Searching – Internal and External

Searching – Internal and External – जिस प्रकार से किसी Telephone Directory में किसी नाम से Telephone Number खोजते हैं या किसी Telephone Number से नाम खोजते हैं, या किसी Student के Roll Number द्वारा Student का Record खोजा जाता है, ठीक इसी प्रकार से एक Key द्वारा किसी भी Data Structure से उस Key से सम्बंधित सारी जानकारी प्राप्त की जा सकती है।

जैसे यदि हमें Telephone Directory से 223344 Number किस व्‍यक्ति का है और वह व्‍यक्ति कहां रहता है, ये जानना हो, तो हम इस Number को Telephone Directory के हर Number से Compare करते हैं, और जहां ये Comparison एकदम मेल करती है, सम्बंधित व्‍यक्ति का नाम पता आदि हम जान लेते हैं।

इस प्रकार से ये Telephone Number एक Key के रूप में Use किया जाता है, जो बाकी की सम्बंधित जानकारी दे देता है। यही प्रक्रिया हम Data Structure के साथ भी करते हैं। Computer में Searching दो प्रकार की होती है-

Internal Search

जब सभी Records Computer की Main Memory में होते हैं, तो Main Memory से की जाने वाली Searching Internal Search कहलाती है।

 

External Search

जब Records बडे होते हैं व Records की संख्‍या अधिक होती है, तब Records को Hard disk पर संग्रहित कर लिया जाता है। फिर इस Hard Disk से Searching की जाती है। इस Searching को External Searching कहा जाता है। Internal Searching के भी दो भाग हैं। (Searching – Internal and External)

Insertion Sort in Data Structure
Linear Searching using Array

Data Structure and Algorithmes in Hindiये Article इस वेबसाईट पर Selling हेतु उपलब्‍ध EBook Data Structure and Algorithms in Hindi से लिया गया है। इसलिए यदि ये Article आपके लिए उपयोगी रहा, तो निश्चित रूप से ये पुस्तक भी आपके लिए काफी उपयोगी साबित होगी। 

Data Structure and Algorithms in Hindi | Page: 433 | Format: PDF

BUY NOW DOWNLOAD READ ONLINE

Special Discount Offer

खरीदिए एक से ज्‍यादा EBooks, और पाईए ₹100 से ₹1200 तक का Extra Cash Discount

Discount Coupon Codes