WordPress Plugin Development Tutorial

WordPress Plugin Development Tutorial – WordPress में किसी Plugin को Create करना काफी सरल है। WordPress के सभी Plugins हमेंशा /wp-content/plugins/ Folder में Store होते हैं। इसलिए यदि हम हमारा स्वयं का Custom Plugin Create करना चाहते हैं, तो हमें भी हमारे Plugin File को इसी Folder में Create करना जरूरी होता है।

जब हम Custom Plugin Create करना चाहते हैं, तब भी हमें ठीक उसी तरह से अपनी File में Comments की तरह कुछ Headers को Specify करना होता है, जिस तरह से Custom Theme Create करते समय style.css File में हमें कुछ Custom CSS Headers को Specify करना होता है। क्योंकि इसी Custom Headers का प्रयोग WordPress हमारे Theme को Identify करने के लिए करता है।

इन Custom Headers के रूप में सबसे जरूरी Header वह नाम होता है, जो हम हमारे Plugin के साथ Set करना चाहते हैं। यानी हमारे Plugin का नाम सबसे महत्वपूर्ण Header होता है, जबकि अन्‍य Descriptions को यदि Specify न भी किया जाए, तब भी WordPress हमारे Plugin को एक Value Plugin की तरह Treat करता है। फिर भी निम्नानुसार किसी भी Plugin के विभिन्न Headers को Specify कर देना हमेंशा अच्छा रहता है:

File Name: /wp-content/plugins/my-plugin/my-plugin.php
<?php 
/*
Plugin Name: My Custom Plugin
Plugin URI: https://www.bccfalna.com/wpplugins/my-plugin/
Description: This is my First Custom Plugin to understand the WP Hook System to Extend the Core Functionality of the WP Core.  
Author: Kuldeep Chand
Version: 1.0
Author URI: https://www.bccfalna.com/
*/

नया Plugin Create करने के लिए हमने /wp-content/plugins/ नाम के Folder में my-plugin नाम का एक Folder Create किया है, ताकि हमारे Plugin से सम्बंधित सभी Resources इसी Folder में रहे और इसी Folder में हमने my-plugin.php नाम की एक PHP File Create की है, क्योंकि हमारे Plugin से सम्बंधित सभी मुख्‍य Codes हमें इसी File में लिखने हैं।

हालांकि हम Plugin के रूप में किसी भी नाम की File Create कर सकते हैं, लेकिन जिस File को हम हमारे Plugin के Gateway की तरह Use करना चाहते हैं, उसी File में हमें Plugin Related विभिन्न Headers PHP Comment की तरह Specify करने होते हैं, जबकि इसी File में हम हमारी जरूरत के अनुसार अन्‍य Code Files को Include या Import कर सकते हैं।

चूंकि हमने my-plugin.php नाम की File में ही उपरोक्तानुसार विभिन्न Plugin Headers Specify किए हैं, इसलिए हमारे my-plugin नाम के Plugin का मूल Gateway File my-plugin.php ही है।

जब हम किसी File में उपरोक्तानुसार विभिन्न Plugin Header Information Specify कर देते हैं, तो उस Information के आधार पर हमारा Newly Created Plugin हमारे WordPress Dashboard => Plugins => Installed Plugins Panel में निम्न चित्रानुसार दिखाई देने लगता है:

जहां हम हमारे Newly Created Plugin को Activate, Deactivate, Edit या Delete कर सकते हैं।

चूंकि हम जो Plugin File Create करते हैं, वह एक PHP File होती है और PHP File में विभिन्न PHP Codes को <?php … ?> Element के बीच Enclose किया जाता है। हालांकि WordPress Plugin Create करते समय Create की जाने वाली Plugin File में <?php Opening Tag को Specify करना तो Compulsory होता है, लेकिन ?> Closing Tag को Specify करना Compulsory नहीं होता।

बल्कि जब हम ?> Closing Tag को Specify नहीं करते, तब WordPress स्वयं ही उपयुक्त स्थान पर Closing Tag को Use करते हुए हमारे Plugin के PHP Codes के लिए Closing Tag Specify कर लेता है।

लेकिन यदि हम ?> Closing Tag को Specify करते हैं, तो हमें हमेंशा इस बात का ध्‍यान रखना होता है कि इस Closing Tag के बाद कोई भी Whitespaces Character जैसे कि Tab, Space या Enter Key नहीं होना चाहिए, अन्‍यथा हमारा पूरा WordPress Blog/Site Crash हो जाता है।

WordPress Event Driven Programming Model
WP Plugin Activation Hook - Deactivation Hook

WordPress in Hindi - BccFalna.comये Article इस वेबसाईट पर Selling हेतु उपलब्‍ध EBook Advance WordPress in Hindi से लिया गया है। इसलिए यदि ये Article आपके लिए उपयोगी है, तो निश्चित रूप से ये EBook भी आपके लिए काफी उपयोगी साबित होगी।

Advance WordPress in Hindi | Page: 835 | Format: PDF

BUY NOW DOWNLOAD READ ONLINE

Special Discount Offer

खरीदिए एक से ज्‍यादा EBooks, और पाईए ₹100 से ₹1200 तक का Extra Cash Discount

Discount Coupon Codes