Uploaded सभी Files व Directories की Listing Create करता था और File Names के अनुसार अपने Database में Store कर लेता था। हालांकि Archie स्वयं इन Searchable Contents की Indexing नहीं करता था, क्‍योंकि उस समय Web पर काफी कम Data उपलब्ध थे, इसलिए वे सभी Indexed तरीके से ही Search होते थे।

Infoseek

Infoseek अपने समय का काफी Popular Search Engine था जिसे Steve Kirsch ने 1994 में विकसित किया था। Infoseek को मूलत: Infoseek Corporation द्वारा Develop किया गया था जिसे बाद में The Walt Disney Company द्वारा 1998 में खरीद लिया गया था और बाद में इसी Infoseek की Technology को Go.com नाम का नया Search Engine Develop करने के लिए Use किया गया था। बाद में इस Go.com को Yahoo द्वारा खरीद लिया गया और वर्तमान समय में Infoseek एक पूरी तरह से Dead Search Engine हैं, जिसे कोई Use नहीं करता।

Infoseek पहला Search Engine था जो CPM (Cost Per Mile) के आधार पर Advertising Sell करके अपनी Earning करता था और बाद में इसी Infoseek ने सबसे पहले CPC (Cost Per Click), तथा Popup Ads के माध्‍यम से Advertisers की Advertising करने का तरीका Develop किया था।

Popup को छोडकर CPM व CPC तरीके को वर्तमान समय के सबसे बडे Search Engines Google व Yahoo भी Use करते हैं और ये तरीके ही इन दोनों Search Engines के Online Income का भी सबसे मुख्‍य Source हैं।

Veronica

Veronica नाम के Search Engine को 1992 में Steven FosterFred Barre ने Gopher Protocol के लिए Develop किया था और जब तक ये Search Engine Exist था, तब तक ये Constant तरीके से हजारों Gopher Servers के लगभग सभी Menu Items को अपने Database में Update करता था। इसलिए इस Search Engine पर हमेंशा लगभग Latest Information प्राप्त होती थी।

वर्तमान समय में Original Veronica Database उपलब्ध नहीं है क्‍योंकि Gopher Protocol की तरह ही ये भी पूरी तरह से Disappear हो चुका है।

Veronica वास्तव में एक Sentence “Very Easy Rodent Oriented Newide Index to Computer Achieves” का Abbreviation यानी संक्षिप्त रूप था, जिसे FTP के रूप में ही Match करते हुए Searching के लिए तय किया गया था।

इनके अलावा और भी बहुत सारे Search Engines बनाए गए थे जो कि Different प्रकार की जरूरतों को पूरा करते थे लेकिन 1993 तक World Wide Web के लिए एक भी Search Engine नहीं बनाया गया था, हालांकि कई अन्‍य Manual तरीकों से Web पर Exist विभिन्न Sites के Catalog को Manually Maintain किया जाता था। लेकिन क्‍योंकि World Wide Web वास्तव में Hyperlinks पर आधारित था, इसलिए ऐसे Program Create किए जा सकते थे जो विभिन्न Linked Documents की List तैयार कर सकें और उन्हें एक व्‍यवस्थित क्रम Place करते हुए उनकी Indexing कर सकें।

परिणामस्वरूप Web पर उपलब्ध Documents की Indexing करने के लिए सबसे पहला Indexing Program बनाया गया और उसे “Wandex” नाम दिया गया और वर्तमान समय के सभी Search Engines भी मूल रूप से इसी Wandex के Concept पर ही काम करते हुए Webpages की Crawling, IndexingSearching करते हैं।

Download All EBooks

सभी हिन्दी EBooks के DEMO DOWNLOAD LINKS प्राप्‍त करें, अपने EMail पर।

Register करके Login करें। इस Popup से छुटकारा पाएें।